Monday, June 5, 2023

बिलासपुर में एक ही दिन में मिले चार पॉजिटिव:एक्टिव केस 18; 2400 लोगों की रोज करनी है जांच

बिलासपुर में एक ही दिन में चार कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। तीन माह बाद कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत होने के बाद से अब शहर में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 18 हो गई है। कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने बंद जांच सेंटर शुरू करने का दावा किया है। लेकिन, जांच सेंटर में स्टाफ ही नहीं है। हालांकि, उनका यह भी कहना है कि सेंटर में जांच कराने के लिए लोग नहीं आ रहे हैं। इधर, CMHO ने रोज 2400 लोगों की जांच करने का टारगेट दिया है। लेकिन, 250 से 300 लोगों की ही जांच की जा रही है। बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए लोगों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी जा रही है।

शुक्रवार को जिन इलाकों में नए मरीज मिले हैं, उनमें सरकंडा क्षेत्र के अशोक नगर में रहने वाले एक 28-28 साल के दो युवक शामिल हैं। इसी तरह पुराना बस स्टैंड स्थित सिहारे चिल्ड्रन हास्पिटल से 61 वर्षीय महिला के साथ 32 वर्षीय युवती कोरोना संक्रमित मिले हैं। बीते बुधवार को इंदु चौक के पास रहने वाले एक 75 वर्षीय बुजुर्ग और नेहरू नगर निवासी 42 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव मिले थे। पिछले 10 से 15 दिन के भीतर ही एक्टिव मरीजों की संख्या 18 पहुंच गया है।

ट्रेलल हिस्ट्री की जानकारी जुटा रही टीम
बताया जा रहा है कि शहर में इन दिनों जितने भी नए मरीज मिल रहे हैं। वे कहीं न कहीं से संक्रमित लोगों के संपर्क में आए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम जिन इलाकों में मरीज मिले हैं, उनकी ट्रेवल हिस्ट्री खंगाल रही है। ताकि, यह पता चल सके कि वे कहां से पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए हैं। इसके साथ ही उनके परिवार और संपर्क में आने वाले लोगों की भी कोरोना जांच कराई जाएगी। अफसरों का कहना है कि संक्रमण बढ़ रहा है। इससे स्पष्ट है कि मरीज या तो बाहर से या फिर स्थानीय स्तर पर किसी पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए होंगे। मरीजों की संख्या बढ़ने से वायरस के धीरे-धीरे एक्टिव होने की आशंका जताई जा रही है।

लोगों को सावधानी बरतने की अपील
स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिर से शहरवासियों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करने की सलाह दी है। करीब तीन माह बाद एक फिर लोग कोरोना संक्रमण से पीड़ित हो रहे हैं और लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। CMHO डा. अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए सैंपलिंग, ट्रीटमेंट, ट्रेसिंग के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही लोगों को सलाह दी जा रही है कि कोरोना को लापरवाही से न लें, नहीं तो हालत बिगड़ सकती है।

कोरोना से बचाव के लिए दिशा-निर्देशों का करें पालन

हर आधे घंटे में सैनिटाइजर से हाथ साफ करें या फिर हैंडवाश और साबुन से हाथ धोएं।
शारीरिक दूरी का पालन करें।
बिना मास्क पहने घर से न निकलें।
भीड़ वाली जगह पर जाने से बचें।
लक्षण आने पर तत्काल स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दें।
पौष्टिक भोजन का सेवन करें।
बेवजह घर से बाहर न निकलें।
बच्चों व बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें।
ट्रेवल हिस्ट्री वाले ही मिल रहे संक्रमित
स्वास्थ्य विभाग के जांच में यह बात भी सामने आई है कि संक्रमण के शिकार ज्यादातर मरीज की ट्रेवल हिस्ट्री निकल रही है। वे हाल ही में दूसरे शहर या राज्य से होकर आए हैं। उनके आने के बाद इनमें कोरोना वायरस के लक्षण मिल रहे हैं और कोरोना जांच में कुछ लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि भी हो रही है।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang