Wednesday, February 8, 2023

अगले साल प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान खरीदेगी सरकार,मिशन-2023 में “दाम’ नहीं पूरी फसल पर “दांव’

छत्तीसगढ़ के चुनाव में कांग्रेस “धान’ के हंसिये से वोटों की फसल काटने की तैयारी में है। इस बार दांव धान की कीमत पर नहीं, धान खरीदी की सीमा पर लगने जा रहा है। अगर सब कुछ ठीक रहा तो अगले खरीफ सीजन में सरकार प्रति एकड़ 20 क्विंटल की दर से धान की खरीदी करेगी। अभी तक सरकार किसानों से प्रति एकड़ अधिकतम 15 क्विंटल धान की फसल ही खरीदती आ रही है।

राज्य सरकार और कांग्रेस पार्टी के एक प्रमुख रणनीतिकार ने बताया है, धान खरीदी की सीमा को 20 क्विंटल प्रति एकड़ करने की रणनीति पर गंभीरता से काम हो रहा है। पूरा कैल्कुलेशन तैयार है। नये खरीफ सीजन के साथ इसकी घोषणा हो जाएगी। अभी तक 23 से 25 क्विंटल प्रति एकड़ औसत उत्पादन वाले किसान खरीदी पर कैपिंग की वजह से प्रति एकड़ केवल 15 क्विंटल धान ही समर्थन मूल्य पर बेच पाते थे। इसका दायरा बढ़ाकर 20 क्विंटल होने से धान उत्पादक किसानों का फायदा कई गुना बढ़ जाएगा। किसान कई वर्षों से धान खरीदी पर लगी यह कैपिंग हटाने की मांग करते आ रहे हैं। धान खरीदी के सीजन में ही 2023 के विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में उसका फायदा निश्चित रूप से कांग्रेस को मिलने वाला है।प्रदेश के कृषि एवं ग्रामीण विकास मंत्री रविंद्र चौबे ने एक बातचीत में यह कहा कि चुनावी सीजन में सरकार नई योजनाएं लेकर आ रही है।

उसकी घोषणा सही मौका देखकर किया जाएगा। हालांकि उन्होंने यह इशारा जरूर किया कि इस बार भी पार्टी की घोषणाओं और सरकार की योजनाओं के केंद्र में गांव, किसान, आदिवासी, मजदूर और छोटे व्यापारी ही रहने वाले हैं। छत्तीसगढ़ धान का कटोरा है। इसलिए धान उत्पादक किसान सरकार की प्राथमिकता में भी है। चौबे का कहना है, सरकार अभी राजीव गांधी किसान न्याय योजना के प्रति एकड़ 9000 रुपयों की इनपुट सब्सिडी को मिलाकर धान की जितनी कीमत दे रही है वह पूरे देश में सर्वाधिक है। अगले साल केंद्र सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य में 100 रुपए का भी इजाफा किया तो छत्तीसगढ़ के किसान के हाथ में एक क्विंटल का 2740 रुपया मिल जाएगा।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang