Connect with us

राज्य एवं शहर

छत्तीसगढ़ : अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर CM बघेल ने ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण’ कार्यक्रम को सम्बोधित किया 

Published

on

Share This Now :

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की जैव विविधता छत्तीसगढ़ का गौरव है। मुख्यमंत्री आज यहां अपने निवास कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण‘ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

मुख्यमंत्री ने कहा कि जैव विविधता के संरक्षण और संवर्धन के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाये गए हैं। छत्तीसगढ़ में मनेंद्रगढ़ के निकट हसदेव नदी के तट पर समुद्री फॉसिल्स पाए गए हैं। राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के इस स्थान के संरक्षण के लिए अगले महीने से यहां गोंडवाना मेरिन फॉसिल्स पार्क का काम भी शुरु हो जाएगा।

सीएम बघेल ने कहा कि राज्य की जैव विविधता प्रबंधन समितियों को आर्थिक संसाधन उपलब्ध कराने के लिए वर्ष 2020-21 से जैव विविधता संरक्षण हेतु नए बजट मद का सृजन किया गया है। इससे इन समितियों को हर वर्ष राशि उपलब्ध होगी। इसी तरह राज्य शासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि किसी भी वनोपज के विक्रय मूल्य की 02 प्रतिशत राशि स्थानीय जैव विविधता समिति को दी जाए। केवल तेंदूपत्ता के विक्रय से प्रतिवर्ष लगभग 1000 करोड़ रुपए प्राप्त होते हैं। इस तरह जैव विविधता प्रबंधन समितियों को हर साल केवल तेंदूपत्ता से लगभग 20 करोड़ रुपए की राशि प्राप्त होने की संभावना है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण‘ कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की जैव विविधता पर केन्द्रित दो लघु वृत्त चित्रों का लोकार्पण किया।

उन्होंने मनेन्द्रगढ़ वनमण्डल द्वारा तैयार किए जा रहे मैरिन फॉसिल्स पार्क पर आधारित फिल्म ‘छत्तीसगढ़ में जीवन चिन्ह: मानव अस्तित्व के परे‘ तथा राज्य के वनक्षेत्रों में पाए जाने वाले शैल चित्रों (केव पेन्टिंग्स) पर आधारित फिल्म ‘प्रथम अभिव्यक्ति‘ का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण‘ कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की जैव विविधता पर विभिन्न लेखकों की 6 पुस्तकों का विमोचन किया।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की जैव विविधता पर 6 पुस्तकों का किया विमोचन

मुख्यमंत्री बघेल ने कार्यक्रम में लेखक डॉ. शिवाजी चवन की पुस्तक ‘छत्तीसगढ़ स्टेट बायोडायवर्सिटी स्ट्रेटेजी एण्ड एक्शन प्लान 2022-30‘, भारतीय वन सेवा के अधिकारी श्री रामकृष्णा की गुरू घासीदास टाईगर रिजर्व में गुफा शैल चित्रों पर केन्द्रित पुस्तक ‘शेड्स ऑफ पास्ट‘, श्री गौरव निहलानी, श्री ज्ञानेन्द्र पाण्डेय, वसुन्धरा प्राकृतिक संरक्षण समिति की पुस्तक ‘छत्तीसगढ़ में ईको पर्यटन – संभावनाएं एवं चुनौतियां‘, श्री शैलेन्द्र उईके और भारतीय वन सेवा के श्री श्रीनिवास टी. की पुस्तक ‘अ फिल्ड गाईड टू फॉरेस्ट ग्रासेस ऑफ छत्तीसगढ़‘, डॉ. विवेक कुमार सिंघल तथा डॉ. हेमकांत चंद्रवंशी अंकित सेवा संस्थान की पुस्तक‘ बायोडायवर्सिटी इन छत्तीसगढ़्स स्वाईल‘ तथा ‘इनसेक्ट बायोडायवर्सिटी ऑफ छत्तीसगढ़‘ का विमोचन किया।

मुख्यमंत्री निवास में वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, कृषि मंत्री श्री रविंद्र चौबे, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रुद्र कुमार, विधायक श्री शैलेष पांडेय और राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष श्री रामगोपाल अग्रवाल, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख श्री राकेश चतुर्वेदी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम प्रदेश के विभिन्न जिलों के वन विभाग के अधिकारी और विशेषज्ञ भी शामिल हुए।

श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जैव विविधता बोर्ड का गठन वर्ष 2006 में कर लिया गया था, लेकिन इसके काम को प्रभावी तरीके से आगे बढ़ाने के लिए वर्ष 2020 में इसका पुनर्गठन किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जन जैव विविधता पंजी तैयार करने के काम में भी अच्छी प्रगति हुई है। गिधवा परसदा क्षेत्र में पक्षी जागरुकता एवं प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना की जा रही है। जैव विविधता संरक्षण के कामों को गति देने के उद्देश्य से राज्य शासन ने दिसंबर 2021 में राज्य वेटलैंड अथॉरिटी को पुनर्गठित किया गया है। इसी तरह प्रवासी पक्षियों के संरक्षण के 07 वैटलैंड की सर्वे रिपोर्ट तैयार हो चुकी है। राज्य के वनक्षेत्रों के कई जिलों में प्रागैतिहासिक काल के भित्त-चित्र मिले हैं, इन्हें भी संरक्षित करने की योजना तैयार की जा रही है।

वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि जैव विविधता का संरक्षण और संवर्धन पर्यावरण संतुलन के लिए भी बहुत आवश्यक है। इसके असंतुलन से बाढ़, सूखा, तूफान जैसी आपदाओं का खतरा बढ़ता है। उन्होंने कहा कि गिधवा-परसदा में चिड़ियों के संरक्षण के लिए पार्क विकसित किया जा रहा है। यहां देश-विदेश के 150 प्रकार के पक्षी आते हैं। श्री अकबर ने कहा कि राज्य के स्थानीय निकायों में 12 हजार 04 जैव विविधता प्रबंधन समितियों का गठन किया जा चुका है। ग्राम पंचायतों में लगभग 4246 जन जैव विविधता पंजी तैयार हो चुकी है, जो आने वाली पीढ़ियों के लिए उपयोगी होगी। उन्होंने कहा कि जैव विविधता के संरक्षण और संवर्धन के कार्याें को गति मिलने से रोजगार के अवसर बढे़ंगे, पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और लोगों में जागरूकता आएगी। वन विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ की समृद्ध जैव विविधता को संरक्षण करने के लिए लोगों में जागरूकता लाने आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान जैव विविधता, पालतू पशुओं के संरक्षण, जैव सांस्कृतिक विविधता के संरक्षण के क्षेत्र में काम कर रही संस्थाओं, व्यक्तियों एवं जैव प्रबंधन समितियों के लिए पुरस्कार घोषित किए। कार्यक्रम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े वनमंडलाधिकारियों द्वारा सम्बन्धितों को पुरस्कृत किया। ये पुरस्कार वन्य प्राणियों के संरक्षण एवं पालतू प्रजातियों के संरक्षण, जैव संसाधनों का पोषणीय उपयोग, सभ्यता संस्कृति एवं धरोहर से जैव विविधता संरक्षण तथा श्रेष्ठ जैव विविधता प्रबंधन समिति की श्रेणियों में दिए गए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर वन विभाग द्वारा मनेंद्रगढ़ फॉसिल पार्क, रॉक आर्ट पर आधारित- प्रथम अभिव्यक्ति एवं प्रस्तावित पक्षी जागरुकता संबंधी तैयार किए गए लघु वृत्त चित्रों का लोकार्पण तथा जैव विविधता से संबंधित 06 किताबों का विमोचन किया।

कार्यक्रम में अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं छत्तीसगढ़ जैव विविधता बोर्ड के सचिव श्री अरूण कुमार पाण्डेय ने बोर्ड के कार्याें के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी संरक्षण) श्री पी. व्ही. नरसिम्हा राव वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के सचिव श्री प्रेम कुमार भी उपस्थित थे। बीरबल साहनी पुरा विज्ञान संस्थान लखनऊ के विशेषज्ञ डॉ. सुरेश कुमार पिल्लई और शैल चित्र विशेषज्ञ डॉ. मीनाक्षी दुबे पाठक भी कार्यक्रम से वर्चुअल माध्यम से जुड़ी।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :

राज्य एवं शहर

कफन रैली में बेहोश हुई महिला, अनुकंपा नियुक्ति के लिए विधवा महिलाओं ने निकाली रैली

Published

on

Share This Now :

रायपुर. अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर 42 दिनों से विधवा महिलाएं राजधानी में धरने पर बैठी हैं. इन्होंने आज कफन रैली निकाली. ये वो महिलाएं हैं, जिनके पति पंचायत स्तर के स्कूलों में पढ़ा रहे थे. किसी की हादसे में मौत हो गई तो किसी को बीमारी ने छीन लिया. अब इन महिलाओं का कहना है कि पति की जगह सरकारी नौकरी दी जाए.

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

अनुकंपा नियुक्ति शिक्षाकर्मी कल्याण संघ का अनशन एक सूत्रीय मांग को लेकर पिछले 42 दिनों से जारी है. विधवा महिलाओं ने आज अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर कफन रैली निकाली. रैली के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल भी मौजूद रहे. रैली के दौरान महिला घायल हुई, जिसे एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया.

अनुकंपा नियुक्ति शिक्षाकर्मी कल्याण संघ ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि मांग पूरी नहीं हुई तो विधानसभा के शीतकालीन सत्र में विधवा महिलाएं मुंडन करवाएंगी. इससे पहले महिलाएं खप्पर रैली, जल समाधि, कफन रैली निकाल चुकी हैं. प्रदेशभर से पहुंची विधवा महिलाओं का कहना है कि पंचायत शिक्षकों की मौत के बाद परिवार के किसी भी सदस्य को अब तक अनुकंपा नियुक्ति नहीं मिली है. कोई तीन साल से तो कोई चार साल से भटक रहा है.

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Continue Reading

क्राइम

महादेव ऐप का सबसे बड़ा बुकी गिरफ्तार, दुबई में होने की अफवाह फैलाई, मगर भारत में ही छिपा था, दबाव बढ़ा तो खुद सरेंडर किया

Published

on

Share This Now :

दुर्ग पुलिस का ऑनलाइन सट्टा महादेव ऐप के खिलाफ कार्रवाई जारी है। इसकी वजह से बड़े सटोरियों में दहशत है। हालत यह है कि अब उन्होंने खुद ही पुलिस के सामने सरेंडर करना शुरू कर दिया है। इसी के चलते दुर्ग पुलिस महादेव ऑनलाइन सट्टा से जुड़े अब तक के सबसे बुकी सतनाम सिंह को गिरफ्तार कर पाई है। उसने दुर्ग पुलिस के सामने खुद ही सरेंडर कर दिया है। पुलिस का दावा है कि वह जल्द ही इस ऐप के सबसे बड़े सरगना सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल को भी गिरफ्तार कर लेगी।

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

मामले का खुलासा करते हुए दुर्ग एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि महादेव ऐप के बड़े बुकी सतनाम सिंह की पुलिस को काफी दिनों से तलाश थी। अक्टूबर 2022 में कोहका क्षेत्र में पुलिस ने महादेव सट्टा पर बड़ी कार्रवाई की थी। इसमें सतनाम फरार हो गया था।

इसके बाद से वह स्थान बदल-बदल कर रह रहा था। इस दौरान सतनाम कई राज्यों में भी छिपकर रहा और उसने अफवाह भी फैला दी कि वो दुबई जाकर बैठ गया है। इसके बाद भी पुलिस ने जांच धीमी नहीं की। सतनाम से जिनके भी संपर्क थे उनकी कॉल डिटेल्स खंगालकर पुलिस उसका पीछा करती रही। इससे वह सरेंडर करने के लिए मजबूर हो गया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से 2 मोबाइल फोन और पासपोर्ट जब्त किया है। उससे पता चला कि सतनाम सिंह दुबई गया ही नहीं, वह भारत में ही अलग-अलग राज्यों में छिपकर रह रहा था।

कोहका में हुई कार्रवाई में आया था सतनाम का नाम
22 अक्टूबर 2022 को हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी कोहका में महादेव ऐप की एक ब्रांच पकड़ाई थी। इसें पुलिस को आरोपियों के पास से लैपटॉप, मोबाइल और बैंक खाता व एटीएम मिले थे। इसमें करोड़ों रुपए के ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की डिटेल्स भी सामने आई थी। पकड़े गए आरोपी मुकेश कुमार, दीपक और श्रीकांत पुलिस को बताया था कि जामुल निवासी नसीमुद्दीन उर्फ नसीम व शांति नगर निवासी सतनाम सिंह के साथ मिलकर वो लोग काम करते हैं। इसके बाद से दोनों आरोपी फरार चल रहे थे। नसीमुद्दीन को पुलिस ने बीते 15 नवंबर को गिरफ्तार किया तो वहीं सतनाम सिंह ने मंगलवार को पुलिस के सामने खुद से सरेंडर कर दिया।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Continue Reading

राज्य एवं शहर

छत्तीसगढ़ में पानी से बिजली बनाने की बड़ी योजना

Published

on

Share This Now :

छत्तीसगढ़ में पानी से 7700 मेगावाट बिजली बनाने की नई तकनीक पर काम शुरू हुआ है। यह पंप स्टोरेज हाइडल इलेक्ट्रिक प्लांट है। इसके लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट-DPR बनाने का काम केंद्र सरकार के उपक्रम वॉटर एंड पावर कंसल्टेंसी सर्विसेस – WAPCOS को दिया गया है। छत्तीसगढ़ स्टेट पावर जनरेशन कंपनी और WAPCOS ने इसके लिये समझौते पर हस्ताक्षर कर दिए हैं।

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

पावर कंपनी के रायपुर में डगनिया स्थित मुख्यालय में चेयरमेन अंकित आनंद और प्रबंध निदेशक एनके बिजौरा की मौजूदगी में VAPCOS के सीनियर एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर अमिताभ त्रिपाठी और पावर कंपनी के मुख्य अभियंता एचएन कोसरिया ने करार पर हस्ताक्षर किये हैं। अंकित आनंद ने कहा, भविष्य में बिजली की आवश्यकता को देखते हुए यह तकनीक बेहतर साबित होगी। ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में छत्तीसगढ़ में काफी संभावनाएं हैं। WAPCOS इसकी संभावनाओं पर रिपोर्ट देगी।

पावर कंपनी प्रबंध निदेशक एनके बिजौरा ने बताया, प्रदेश के पांच स्थानों को पंप स्टोरेज जल विद्युत परियोजना के लिए चिह्नित किया गया है। इसमें हसदेव बांगो कोरबा और सिकासेर जलाशय गरियाबंद में 1200-1200 मेगावाट की परियोजना संभावित है। जशपुर के डांगरी में 1400 मेगावाट व रौनी में 2100 मेगावाट तथा बलरामपुर के कोटपल्ली में 1800 मेगावाट बिजली उत्पादन होने की संभावना है। इसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट व डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (DPR) बनाने का कार्य WAPCOS करेगी। पंप स्टोरेज जल विद्युत परियोजनाओं की स्थापना हेतु सर्वे, अनुसंधान, स्थल चयन, चिन्हांकन व विकास के लिए छत्तीसगढ़ स्टेट पावर जनरेशन कंपनी को नोडल एजेंसी बनाया गया है।

अधिकारियों ने बताया, इस तकनीक में ऊपर और नीचे पानी के दो स्टोरेज टैंक बनाये जाते हैं। गुरुत्वाकर्षण स्थितिज ऊर्जा (कायनेटिक फोर्स) का उपयोग करते हुए पानी को निचले स्थान पर छोड़कर टरबाइन को घुमाया जाता है, जिससे बिजली पैदा होती है। पुरानी तकनीक वाले जल विद्युत संयंत्रों में पानी नदी में बहा दिया जाता था, लेकिन नई तकनीक में टरबाइन से पानी गिरने के बाद उसे स्टोर किया जाता है और दिन के समय सौर ऊर्जा से मिलने वाली सस्ती बिजली से पानी को फिर से ऊपर वाले टैंक में डाल दिया जाता है। इससे एक ही पानी का उपयोग कई बार बिजली बनाने में किया जा सकता है।

छत्तीसगढ़ में राज्य जल विद्युत परियोजना (पंप स्टोरेज आधारित) स्थापना नीति 2022 बनी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में 6 सितम्बर को हुई कैबिनेट की बैठक में इस नीति को मंजूरी दी गई थी। उस समय कहा गया था, इस तरह की परियोजना लगने से जलाशयों के पानी से बड़ी मात्रा में बिजली बनाई जा सकेगी। इसकी कीमत कोयला आधारित ताप बिजली घरों से सस्ती होगी। वहीं इसके उपयोग से पर्यावरण को भी कम नुकसान होगा।

बताया जा रहा है, दिन के समय बिजली की मांग कम होती है। ऐसे में इसकी कीमत भी कम होती है। इसी समय इस परियोजना का पंप चलाकर पानी को निचले जलाशय से ऊपर वाले जलाशय में डाल दिया जाएगा। रात में बिजली की मांग अधिक होती है, वह महंगी भी होती है। उस समय ऊपर के जलाशय से टरबाइन पर पानी छोड़कर बिजली का उत्पादन किया जाएगा।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Continue Reading

Something New!!!!

RO-NO-12200/24

RO-NO-12200/24

RO-NO-12172/78

RO-NO-12141/77

RO-NO-12111/80





RO-NO-12078/75

Advertisement

Chhattisgarh Trending News

राज्य एवं शहर2 hours ago

कफन रैली में बेहोश हुई महिला, अनुकंपा नियुक्ति के लिए विधवा महिलाओं ने निकाली रैली

रायपुर. अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर 42 दिनों से विधवा महिलाएं राजधानी में धरने पर बैठी हैं. इन्होंने आज...

क्राइम4 hours ago

महादेव ऐप का सबसे बड़ा बुकी गिरफ्तार, दुबई में होने की अफवाह फैलाई, मगर भारत में ही छिपा था, दबाव बढ़ा तो खुद सरेंडर किया

दुर्ग पुलिस का ऑनलाइन सट्टा महादेव ऐप के खिलाफ कार्रवाई जारी है। इसकी वजह से बड़े सटोरियों में दहशत है।...

राज्य एवं शहर4 hours ago

छत्तीसगढ़ में पानी से बिजली बनाने की बड़ी योजना

छत्तीसगढ़ में पानी से 7700 मेगावाट बिजली बनाने की नई तकनीक पर काम शुरू हुआ है। यह पंप स्टोरेज हाइडल...

क्राइम5 hours ago

CG crime: पिता की हत्या कर कुएं में फेंकी लाश,सबूत छिपाने ऊपर से डाली झाड़ियां और कचरा,खून के छींटों ने खोल दी पोल

कोरबा जिले के रजगामार चौकी इलाके में अपने 65 साल के बुजुर्ग पिता की हत्या करने वाले आरोपी बेटे को...

क्राइम8 hours ago

हेड मास्टर ने की छात्रा से गंदी हरकत,लड़की ने बताई आप-बीती, फिर गिरफ्तार

कोंडागांव 30 नवम्बर 2022: छ्त्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में स्थित एक स्कूल के हेड मास्टर ने छात्रा के साथ छेड़छाड़...

Advertisement

CONNECT WITH US :

Country News Today Exclusive3 months ago

MLNC Enactus के प्रोजेक्ट ‘स्नेह’ द्वारा रियूजेबल कपड़े के डायपर उत्पादन से पर्यावरण बचाव के साथ-साथ मिला रहा रोजगार ; जानिए क्या है खासियत?

क्राइम3 months ago

शर्मनाक : रायपुर में नाबालिग ने की अमानवीयता की सारे हदें पार, 5 कुत्तों के ऊपर फेंका एसिड, 2 की मौत, वीडियो आया सामने

क्राइम3 months ago

CG BREAKING : रायपुर के तेलीबांधा तालाब में कूदकर आत्महत्या करने वाले युवक की लाश बरामद ; देखिए वीडियो

बॉलीवुड तड़का - Entertainment3 months ago

MMS Scandal : एमएमएस लीक कांड पर कच्चा बादाम फेम अंजली अरोरा की तीखी प्रतिक्रिया, अभद्र भाषा इस्तेमाल करते हुए कह डाली ये बात : देखिए वीडियो

राज्य एवं शहर3 months ago

CG : दुर्ग में शिवनाथ नदी खतरे के निशान से 15 फीट ऊपर, कई गांव डूबे, शहर में भी घुसा पानी, SDRF ने किया रेस्क्यू ; 4 साल पहले बना पुल धंसा : देखिए वीडियो

Top 10 News

Must Read

Special News1 week ago

CG में बॉलीवुड फिल्म और वेब सीरीज की शूटिंग,खैरागढ़ विश्वविद्यालय बना 1947 के जमाने का महल

रायपुर 21 नवम्बर 2022: छत्तीसगढ़ के शहरों में लाइट कैमरा और एक्शन वाला माहौल देखा जा रहा है। एक बॉलीवुड...

Special News2 weeks ago

फिल्म An Action Hero में जबरदस्त आइटम नंबर करते दिखीं नोरा फ़तेहि

मुंबई 18 नवम्बर 2022: एक्टर आयुष्मान खुराना (Ayushman Khurana) की अपकमिंग थ्रिलर फिल्म ‘एन एक्शन हीरो’ (An Action Hero) के...

Special News2 weeks ago

काफी समय से सुनने में हो रही थी दिक्कत, शख्स ने चेक कराया तो पता चला की 5 साल से फंसा है Earbuds

इंग्लैंड 17 नवम्बर 2022: आज से इस हाईटेक जमाने में हमें कई तरह के सुविधा मिलने लगा है। हेडफोन और...

Special News2 weeks ago

फ्लिपकार्ट ने शुरू की ओपन बॉक्स डिलीवरी, अब नहीं होगी गलत सामान की डिलीवरी

दिल्ली 17 नवम्बर 2022: ऑनलाइन शॉपिंग के बढ़ते क्रेज के बीच कस्टमर्स को डैमेज्ड और गलत प्रोडक्ट्स की डिलिवरी के...

Special News2 weeks ago

बैक टू बैक छत्तीसगढ़ आएंगे बॉलीवुड एक्टर्स:स्वरा भास्कर, राजपाल यादव, जूही परमार जैसे स्टार्स पहुंचेंगे

रायपुर 14 नवम्बर 2022: राजधानी रायपुर और इसके आस-पास के इलाकों में जल्द ही बॉलीवुड स्टार्स का आना-जाना शुरू होने...

Advertisement

Trending