Connect with us

हेल्दी लाइफ

डॉक्टर की सलाह : बुखार-खांसी के बाद सिर-बदन दर्द, कमजोरी और पेट दर्द है कोरोना के नए लक्षण

Published

on

Share This Now :

रायपुर : कोरोना की दूसरी लहर में सिरदर्द नए लक्षण के रूप में सामने आया है। तेज सिरदर्द के साथ स्वाद-गंध महसूस नहीं हो रही है तो कोविड टेस्ट कराना जरूरी हो गया है। हालांकि इस बार भी बुकार और सर्दी-खांसी कोविड के कामन लक्षण हैं। पेटदर्द और उल्टी-दस्त, बेचैनी तथा बेहद कमजोरी की शिकायत कर रहे लोग भी जांच करवाएं तो 70 फीसदी लोग पाजिटिव आ रहे हैं।

हालांकि इन लक्षणों के साथ सांस फूलने की शिकायत भी कोविड का बड़ा संकेत है और ऐसे मरीजों को तो ऑक्सीजन वाले बेड व आईसीयू में रखना पड़ रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि नए ट्रेंड में बुखार आने पर इंतजार किए बिना तुरंत कोरोना जांच जरूरी है। बुखार को इसलिए नजरअंदाज नहीं किया जा सकता क्योंकि अभी बुखार 10 से 12 दिन तक नहीं उतर रहा है। ऐसे में यह अगर कोरोना संक्रमण की वजह से आ रहा हो तो मरीज काफी खतरे में आ सकता है।

प्रदेश में 18 मार्च 2020 में प्रदेश में जब कोरोना का पहला केस राजधानी में आया, तब कोरोना के प्रमुख लक्षणों में गले में खराश व बुखार मुख्य लक्षण होते थे। कई लोगों सर्दी, खांसी व सांस लेने में तकलीफ होने लगी। छह माह लूज मोशन भी मुख्य लक्षणों में शामिल हो गया। चार माह पहले तक स्वाद व सुगंध महसूस न कर पाना, सिरदर्द लक्षण वाले मरीज कोरोना संक्रमित मिलने लगे। नए लक्षणों में कंजक्टिवाइटिस, पेट दर्द, थकान, बेचैनी भी शामिल हो गए।

geeta_medical1
geeta_medical

सिरदर्द-घबराहट दो-तीन दिन रहे तो करवाएं टेस्ट
सीनियर कैंसर सर्जन डॉ. युसूफ मेमन व सीनियर न्यूरो सर्जन डॉ. राजीव साहू के अनुसार गर्मियों के मौसम में सिरदर्द, बेचैनी, घबराहट को सामान्य माना जाता है। कई लोग इसे नजरअंदाज भी कर देते हैं। इन दिनों ऐसे लक्षण वाले मरीज कोरोना पॉजिटिव भी निकल रहे हैं। पेट दर्द व दस्त के लक्षण भी कई मरीजों में देखे जा रहे हैं। ऐसे में किसी व्यक्ति को यदि 2 या 3 दिन से अधिक यह समस्या हो, तो कोरोना जांच करवा लेनी चाहिए।

एक्सपर्ट व्यू….
इन दिनों कोरोना के जो भी मरीज सामने आ रहे हैं, उनमें 70 फीसदी ऐसे हैं जिन्हें सिर में दर्द रहा, बुखार हुआ और सुगंध-स्वाद भी खत्म हो गया। हालांकि इन सबमें कुछ दिन का बुखार काॅमन है। सांस फूलने की दिक्कत वाले मरीज भी काफी संख्या में पहुंच रहे हैं।
-डॉ. आरके पंडा, सदस्य कोरोना कोर कमेटी

Share This Now :
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हेल्दी लाइफ

बाजरा के फायदे : इस सर्दी हेल्थ ही नहीं, ब्यूटी का जिम्मा भी उठाएगा बाजरा

Published

on

Demo Pic
Share This Now :

लाइफस्टाइल डेस्क : बाजरे की रोटी, खिचड़ी, दलिया सर्दियों में खास तौर पर बनाई जाती है। इसके गुण हमें फिट और स्लिम रखने में मदद करते हैं। साथ ही बाजरे का फेस पैक भी हमारी स्किन के लिए भी बेहद असरदार साबित होता है। ठंड के मौसम में त्वचा पर जमी डेड स्किन को कम करने के लिए इस पैक़ का इस्तेमाल करें।

एक चम्मच बाजरे के आटे में 1 चम्मच कच्चा दूध और 1 चम्मच गुलाब जल मिलाएं। इसका पेस्ट बना लेने के बाद इसे चेहरे पर लगाएं और ड्राई होने तक का इंतजार करें। जब पैक सूख जाए, तब चेहरे पर पानी से स्प्रे करें और क्लॉक वाइज हाथों को घुमाएं। यह क्लींजर की तरह काम करता है, साथ ही विंटर टैनिंग भी कम करता है।

geeta_medical1
geeta_medical
Share This Now :
Continue Reading

राज्य एवं शहर

CG : CM ने धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना का किया शुभारंभ, 84 मेडिकल स्टोर हुए शुरू, MRP से 50-71% सस्ती मिलेगी दवाईयां

Published

on

Share This Now :

  • महंगी होती स्वास्थ्य सेवाओं को गरीब से गरीब लोगों की पहुंच में लाने का प्रयास : बघेल
  • डॉक्टरों और फार्मासिस्टों से जेनेरिक दवाईयों को लोकप्रिय बनाने की अपील
  • यूनिवर्सल हेल्थ कव्हरेज के लक्ष्य के साथ दुर्गम स्थानों में भी पहूँचाई जा रही हैं, स्वास्थ्य सेवाएं


रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि महंगी होती स्वास्थ्य सेवाओं को गरीब से गरीब व्यक्ति की पहंुच में लाने का प्रयास राज्य सरकार द्वारा पूरी संवेदनशीलता के साथ किया जा रहा है। इसके लिए अनेक योजनाएं प्रारंभ की गई हैं। इसी कड़ी में आज श्री धन्वंतरी मेडिकल स्टोर योजना का शुभारंभ किया गया है। इन मेडिकल स्टोर्स में जेनेरिक दवाइयां 50 से 71 प्रतिशत कम कीमत पर उपलब्ध होगी। मुख्यमंत्री आज यहां अपने निवास कार्यलय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए श्री धन्वन्तरी जेनरिक मेडिकल स्टोर योजना का शुभारंभ करने के बाद कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस योजना के अंतर्गत राज्य में 84 दुकानों का शुभारंभ मुख्यमंत्री श्री बघेल ने किया। श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स से उपभोक्ताओं को सस्ती दर पर गुणवत्तापूर्ण दवाईयां उपलब्ध होगी। उपभोक्ताओं को दवाइयों की एमआरपी पर न्यूनतम 50.09 प्रतिशत और अधिकतम 71 प्रतिशत छूट का लाभ मिलेगा।

अवसर पर दवाइयों के होम किट और ट्रैवल किट का लोकार्पण भी किया

geeta_medical1
geeta_medical

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर दवाइयों के होम किट और ट्रैवल किट का लोकार्पण भी किया। यह किट श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर में विक्रय के लिए उपलब्ध होंगे। दवाइयों के होम किट की कीमत 691 रुपये है, जो इन मेडिकल स्टोर में 290 रुपये के मूल्य पर तथा ट्रेवल किट जिसकी कीमत 311 रुपये है, वह 130 रुपये में उपलब्ध होगा।

नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा संचालित इस योजना में आने वाले समय में प्रदेश के 169 शहरों में 188 मेडिकल स्टोर्स प्रारंभ करने की योजना है। इन मेडिकल स्टोर्स में 251 प्रकार की जेनरिक दवाईयां तथा 27 सर्जिकल उत्पाद की बिक्री अनिवार्य होगी। इसके अलावा वन विभाग के संजीवनी के उत्पाद, सौंदर्य प्रसाधन उत्पाद और शिशु आहार आदि का भी विक्रय किया जाएगा। इन मेडिकल स्टोरों से मिलने वाली जेनेरिक दवाईयां सिपला, एलेम्बिक, रेनबैक्सी, केडिला, फाईजर जैसी 20 ब्रांडेड प्रतिष्ठित कंपनी की होंगी, जो सस्ती होने के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण भी होंगी। इन मेडिकल स्टोर्स में दर्द और ज्वर नाशक, मांसपेशियों को आराम देने वाली दवाई, महिलाओं के मासिक धर्म, गर्भावस्था की दवाई, एलर्जी, आंख, कान, नाक, गला रोग, हृदय रोग, सर्दी-खाँसी- बुखार, लोकल एवं जनरल अनेसथेसिया, थायराइड की दवाइयां, एंटीफंगल दवा, विटामिन की गोलियां एवं त्वचा संबंधी रोगों की दवाई उपलब्ध रहेंगी।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर कहा कि पूरी दुनिया में महंगी होती स्वास्थ्य सेवाएं चिंता का कारण है। अनेक लोग इलाज के खर्च के कारण कर्ज और महंगाई का शिकार हो जाते हैं। राज्य सरकार द्वारा यूनिवर्सल हेल्थ कव्हरेज के लक्ष्य के साथ दुर्गम स्थानों में बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं पहंुचाने के लिए मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना, शहरी क्षेत्रों में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना प्रारंभ की गई हैं, जिनमें मोबाइल मेडिकल यूनिट के जरिए अधिक से अधिक जरूरतमंद लोगों तक स्वास्थ्य सेवाएं पहंुच रही हैं। महिलाओं और किशोरी बालिकाओं के लिए दाई-दीदी क्लिनिक योजना प्रारंभ की गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा बस्तर से मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान और मलेरिया मुक्त अभियान की शुरूआत कर इसका विस्तार पूरे प्रदेश में किया गया है। विकासखंड स्तर से लेकर जिला स्तर तक अस्पतालों को सर्व सुविधायुक्त बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग में 4000 पदों में नई भर्तियां की जा रही हैं। गरीब से गरीब लोगों को इलाज के लिए सहायता उपलब्ध कराने के उद्देश्य से डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना और मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य योजना प्रारंभ की गई है। इन योजनाओं में इलाज के लिए 5 लाख से 20 लाख रूपए की मदद दी जाती है, ताकि गरीब से गरीब व्यक्ति भी गंभीर बीमारी का इलाज करा सकें। इलाज में पैसे की कमी अवरोध न बने। मुख्यमंत्री इस अवसर पर डॉक्टरों और फार्मासिस्टों से जेनेरिक दवाईयों को लोकप्रिय बनाने में अपना योगदान देने और जनप्रतिनिधियों से इस योजना का प्रचार-प्रसार करने की अपील की। मुख्यमंत्री ने कहा कि जंगलों में रहने वाले वनवासियों द्वारा वनोपजों और वनौषधियों का संग्रहण कर आर्गेनिक उत्पाद तैयार किए जा रहे हैं, जो इन मेडिकल स्टोरों में भी उपलब्ध होंगे। उन्होंने इन उत्पादों का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करने की अपील इस अवसर पर की।

मुख्यमंत्री ने विभिन्न जिलों से जुड़े कलेक्टर्स, जनप्रतिनिधियों और योजना के हितग्राहियों से मिल रहे लाभ की जानकारी ली। कोरबा के हितग्राही श्री सुमीत कुमार यादव ने बताया कि उन्हें इन मेडिकल स्टोर्स से खरीदी गई दवाईयों से 600 रूपए की बचत हुई है। इसी प्रकार बस्तर के सुश्री पार्वती द्वारा बीपी की दवा 138 रूपए की जगह 50 रूपए में मिलने की जानकारी दी गई।

नगरीय प्रशासन डॉ. शिवकुमार डहरिया और वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया। नगरीय प्रशासन विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेलमंगई डी. ने योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्हांेने बताया कि भविष्य में इन मेडिकल स्टोर्स से दवाईयों की घर पहुंच सेवा भी शुरू की जाएगी। उन्हांेने बताया कि मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना 13 अक्टूबर तक 10 लाख से अधिक लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ पहुंचाया जा चुका है। कार्यक्रम में उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेम साय सिंह टेकाम, विधायक श्री मोहन मरकाम, श्री मोहित राम केरकेट्टा और श्री पुरुषोत्तम कंवर, मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेलमंगई डी, राज्य शहरी विकास अभिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सौमिल रंजन चौबे उपस्थित थे। वीडियो कांफ्रेंस के जरिए विभिन्न जिलों से विधायक महापौर पार्षद सहित अनेक जनप्रतिनिधि जिले के कलेक्टर भी कार्यक्रम से जुड़े।

धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना के अंतर्गत दुर्ग जिले में 15, जांजगीर-चांपा जिले में 15, धमतरी, कोरबा और रायगढ़ जिले में 6-6, राजनांदगांव में 5, बिलासपुर, कोण्डागांव, सुकमा और बीजापुर जिले में 3-3, रायपुर, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, सूरजपुर और जशपुर जिले में 2-2, महासमंुद, बलौदाबाजार-भाटापारा, गरियाबंद, बेमेतरा, कबीरधाम, सरगुजा, बलरामपुर-रामानुजगंज, बस्तर, नारायणपुर, कांकेर और दंतेवाड़ा जिले में 1-1 मेडिकल स्टोर का आज शुभारंभ हुआ।

Share This Now :
Continue Reading

राज्य एवं शहर

आधी कीमत पर दवा उपलब्ध कराने CG के 169 शहरों में खुलेंगे 188 मेडिकल स्टोर्स, CM बघेल श्री धन्वंतरी दवा योजना का करेंगे शुभारंभ

Published

on

Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ सरकार आम आदमी को सस्ती दवाइयां मुहैया कराने के लिए पूरे राज्य मे ंधन्वंतरी जेनेेरिक मेडिकल स्टोर्स प्रारंभ करने जा रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 20 अक्टूबर को इस योजना की शुरूआत करेंगे। इन दुकानों में बाजार से 50 से 65 फीसदी कम रेट में दवाइयां मिलेंगी। मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के बाद इसे स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी सौगात मानी जा रही।

अफसरों ने बताया कि प्रयास है कि 20 अक्टूबर को रायपुर, बिलासपुर समेत लगभग सभी जिलों में धन्वंतरी मेडिकल स्टोर्स खुल जाए। रायपुर और बिलासपुर चूकि बड़े शहर हैं लिहाजा, नगरीय प्रशासन विभाग का प्रयास है, 20 अक्टूबर को रायपुर में 10 और बिलासपुर में पांच दुकानें प्रारंभ हो जाए। अधिकारियों का कहना है, लभगभ सभी जिलों में एक-एक, दो-दो जेनेरिक दुकानें खोली जाएंगी। 20 अक्टूबर को दुकानें खोलने के लिए कलेक्टरों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं।

नगरीय प्रशासन विभाग का कहना है, वैश्विक महामारी कोविड के दौर में लोगों को सस्ती और क्वालिटी दवाओं की उपलब्धता एक बहुत कठिन कार्य रहा है। भारत सरकार के जनऔषधि केंद्र यूं तो देश के सभी प्रमुख शहरों में खोले गए है लेकिन इसके व्यवसायिक माडल के अभाव में ये केंद्र कुछ खास सफल नहीं कहे जा सकते।।

geeta_medical1
geeta_medical

हालांकि भारत विश्व का सबसे बड़ा जेनेरिक दवाई का उत्पादक और निर्यातक देश है फिर भी देश में ही जेनेरिक दवाओं की सहज उपलब्धता का सवाल एक यक्ष प्रश्न की तरह है।

इसी यक्ष प्रश्न का संभावित उत्तर खोजा है भूपेश सरकार ने और प्रदेश की जनता के हित में लेकर आ रही है एक ऐसी योजना जिसमे कोई भी व्यक्ति न्यूनतम 50प्रतिशत की भारी छूट पर जेनेरिक दवाइयां प्राप्त कर सकता है।

भूपेश सरकार द्वारा 20 अक्टूबर 2021 से प्रदेश के सभी जिलों के नगरीय क्षेत्रों में 50 से अधिक श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स की शुरुआत की जा रही है।

रायपुर : इन मेडिकल स्टोर्स की खास बात यह है कि यहां जेनेरिक दवाएं 50 से 65 प्रतिशत की छूट पर मिलेंगी। साथ ही छत्तीसगढ़ के हर्बल उत्पाद भी इन दुकानों पर उपलब्ध होंगे।। शीघ्र ही इन दुकानों की संख्या बढ़ाकर 184 तक की जाएगी जिससे अधिक से अधिक नागरिकों को इसका लाभ मिल सके।।

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शहरी स्वास्थ्य अधोसंरचना के विकास में अभूतपूर्व कदम उठाए है जिसके तहत मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना, सिटी डायग्नोस्टिक सेंटर और अब धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स से शहरी जनता बेहद उत्साहित और खुश है।।

मुख्यमंत्री बोले…सब्बो स्वस्थ जम्मो सुग्घर परिकल्पना होगी साकार

हमारी सरकार ने गरीबों और वंचित वर्गों तक शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाने हेतु प्रभावी कदम उठाए हैं। इस दिशा में पहल करते हुए हमने मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना प्रारंभ की जिससे अब मजदूरों और गरीबों को उनके घर के पास ही मोहल्ले में मोबाइल मेडिकल यूनिट के जरिए मुफ्त इलाज, टेस्ट और दवाइयां मिल रही है। 13अक्टूबर तक इस योजना से 10 लाख से अधिक लोगों से लाभान्वित किया गया है। इसी दिशा में एक कदम आगे बढ़ाते हुए अब हम श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स शुरू करने जा रहे हैं जहां सभी नागरिकों को उच्च गुणवत्ता की जेनेरिक दवाएं 50से 65 प्रतिशत की भारी छूट पर मिलेंगी। मुझे आशा है कि इस योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों को मिलेगा और उनपर दवाइयों के खर्च का बोझ कुछ कम हो सकेगा।। इस योजना से हम अपने सब्बो स्वस्थ जम्मो सुग्घर की परिकल्पना को साकार करने में सफल होंगे।

सेवा जतन सरोकार

सेवा जतन सरोकार….छत्तीसगढ़ सरकार का आदर्श वाक्य है, जिसे चरितार्थ करने की दिशा में मुख्यमंत्री के मार्गदर्शन में हम श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजना प्रारंभ कर रहे हैं। जिसमे 300 से ज्यादा जेनेरिक दवाइयां, सर्जिकल समान न्यूनतम 50 प्रतिशत की भारी छूट पर मिलेंगी और साथ ही हर्बल उत्पाद भी मिलेंगे। मुझे विश्वास है कि इस योजना से हम लोगों के दवाओं पर हो रहे खर्च को कम कर उनकी अर्थिक उन्नति का मार्ग प्रशस्त करने में सफल होंगे।।

छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करते हुए राज्य में श्री धन्वंतरी दवा योजना शुरु की जा रही है। इस योजना के तहत 169 शहरों में 188 ऐसे मेडिकल स्टोर्स खोले जाएंगे, जिनमें मरीजों को अधिकतम खुदरा बिक्री मूल्य (एमआरपी) में 50 प्रतिशत से अधिक छूट दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल 20 अक्टूबर को इस योजना का शुभारंभ करेंगे। योजना की शुरुआत 85 श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स के साथ की जाएगी। शेष दुकानें भी इस माह के अंत तक प्रारम्भ हो जाएंगी। आगामी चरण में इन दुकानों से घर पहुंच दवा डिलीवरी की भी व्यवस्था की जायेगी।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि हमारी सरकार ने गरीबों और वंचित वर्गों तक शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाने हेतु अनेक प्रभावी कदम उठाए हैं। इसी दिशा में एक और पहल करते हुए श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स शुरू करने जा रहे हैं। अब सस्ती दवाएं सभी की पहुंच में होंगी। इस योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा। इससे दवाइयों पर होने वाले खर्च का बोझ कम हो सकेगा। इस योजना के माध्यम से हम सब्बो स्वस्थ-जम्मो सुग्घर की परिकल्पना को साकार करने में सफल होंगे। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने कहा है कि सेवा जतन सरोकार–छत्तीसगढ़ सरकार हमारी सरकार का आदर्श वाक्य है। योजना के माध्यम से शासन द्वारा इसे चरितार्थ किया जा रहा है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सुविधओं का विस्तार राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता रही है। इस दिशा में ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में कई पहल की गई है। शहरी क्षेत्रों में मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना,  सिटी डायग्नोस्टिक सेंटर, दाई दीदी क्लीनिक आदि के माध्यम से जमीनी स्तर तक सुविधाओं का विस्तार किया गया है। इसी क्रम में अब आम नागरिकों को उच्च गुणवत्ता की रियायती दवा उपलब्ध कराने के लिए श्री धन्वंतरी योजना प्रारम्भ की जा रही है। योजना अंतर्गत राज्य के सभी 169 नगरीय निकायों में शासन के सहयोग से श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर खोले जा रहे हैं। नगरीय निकायों द्वारा 188 दुकानों का चिन्हांकन किया गया है। इन दुकानों में 251 दवाइयों, 27 सर्जिकल आइटम साहित विभिन्न सामग्री उपलब्ध रहेगी। लघु वनोपज संघ द्वारा निर्मित गुणवत्तापूर्ण हर्बल उत्पाद भी इन दुकानों में उपलब्ध रहेंगे। इन दुकानों में देश की ख्यातिप्राप्त कंपनियों की जेनरिक दवाइयों की बिक्री की जाएगी। सर्दी, ख़ासी,  बुखार, ब्लड प्रेशर जैसी आम बीमारियों के साथ-साथ गंभीर बीमारियों की दवाएं, एंटीबायोटिक, सर्जिकल आइटम भी उपलब्ध रहेंगे।

यह सभी सामग्री अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) में 50 प्रतिशत से भी अधिक की छूट के साथ उपलब्ध होंगे। नागरीय निकायों द्वारा छूट की दर प्राप्त करने हेतु प्रतिस्पर्धात्मक निविदा का आमंत्रण किया गया था जिसमे सभी निकायों में 50 % से ज्यादा छूट की दर प्राप्त हुई। इसका प्रमुख कारण इस हेतु शासन द्वारा तैयार बिजनेस मॉडल रहा। श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर संचालकों को 2 रुपए प्रति वर्गफुट की आकर्षक दर से नगर पालिक निगम द्वारा किराये पर दुकानें उपलब्ध कराई जा रही हैं। साथ ही इन मेडिकल स्टोर्स से अन्य योजनाओं में भी दवाइयां खरीदने का आश्वासन भी दिया गया है । योजना के सफल संचालन की जिम्मेदारी जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित यूपीएसएस को प्रदान की गई है।

Share This Now :
Continue Reading

Video Advertisment

Advertisement



Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

Career27 mins ago

छत्तीसगढ़ : ढीले-ढाले DEO हटाए जाएंगे अब जिलों की ग्रेडिंग रोज होगी

रायपुर : स्कूल शिक्षा विभाग में अब डीईओ के कामकाज पर रोज नजर रखी जाएगी। इसके लिए एक फार्मेट बनाया...

CORONA VIRUS31 mins ago

विदेश से लौटने के बाद पॉजिटिव हुए तो मरीज में नए वैरिएंट की होगी जांच, CG स्वास्थ्य विभाग ने नए खतरे से निपटने बनाया सिस्टम

रायपुर : राजधानी में नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। वैरिएंट की एडवांस जांच के...

राज्य एवं शहर38 mins ago

छत्तीसगढ़ : RDA ने बांबे मार्केट की 2 दुकानों को बेचा

रायपुर : सिस्टम पर चल रहे बांबे मार्केट की दो दुकानों को आरडीए ने बेच दिया है। शनिवार को यहां...

CORONA VIRUS16 hours ago

छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटे में 27 नए मामले आए सामने, 20 हुए रिकवर : देखिए किस जिले से मिले सबसे ज्यादा संक्रमित

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे आज 27 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार बीते...

Career17 hours ago

CG : दृढ़ संकल्प और विश्वास के साथ कार्य करने से सफलता अवश्य मिलती है : राज्यपाल उइके

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी अंतर्राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, नया रायपुर में द्वितीय दीक्षांत समारोह आयोजित रायपुर : राज्यपाल ने डिग्री...

Advertisement

CONNECT WITH US :

Top 10 News

Must Read

Special News20 hours ago

छत्तीसगढ़ ने बनाया एक और कीर्तिमान, ‘समावेशी विकास’ में देश के 5 बड़े राज्यों में नाम शामिल

रायपुर : छत्तीसगढ़ ने देश के बड़े राज्यों के बीच एक नया कीर्तिमान बनाया है। एक सर्वे के अनुसार समावेशी...

Special News3 days ago

CG : नीति आयोग द्वारा सतत् विकास लक्ष्य शहरी इंडेक्स जारी  रायपुर नगरीय क्षेत्र फ्रंट रनर, मुंबई एवं हैदराबाद जैसे महानगरों को पीछे छोड़ा

रायपुर : नीति आयोग द्वारा 23 नवम्बर 2021 को जारी ’’सतत् विकास लक्ष्य शहरी इंडेक्स’’ में छत्तीसगढ़ राज्य के रायपुर...

Special News5 days ago

छत्तीसगढ़ मॉडल की हो रही देश में चर्चा : सीएम भूपेश बघेल : देश में स्वच्छता का सिरमौर बना CG, स्वच्छता के लिए 6 R पॉलिसी पर हो रहा काम

मुख्यमंत्री ने स्वच्छता के हैट्रिक महोत्सव में नगरीय निकायों, स्वच्छता दीदीयों को किया सम्मानित रायपुर : मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने...

Special News6 days ago

राष्ट्रपति ने बालाकोट स्ट्राइक के हीरो रहे अभिनंदन वर्धमान को किया वीर चक्र से सम्मानित, गिराया था पाक का F-16 लड़ाकू विमान

नई दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों बालाकोट स्ट्राइक के हीरो रह अभिनंदन वर्धमान ने वीर चक्र सम्मान प्राप्त...

Special News1 week ago

छत्तीसगढ़ : सशस्त्र बल के जवानों द्वारा खारून नदी के तट रिवर फ्रंट व्यू में चलाया गया सफाई अभियान

रायपुर, दुर्ग : छठ पूजा पुन्नी मेला के अवसर पर श्रद्धालुओं द्वारा की गई पूजा से नदी में पूजन सामग्री...

Advertisement

Trending