Sunday, February 5, 2023

अपर संचालक सहित सभी कॉलेज के प्राचार्यों को नोटिस जारी, 7 घंटे ड्यूटी करना होगा अनिवार्य

दुर्ग: खुर्सीपार कॉलेज में ताला लगाकार पूरा टीचिंग स्टाफ ड्यूटी से नदारद रहने के मामले को उच्च शिक्षा विभाग ने गंभीरता से लिया है। उच्च शिक्षा विभाग ने अपर संचालक सहित सभी कॉलेज के प्राचार्यों को नोटिस जारी किया है। जारी की गई नोटिस में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि अब सभी कॉलेज के प्राचार्य, प्राध्यापक व अन्य कर्मचारियों को 7 घंटे कॉलेज‎ में ड्यूटी पर रहना अनिवार्य है। छुट्टी पर जाने से एक दिन पहले इसकी सूचना देनी होगी। साथ ही कॉलेज प्रबंधन को यह जानकारी रोजाना सूचना बोर्ड पर चस्पा करनी होगी कि कौन स्टाफ छुट्टी पर है और कौन ड्यूटी पर।

आपको बता दें कि 9 दिसंबर 2022 को अपर संचालक क्षेत्रीय कार्यालय उच्च शिक्षा विभाग ने खुर्सीपार कॉलेज का औचक निरीक्षण किया था। इस दौरान उन्हें कॉलेज में ताला लगा मिला था। वहां प्राचार्य सहित पूरा स्टाफ ड्यूटी से नदारद था। यह देखकर अपर संचालक ने इसकी सूचना उच्च शिक्षा विभाग को भेजी थी। इस पर उच्च शिक्षा विभाग ने अपर संचालक और सभी कॉलेजों के‎ प्राचार्यों को नोटिस जारी किया है। नोटिस में लिखा है कि कॉलेजों में लगातार प्राचार्य, शिक्षक व कर्मचारी‎ छुट्टी पर रह रहे हैं। इसकी सूचना भी उच्चाधिकारियों‎ को नहीं दी जा रही है। अधिकांश कॉलेज अतिथि‎ शिक्षकों के भरोसे चल रहे हैं। यही नहीं उच्च शिक्षा‎ विभाग से मांगी गई जानकारी भी समय पर नहीं भेजी जा रही है। समय पर डाटा उपलब्ध नहीं होने के कारण काम‎ प्रभावित हो रहा है।

नोटिस में उच्च शिक्षा विभाग ने निर्देशित किया है कि अब कॉलेज के प्राचार्य, प्राध्यापक, सहायक प्राध्यापक व‎ अन्य समस्त कर्मचारियों को‎ सुबह 10.30 से शाम 05.30 बजे तक कॉलेज में उपस्थित रहना है।‎ दो पाली में संचालित कॉलेजों में कार्य अवधि प्रथम‎ पाली में सुबह 7.30 से 2.30 बजे तक और दूसरी‎ पाली में सुबह 10:30 से शाम 05.30 बजे उपस्थित‎ रहना है। कॉलेज में पदस्थ समस्त अधिकारी व‎ कर्मचारियों को मुख्यालय में ही रहना है। प्रतिदिन‎ सभी को उपस्थिति पंजी पर हस्ताक्षर करना और बायोमेट्रिक मशीन में उपस्थिति दर्ज कराना अनिवार्य‎ होगा।‎

उच्च शिक्षा विभाग यह भी निर्देश दिया है कि प्राचार्य, शिक्षक व‎ कर्मचारी अवकाश के एक दिन पहले प्राचार्य के साथ-साथ क्षेत्रीय अपर संचालक को भी अवकाश की सूचना‎ दें। विषम स्थिति में सोशल मीडिया ग्रुप में‎ प्राचार्य को जानकारी दें। नोटिस पर चस्पा किया जाए कि कौन छुट्टी पर है और उसकी जगह किस स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई है। खेल अधिकारियों को भी कॉलेज में रहने और रजिस्टर में‎ हस्ताक्षर करने के निर्देश दिए गए हैं। यदि उन्हें खेल गतिविधियों में भाग लेने के लिए जाना है तो उसकी सूचना‎ प्राचार्य को देकर इसकी अनुमति लेनी होगी। कॉलेज में नियमित खेलकूद गतिविधियां‎ संचालित करते हुए क्रीड़ा कक्ष को व्यवस्थित रखने की जिम्मेदारी क्रीड़ा अधिकारी की होगी।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang