Sunday, February 5, 2023

रामचरित मानस पर विवादित बयान,बिहार के शिक्षामंत्री पर भड़के कुमार विश्वास – जानिए क्या था हक़ीक़त

बिहार 12जनवरी 2023: बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर द्वारा रामचरितमानस पर दिए गए बयान पर बवाल जारी है।कवि डॉ. कुमार विश्वास का बड़ा बयान सामने आया है।उन्होंने बिहार के सीएम नीतीश कुमार से रामचरित मानस पर सवाल उठाने वाले शिक्षा मंत्री पर कार्रवाई की बात कही है।कुमार विश्वास ने कहा कि आदरणीय नीतीश कुमार जी, भगवान शंकर के नाम को निरर्थक कर रहे आपके अशिक्षित शिक्षामंत्री जी को शिक्षा की अत्यंत-अविलंब आवश्यकता है। आपका मेरे मन में अतीव आदर है, इसलिए इस दुष्कर कार्य के लिए स्वंय को प्रस्तुत कर रहा हूं।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी पल्ला झाड़ लिया है। नीतीश का कहना है कि उन्हें चंद्रशेखर के बयान की जानकारी नहीं है।

बिहार के पटना में स्थित नालंदा ओपन विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह मे बोलते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि रामचरित मानस लोगों को बांटने वाला ग्रंथ है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि रामचरित मानस में दलितों की शिक्षा पर अलग प्रकार की बात कही गई है। रामचरित मानस की अपने तरीके से व्याख्या करते हुए शिक्षा मंत्री ने दलितों के शिक्षा का इसमें विरोध किए जाने की बात कही है।शिक्षा मंत्री ने कहा, ‘मनुस्मृति में समाज की 85 फीसदी आबादी वाले बड़े तबके के खिलाफ गालियां दी गई। रामचरितमानस के उत्तर कांड में लिखा है कि नीच जाति के लोग शिक्षा ग्रहण करने के बाद सांप की तरह जहरीले हो जाते हैं। यह नफरत को बोने वाले ग्रंथ हैं। एक युग में मनुस्मृति, दूसरे युग में रामचरितमानस, तीसरे युग में गुरु गोलवलकर का बंच ऑफ थॉट, ये सभी देश को, समाज को नफरत में बांटते हैं।

कुमार विश्वास ने दी नसीहत

डॉ. कुमार विश्वास कहते हैं कि भगवान राम का चरित्र हर किसी के लिए अनुकरणीय है। राम राज में किसी भी जाति को लेकर कोई भेदभाव नहीं था।एक प्रदेश का शिक्षा मंत्री भगवान राम की कथा को विद्वेष फैलाने वाला, जहर फैलाने वाला बताए। वे उस विश्वविद्यालय में बात कर रहे थे, जो ज्ञान का आदि स्रोत माना जाता है। हमारे यहां तक्षशिला और नालंदा पुरानी ज्ञानपीठ के रूप में जानी जाती है। वहां शिक्षा मंत्री दीक्षांत समारोह में गए थे। दीक्षांत समारोह में शिक्षा मंत्री इस प्रकार की बातें बोलें, वह अशोभनीय है। डॉ. विश्वास ने कहा कि नीतीश कुमार एक बहुत समरस व्यक्ति हैं। मैं उनका बहुत आदर करता हूं। मेरे प्रति उनका स्नेह भी है। तेजस्वी यादव भी मेरे भाई जैसे हैं। युवा नेता है। बिहार के सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से चंद्रशेखर को मंत्री बनाने की मांग की है। उनसे माफी मंगवाने की मांग की।  बिहार को उनको बड़ी आशाएं हैं। मैं उन दोनों से अनुरोध करता हूं कि ऐसे व्यक्ति को अपने संगठन और अपनी सरकार से बाहर करें।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang