Wednesday, February 8, 2023

मोबाइल के लिए दोस्त का मर्डर,पैसे देने पर भी नहीं लौटाना चाहता था, इसलिए नाबालिग ने पहले गला घोंटा,फिर पत्थर से सिर कुचला

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में मोबाइल फोन के लिए एक नाबालिग ने अपने ही दोस्त की हत्या कर दी। आरोपी ने दोस्त के पास मोबाइल गिरवी रखा था। बस इसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ। बताया गया कि जिसकी हत्या हुई वह पैसे देने पर भी मोबाइल लौटाने राजी नहीं हुआ था। जिसके बाद आरोपी ने पहले तो उसका गला घोंटा। फिर पत्थर से सिर फोड़कर उसकी जान ले ली है। मामला भटगांव थाना क्षेत्र का है।

ईंट भट्ठा इलाके में रहने वाली एक महिला ने 18 दिसंबर को इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसने बताया कि उसका 14 साल का लड़का 15 दिसंबर से गायब है। काफी पड़ताल करने पर भी उसका कुछ पता नहीं चल रहा है। इस पर पुलिस ने नाबालिग के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज किया था और मामले में जांच कर रही थी।

10 दिन बाद मिली लाश

पुलिस के लगातार जांच के बाद भी शुरुआत में कोई जानकारी सामने नहीं आ सकी थी। इस बीच 25 दिसंबर को सूचना मिली कि बंद पड़े एसईसीएल खदान वार्फवाल नीली झील नर्सरी में रास्ते के किनारे झाड़ी के पास एक शव मिला है। जिसके बाद पुलिस की एक टीम को मौके पर भेजा गया। पुलिस की जांच में यह पता चला कि यह वही लड़का है। जिसकी लापता होने की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। इसकी सूचना उसके परिजनों को भी दी गई थी। शव का पोस्टमॉर्टम भी कराया गया था।

आखिरी बार दोस्त के साथ दिखा था

पीएम रिपोर्ट में पुलिस को पता चला कि नाबालिग की हत्या की गई है। इसके बाद पुलिस ने इस केस में जांच और तेज की और उसके दोस्तों से भी पूछताछ की। तब पुलिस को पता चला कि लड़का आखिरी बार 15 दिसंबर को उसके 16 वर्षीय दोस्त के साथ देखा गया था। ठीक इसी के बाद से उसका कुछ पता नहीं चला है।

एक दिसंबर को गिरवी रखा था मोबाइल

इस पर पुलिस ने संदेह के आधार पर आरोपी को हिरासत में लिया था। शुरुआत में तो उसने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। मगर बाद में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। आरोपी ने बताया कि एक दिसंबर को मैंंने अपने दोस्त को एक हजार रुपए में अपना मोबाइल गिरवी रख दिया था।

बार-बार कहने पर भी नहीं माना

इसके बाद 15 दिसंबर को मैं उसके पास गया और कहा कि पैसे लेकर मेरा मोबाइल वापस लौटा दो, मगर वह राजी नहीं हुआ। फिर हम खाने का सामान लेकर नीली झील नर्सरी की तरफ गए थे। वहां हमने नाश्ता किया। नाते के बाद हम वापस लौट रहे थे। उसी दौरान फिर से वह मोबाइल की बात को लेकर झगड़ा करने लग गया। मैंने उससे फिर से कहा कि मोबाइल दे दो, लेकिन वह नहीं माना।

घसीटकर ले गया रोड किनारे

इस बात को लेकर मुझे गुस्सा आया, तब मैंने उसका गला घोंट दिया। फिर घसीटकर उसे सड़क किनारे ले गया और बड़े से पत्थर को उसके सिर पर पटक दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। आरोपी ने बताया कि घटना के बाद मैंने अपना फोन ले लिया और सिम को तोड़कर फेंक दिया था।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang