Tuesday, March 5, 2024

कोरोना के बाद अब इस वायरस का खतरा बढ़ा, 26 मार्च तक स्कूल बंद…बच्चे और बुजुर्ग रहे सावधान…

कोरोना के बाद अब एक नये वायरस से कोहराम मचाया हुआ है। नये वायरस का नाम H3N2 (एन्फ्लूएंजा वायरस) है। ये वायरस देश मे तेजी से फैल रहा है, इसे लेकर सभी राज्य की सरकार अलर्ट मोड पर है। इसके लक्षण भी कोरोना की तरह ही है। इस वायरस से पीड़ित मरीज को बुखार, खांसी, सिरदर्द, शरीर में दर्द, डायरिया सहित फ्लू आते है। इसका असर खासकर के बच्चों और बुजुर्गों पर हो रहा है।

बताया जा रहा है कि मौसम में हुए बदलाव की वजह से वायरस के फैलने का खतरा ज्यादा होता है। संक्रमण से बचने के लिए व्यक्ति की इम्युनिटी पॉवर मजबूत होना जरूरी है।

पांडुचेरी में इस वायरस का प्रकोप इतना है कि स्कूलों को 26 मार्च तक बंद करा दिया गया है। जयपुर में 170 से ज्यादा बच्चे इस बीमारी की चपेट में है। कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने भी राज्य में मामलों को लेकर लोगों को सावधान रहने कहा है। पटना में भी कुछ मामले मिले है। महाराष्ट्र सरकार ने भी राज्य के सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रहने को कहा है. साथ ही लोगों को भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचने की अपील की है। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस वायरस के चलते बच्चों और बुजुर्गों को सावधानी बरतने को कहा है।

इस वायरस चपेट में आकर एक गुजरात के वडोदरा निवासी एक महिला की मौत हो गई। महिला की उम्र 58 साल थी और वह वडोदरा के SSG अस्पताल में भर्ती थीं। गुजरात से पहले कर्नाटक, पंजाब और हरियाणा में H3N2 वायरस से मौत की पुष्टि हुई है। हालांकि, सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 3 लोगों की मौत ही इस संक्रमण से हुई है।

एम्स के मेडिसिन डिपार्टमेंट के प्रोफेसर पीयूष रंजन कहते हैं कि कोविड निचले रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट यानी श्वसन पथ को प्रभावित करता है। जबकि H3N2 ऊपरी रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट को प्रभावित करता है। जैसे बुखार, खांसी, सर्दी, गले, नाक और आंखों में जलन का लंबे समय तक बने रहना. दरअसल, दोनों के लक्षण समान हैं और यह तेजी से फैल रहा है।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang