•     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज जगदलपुर के लालबाग मैदान में झीरम घाटी में शहीद हुए जनप्रनिधियों एवं जवानों की याद में बनाए गए झीरम घाटी शहीद स्मारक का लोकार्पण किया।
  •     मुख्यमंत्री ने झीरम घाटी शहीद मेमोरियल परिसर में ही 100 फीट ऊंचे तिरंगे का ध्वजारोहण किया।
  •     मुख्यमंत्री ने झीरम घाटी के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने शहीदों के परिजनों को शाल, श्रीफल और पौधा के रूप झीरम स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।
  •     झीरम मेमोरियल में अपने शहीद पति की प्रतिमा से लिपटकर रो-पड़ी मकदली खलखो।
  •     मकदली खलखो ने मुख्यमंत्री से कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने शहीदों के परिवारों का पूरा ध्यान रखा है। मेरे बेटे को पीडब्ल्यूडी में अनुकम्पा नियुक्ति मिल गई है।
  •     मुख्यमंत्री ने झीरम शहीद दिवस पर नक्सलवाद और हिंसा का विरोध करने की दिलाई शपथ।
  •     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज नानगुर में हिंगल माता गुड़ी परिसर में  हिंगल माता, परदेशिन माता, लोजार माता के दर्शन किये।
  •     धुरवा समुदाय के लोगों द्वारा धुरवा पगड़ी पहनाकर मुख्यमंत्री का किया स्वागत। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने 30 बैगा, गुनिया, सिरहा को सम्मान स्वरूप धोती, कुर्ता गमछा भेंट किया।
  •     साधना कश्यप ने मुख्यमंत्री को बताया कि कवल्ली कला गैठान में चाँदनी स्व-सहायता समूह के 10 सदस्य हैं, हम लोग वर्मी काम्पोस्ट बनाते है। एक लाख 80 हजार का व्यवसाय हुआ है, अभी भुट्टा उगाए है। साधन कश्यप से मुख्यमंत्री ने स्वयं जाकर भुट्टा लिया।
  •     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज नानगुर ग्राम पंचायत में किसान श्री नीलू राम बघेल के घर पर ठेठ बस्तरिया भोजन का स्वाद लिया।
  •     मुख्यमंत्री को सरई पत्ते से बने पत्तल और दोने में चावल, अरहर की दाल, रोटी, (कोलियारी भाजी$देशी चना), लाल भाजी, (मुनगा भाजी$चना दाल), हिरवा (कुल्थी) की दाल$केऊ कांदा की सब्जी ,आम की चटनी, मड़िया पेज परोसा गया।
  •     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने नानगुर क्षेत्रवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से ऑक्सीजन, लाइफ सपोर्ट सिस्टम सहित सर्वसुविधायुक्त वातानुकूलित एम्बुलेंस की सौगात दी।
  •     मुख्यमंत्री ने मंगलपुर में छिंद पत्ते और बांस के छ्प्पर के नीचे की लोगों से भेंट-मुलाकात। जामुन, छिंद और पोशम पत्ते के छायादार मंडप ‘मांडो चापर’ में लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई थी।
  •     मुख्यमंत्री ने मंगलपुर में पपीता का खेत देखा।
  •     मुख्यमंत्री को पपीता की खेती करने वाली महिला समूह की सदस्य हेमवती कश्यप ने खेती के बारे में बताया कि 43 महिलाएँ 10 एकड़ में बंजर और पथरीली ज़मीन पर पपीता लगाया है। दस महीने में 300 टन उत्पादन 40 लाख का व्यवसाय किया है। हेमवती ने कहा- हम सीखेंगे- सबको सिखाएँगे और यहाँ से पलायन रोकेंगे।
  •     मुख्यमंत्री सुपोषण योजना से लाभान्वित हितग्राही राजेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि ‘ना काशी-ना काबा, साक्षात आ गए न्याय वाले बाबा’।
  •     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने जय माँ दंतेश्वरी पपीता उत्पादक समिति तीरथगढ़ की महिलाओं को पिकअप एवं मिनी ट्रैक्टर की चाबी सौपी।
  •     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को सर्व आदिवासी समाज के प्रतिनिधियों ने महुआ फूल, सियाड़ी बीच की माला एवं पारम्परिक पगड़ी पहनाकर स्वागत किया और तीर-कमान भेंट की।
  •     मंत्री श्री कवासी लखमा एक बार फिर बने दुभाषिया, गोंडी में महिला की बात को बताया मुख्यमंत्री को।
  •     चंदामेटा गाँव की महिला  ने बताया की गाँव में पिछले 15 साल से कोई शासकीय योजना नहीं चल पा रही थी। गाँव में कोई नहीं आता था सिर्फ़ अंदर वाले आते थे.. अब गाँव में स्कूल खुल गया है, राशन कार्ड बन गए है. राशन मिल रहा है, मितनिन आती है, इसके लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद।
  •     मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का मंगलपुर पहुंचने पर दंतेश्वरी महिला स्व- सहायता समूह की महिलाओं ने बांस और सियाड़ी पत्तों से बनी छतरी पहनाकर स्वागत किया।
  •     समूह की महिलाओं ने फलों और सब्जी की टोकरी भेंट की।
  •     मुख्यमंत्री ने नेशनल पार्क एरिया में पहली बार वन संसाधन अधिकार मान्यतापत्र देने की घोषणा।
  •     मुख्यमंत्री द्वारा बस्तर चेम्बर ऑफ कॉमर्स और रोटरी क्लब द्वारा निर्मित देश का पहला निःशुल्क रोजगार एप्प ‘जॉब रोटरी एप्प’ का किया लोकर्पण।
  •     मुख्यमंत्री ने दी बस्तर पुलिस को ‘आमचो कुटुम्ब’ की सौगात।