Connect with us

खेल

IND vs ENG : बारिश ने बचाई अंग्रेजों की लाज, भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया पहला टेस्ट मैच हुआ ड्रॉ

Published

on

Share This Now :

Sports Desk : भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच ड्रॉ रहा। टीम इंडिया को टेस्ट के आखिरी दिन जीत के लिए 157 रनों की दरकार थी, लेकिन लगातार हो रही बारिश के चलते पांचवें दिन एक भी गेंद का खेल संभव नहीं हो सका। टी ब्रेक के बाद अंपायर्स ने मैदान का जायजा किया और मैच को खत्म करने का ऐलान किया।

इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 209 रनों का लक्ष्य रखा था। कप्तान जो रूट के शतक की बदौलत इंग्लिश टीम ने दूसरी पारी में 303 रन बनाए थे। टीम इंडिया की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए मैच में 9 विकेट झटके।

पांचवें दिन बारिश भारत के लिए विलेन साबित हुई और लगातार दो सेशन तक रुकने का नाम नहीं लिया। चौथे दिन के खेल के बाद भारत की टीम मजबूत स्थिति में नजर आ रही थी और टीम को जीत के लिए 157 रनों की जरूरत थी। इंग्लैंड की टीम ने सीरीज के पहले टेस्ट मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था, लेकिन भारतीय तेज गेंदबाजों के आगे इंग्लिश बल्लेबाज टिककर नहीं खेल सके और पूरी टीम महज 183 रन बनाकर ऑलआउट हो गई थी। भारत की तरफ से पहली पारी में जसप्रीत बुमराह ने 4 और मोहम्मद शमी ने तीन विकेट चटकाए। इंग्लैंड के 183 रनों के जवाब में टीम इंडिया ने पहली इनिंग में 278 रन बनाए और पहली पारी के आधार पर 95 रनों की बढ़त हासिल की। भारत की तरफ से केएल राहुल ने 84 और रविंद्र जडेजा ने 56 रन बनाए। इंग्लिश टीम की ओर से गेंदबाजी में ओली रोबिंसन ने पहली पारी में 5 विकेट झटके, जबकि जेम्स एंडरसन ने चार भारतीय बल्लेबाजों को चलता किया।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

दूसरी पारी में इंग्लैंड की तरफ से कप्तान जो रूट ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 109 रनों की शतकीय पारी खेली, जिसकी बदौलत इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 303 रन बनाने में सफल रही। गेंदबाजी में टीम इंडिया की तरफ से जसप्रीत बुमराह शानदार फॉर्म में नजर आए और उन्होंने पहले टेस्ट मैच में 9 विकेट अपने नाम किए, जबकि भारत के बाकी तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन भी मैच में बेमिसाल रहा। भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट मैच 12 अगस्त से लॉर्ड्स के मैदान पर खेला जाएगा।

Share This Now :

Special News

CG : साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका को दुर्ग की आकर्षी कश्यप ने इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया पराजए

Published

on

Share This Now :

दुर्ग : छत्तीसगढ़ के दुर्ग की बैडमिंटन खिलाड़ी आकर्षी कश्यप ने नई दिल्ली में चल रहे इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में बड़ा उलटफेर किया है। आकर्षी ने क्वार्टर फाइनल में साइना नेहवाल को हराने वाली महाराष्ट्र की मालविका बंसोड़ को मात दी है। इस मैच के बाद उन्होंने दैनिक भास्कर अखबार से बात करते हुए कहा कि उनका लक्ष्य है कि वह पेरिस में होने वाले 2024 ओलंपिक गेम्स में भारत का प्रतिनिधित्व करें और देश के लिए गोल्ड जीतकर लाएं।

शुक्रवार को 20 वर्षीय आकर्षी ने मालविका बंसोड़ को 21-12, 21-15 से हराया । विश्व में 76वें स्थान की रैंकिग के साथ खेलने वाली छत्तीसगढ़ राज्य की इकलौती खिलाड़ी आकर्षी की रैंकिंग इस मैच के बाद सुधरेगी। वो लगातार दो सालों से सीनियर रैंकिंग में इंडिया नंबर-1 बनीं हुई हैं। उसकी यह जीत इसलिए भी महत्वपूर्ण हो गई क्योंकि मालविका ने एक दिन पहले ही ओलंपिक पदक विजेता साइना नेहवाल को इसी टूर्नामेंट में हराया था। इस जीत के साथ आकर्षी इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप के सेमी फाइनल में पहुंच गई हैं।

सफलता का श्रेय माता-पिता का साथ

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

इस सफलता का श्रेय आकर्षी ने अपने मम्मी पापा को देती हैं। आकर्षी के पापा डाक्टर संजीव कश्यप दुर्ग में ही डर्मेटोलॉजिस्ट हैं। उन्होंने ही आकर्षी को टाइम की वैल्यू बताई। जब से उसने बैडमिंटन खेलना शुरू किया वह रोज उसे सुबह 4 बजे उठाते थे और उसके बाद उसे प्रैक्टिस में लेकर जाते थे। ट्रेनिंग के दौरान भी वह उसके साथ ही रहते थे। बाद में उसकी लगन और प्रतिभा देखकर उसे एडवांस ट्रेनिंग के लिए हैदराबाद भेजा गया।

आकर्षी के साथ हर टूर्नामेंट में उसकी मां जाती हैं। वहां वह उसकी न्यूट्रीशन का पूरा ध्यान रखती हैं। आकर्षी अंडर-15 सिंगल्स में नेशनल चैंपियन, अंडर-17 और 19 सिंगल्स में दो बार नेशनल चैंपियन, खेलो इंडिया में गोल्ड मेडलिस्ट, एशियन गेम्स में गोल्ड मेडलिस्ट, बहरीन इंटरनेशनल चैलेंज में ब्रॉन्ज जीत चुकी हैं। उनके नाम अब तक 50 गोल्ड मेडल, 22 सिल्वर मेडल और 15 ब्रॉन्ज मेडल हैं।

 

हैदराबाद से घर आने पर भी नहीं छोड़ती प्रैक्टिस

आकर्षी ने बताया कि वह अभी हैदराबाद सुचित्रा बैडमिंटन एकेडमी में प्रैक्टिस करती हैं। वहां से जब अपने घर दुर्ग आती हैं तो अपने कॉलेज में प्रैक्टिस करती हैं। कॉलेज में उनके कोच शिवयोगी हैं। रोजाना सुबह 4 बजे उठकर वह ट्रेनिंग करने जाती हैं। 9 से 11 बजे तक जिम और इसके बाद दोपहर 2:30 से 5 बजे तक बैडमिंटन कोर्ट में प्रैक्टिस करती हैं।

8 साल की उम्र में शुरू किया था खेलना

आकर्षी कश्यप ने 8 साल से बैडमिंटन खेलना शुरू किया था। भिलाई इंडोर स्टेडियम में प्रैक्टिस करके अपनी लगन और कड़ी मेहनत की बदौलत उन्होंने स्टेट लेवल और नेशनल लेवल में अच्छा परफॉर्म किया। साल 2014 में वे अंडर-15 नेशनल चैंपियन बनीं। 2 बार अंडर-17 नेशनल चैंपियन रहीं। 2 बार अंडर-19 चैम्पियन रह चुकी हैं। 2018 इंटरनेशनल गेम में इंडिया को रिप्रेजेंट किया।

ओलंपिक में गोल्ड लाना है लक्ष्य

आकर्षी का टारगेट ओलपिंक गेम्स में गोल्ड मेडल लाना है। वह कड़ी मेहनत कर अपनी रैंकिंग को सुधारने में लगी हैं, जिससे वे 2024 में होने वाले पेरिस ओलंपिंक और 2028 ओलंपिक में भाग लेकर भारत का प्रतिनिधित्व कर सकें।

यह भी पढ़ें :

CG : इंडियन ओपन में ओलंपिक मेडलिस्ट साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका, 2016 से रायपुर में कर रहीं ट्रेनिंग

 

Share This Now :
Continue Reading

खेल

BREAKING : विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ने का किया एलान, द.अफ्रीका से टेस्ट सीरीज हारने के बाद लिया बड़ा फैसला

Published

on

Share This Now :

Sports Desk : दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट सीरीज हारने के बाद विराट कोहली ने शनिवार को अब टेस्ट टीम की कप्तानी भी छोड़ने का फैसला किया है। विराट कोहली ने यह जानकारी ट्विटर पर एक भावुक पोस्ट लिखकर दी है। शुक्रवार को ही भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खत्म हुई। भारत ने यह सीरीज 2-1 से गंवा दी थी। दो मैचों में कप्तान विराट कोहली थे और एक मैच में कप्तानी केएल राहुल ने की थी। वह टी 20 और वनडे टीम की कप्तानी पहले ही छोड़ चुके हैं। टी20 वर्ल्ड कप 2021 से पहले उन्होंने टी20 कप्तानी छोड़ने का फैसला किया था और साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले चयनकर्ताओं ने सीमित ओवरों का कप्तान रोहित शर्मा को चुना था। ऐसे में विराट के पास सिर्फ टेस्ट टीम की कप्तानी थी और अब वे कप्तानी की जिम्मेदारी से पूरी तरह हट गए हैं। आईपीएल में भी वे अब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर यानी आरसीबी की कप्तानी करते नजर नहीं आएंगे।

 

विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ते हुए एक लंबा नोट लिखा। अपने संदेश में उन्होंने लिखा कि बीते सात सालों से लगातार कड़ी मेहनत और हर रोज टीम को सही दिशा में पहुंचाने की कोशिश रही। मैंने अपना काम पूरी ईमानदारी से किया और कोई भी कसर नहीं छोड़ी। हर चीज को किसी समय रुकना पड़ता है और मेरे लिए भारत की टेस्ट कप्तानी छोड़ने का यह सही समय है।

आपको बता दें कि विराट कोहली ने भारतीय टेस्ट टीम के लिए अभी तक 68 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है। इस दौरान भारतीय टीम ने 40 मैच जीते हैं, जबकि 17 मैचों में हार मिली है। विराट कोहली ने 2014 से भारतीय टेस्ट टीम की अगुवाई कर रहे हैं।

टी20 कप्तानी

विराट कोहली ने 16 सितंबर को सोशल मीडिया के जरिए अपनी टी20 कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया था। टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले विराट कोहली के इस फैसले से कई दिग्गज काफई हैरान रह गए थे, लेकिन कोहली ने मन बना लिया था और उन्होंने वर्ल्ड कप के बाद कप्तानी छोड़ दी थी, उनकी जगह रोहित शर्मा को नया कप्तान नियुक्त किया गया था।

वनडे कप्तानी

टी20 कप्तानी छोड़ने के बाद विराट कोहली भारत की वनडे और टेस्ट टीम की कप्तानी करने वाले थे। लेकिन बीसीसीआई चाहता था कि सीमित ओवरों के लिए टीम में सिर्फ एक कप्तान रहे। इस वजह से दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले चयनकर्ताओँ ने बड़ा फैसला करते हुए विराट कोहली से वनडे कप्तानी छीन ली थी और रोहित को टीम का नया वनडे कप्तान चुना था। हालांकि विराट कोहली बीसीसीआई के रवैये से खुश नहीं थे और उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीसीसीआई और अध्यक्ष सौरव गांगुली पर अपनी भड़ास निकाली थी। गांगुली ने कहा था कि उन्होंने पर्सनली विराट कोहली से टी20 कप्तानी न छोड़ने के लिए कहा था। हालांकि विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि उन्हें बीसीसीआई की ओर से  टी20 कप्तानी छोड़ने को लेकर कभी रोका नहीं गया और वनडे कप्तानी से हटाने को लेकर उन्हें टीम मीटिंग में पता चला।

Share This Now :
Continue Reading

Special News

CG : इंडियन ओपन में ओलंपिक मेडलिस्ट साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका, 2016 से रायपुर में कर रहीं ट्रेनिंग

Published

on

Share This Now :

रायपुर : भारतीय बैडमिंटन की सबसे बड़ी खिलाड़ी और ओलंपिक मेडलिस्ट साइना नेहवाल गुरुवार को इंडियन ओपन के एक मैच में सीधे सेटों में हारकर प्रतियोगिता से बाहर हो गईं। साइना को हराने वाली नागपुर की मालविका बंसोड़ 2016 से रायपुर में ट्रेनिंग कर रहीं है। मालविका 2016 से रायपुर में रहकर कोच संजय मिश्रा से ट्रेनिंग ले रही हैं।

दैनिक भास्कर अखबार से बातचीत करते हुए भारतीय बैडमिंटन संघ के मुख्य कोच संजय मिश्रा ने बताया, मालविका के माता-पिता नागपुर में डेंटिस्ट हैं। वे जूनियर लेवल की कई प्रतियोगिताओं में उसके कोच थे। बेहतर प्रशिक्षण के लिए मालविका और उनकी मां डॉ. तृप्ति बंसोड़ 2016-17 में नागपुर छोड़कर रायपुर में ही शिफ्ट हो गए। यहां मालविका के नाना-नानी रहते हैं। तबसे लगातार पुलिस लाइन स्थित बैडमिंटन कोर्ट पर उनकी प्रैक्टिस जारी है। रोज 6 से 8 घंटे का कड़ा प्रशिक्षण लेकर मालविका ने खुद को इतना तैयार किया है, कि वह साइना को भी हरा सकी।

कोरोना लॉकडाउन और दूसरे प्रतिबंधों के बीच विशेष अनुमति लेकर मालविका की ट्रेनिंग कराई गई। संजय मिश्रा का कहना है, पूरे प्रैक्टिस सेशन के दौरान मालविका की मां उसके साथ ही रहती हैं। स्पर्धा के लिए कहीं बाहर जाने पर ही वे नागपुर लौटती हैं। उसके बाद फिर मां-बेटी की जुगलबंदी शुरू हो जाती है। मालविका के पिता डॉ. प्रबोध बंसोड़ नागपुर में ही प्रैक्टिस करते हैं। खेल के साथ-साथ मालविका चेन्नई की एसआरएम यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी कर रही है। यूनिवर्सिटी उसे उसकी सुविधा और समय के मुताबिक पढ़ाई और परीक्षा की छूट देती है।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

फोकस्ड इतनी कि कई सालों में कोई फिल्म नहीं देखी

कोच संजय मिश्रा ने बताया मालविका उन कुछ गिने-चुने खिलाड़ियों में से है जो खेल को लेकर काफी समर्पित और फोकस्ड हैं। मालविका मोबाइल और सोशल मीडिया पर नहीं उलझती। कई सालों से उसने कोई फिल्म तक नहीं देखी। कहीं घूमने-फिरने भी नहीं गई। बिना अबसेंट किए हर दिन प्रैक्टिस उसकी आदत में शामिल है। बताया हुआ मूव जब तक सफलतापूर्वक नहीं कर लेती,वह प्रैक्टिस करना नहीं छोड़ती। वह बेहद सिंसियर हैं।

अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं की तैयारी

भारतीय बैडमिंटन फेडरेशन के मुख्य कोच संजय मिश्रा ने बताया, अभी वे मालविका के खेल में पावर और स्पीड पर काम कर रहे हैं। यह अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं को जीतने में बहुत जरूरी है। उन्होंने उम्मीद जताई कि मालविका जल्दी ही बड़ी प्रतियोगिताओं में अपने खेल से उलटफेर करेंगी।

यहां प्रैक्टिस करते हुए जीती कई अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट

मालविका बंसोड़ ने रायपुर में ही प्रैक्टिस करते हुए कई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में जीत दर्ज की। 2019 में मालदीव में खेले गए इंटरनेशनल फ्यूचर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया। उसी साल नेपाल में आयोजित अन्नपूर्णा पोस्ट इंटरनेशनल सीरीज में जीत हासिल की। मार्च 2021 में मालविका ने कंपाला में आयोजित युगांडा इंटरनेशन बैडमिंटन टूर्नामेंट में जीत दर्ज की। अभी एक सप्ताह पहले उन्होंने ऑल इंडिया रैंकिंग जीती है। वह एशियन स्कूल बैडमिंटन चैंपियनशिप और साउथ एशियन अंडर-21 रीजनल बैडमिंटन चैंपियनशिप में भी गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं।

Share This Now :
Continue Reading
Advertisement

Advertisement



Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

राज्य एवं शहर2 hours ago

छत्तीसगढ़ : राज्यपाल ने श्रमिकों और सुरक्षा कर्मियों को कंबल वितरित किए 

रायपुर : राज्यपाल अनुसुईया उइके ने बढ़ते हुए ठंड को देखते हुए श्रमिकों, सुरक्षा कर्मियों तथा राजभवन के चतुर्थ श्रेणी...

CORONA VIRUS2 hours ago

छत्तीसगढ़ में आज कोरोना से 10 मरीजों की मौत, 4574 नए मामलों की पुष्टि, 5396 हुए ठीक ; रायपुर से 1208 और दुर्ग से 751 केस

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे कोरोना की तीसरी लहर में रोज नए मामलों के बढ़त देखी जा रहीं हैं। इसी बीच...

Special News5 hours ago

लघु वनोपजों की खरीदी में छत्तीसगढ़ पूरे देश में अव्वल

तीन वर्षों में छत्तीसगढ़ हर्बल उत्पाद की बिक्री में 1090% का इजाफा लघु वनोपजों से संवर रहा है छत्तीसगढ़ के...

Special News5 hours ago

CG : पुलिस ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट राजनांदगांव को बेस्ट पुलिस ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट के लिए यूनियन होम मिनिस्ट्री ट्रॉफी

नई दिल्ली, रायपुर, राजनांदगांव : भारत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ पुलिस को एक और पुरस्कार से नवाजा गया है । केंद्रीय...

दुखद5 hours ago

CG : विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत की बड़ी बहन संतरा महंत का निधन, CM बघेल ने गहरा दुख प्रकट किया

विधानसभा अध्यक्ष से फोन पर बात कर शोक संवेदना  प्रकट की रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संतरा महंत के...

Advertisement

CONNECT WITH US :

राज्य एवं शहर5 days ago

छत्तीसगढ़ में प्राइवेट संस्थान, शासकीय और केंद्र शासित कार्यालयों के लिए Work From Home का आदेश जारी ; देखिए दिशा निर्देश

दुखद4 days ago

रायपुर की न्यूज एंकर महिमा शर्मा का दर्दनाक सड़क हादसे में निधन, भिलाई में टैंकर ने कुचला, CG मीडिया जगत में शोक की लहर

CORONA VIRUS6 days ago

छत्तीसगढ़ में आज 5000 से ज्यादा नए मरीज़ मिले, 483 रिकवरी, 4 मौतें ; सार्वाधिक रायपुर से 1454 और दुर्ग से 950 मामले

CORONA VIRUS4 days ago

CG : दुर्ग में साइंस कॉलेज के 14 प्रोफेसर समेत 20 संक्रमित ; बूस्टर डोज के बाद भी MLA भसीन को हुआ COVID ; 11 जवान भी पॉजिटिव

CORONA VIRUS5 days ago

CG में आज 5500 के करीब नए कोरोना मामले मिले, 1933 हुए ठीक, 4 मौत ; सबसे ज्यादा रायपुर से 1785 और दुर्ग से 800 केस

देश-विदेश48 mins ago

पीएम मोदी ने निवेशकों को लुभाने के लिए गिनाए 10 बड़े बदलाव, कहा- मुश्किल के दौर खत्म ; WEF को वर्चुअल तरीके से संबोधित किया

आस्था5 days ago

CG : ‘रायपुर के तेलीबांधा में जनसहयोग से मौली माता मंदिर का होगा पुनर्निर्माण’, माहपौर एजाज ढेबर से मिले समिति के सदस्य : VIDEO

CORONA VIRUS1 week ago

CG : दुर्ग जिले में कलेक्टर डॉ. एसएन भुरे ने बूस्टर डोज लगवाकर की वैक्सीनेशन अभियान की शुरूआत ; कहा-प्रिकाशन जरूरी : देखिए वीडियो

राजनीति1 week ago

CG : भिलाई नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर नीरज ने कहा, CM के भरोसे पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करूंगा : देखिए वीडियो

Career1 week ago

CG : परीक्षा ऑनलाइन लेने सहित इन 3 मांगों को लेकर, NSUI ने आकाश कनोजिया के नेतृत्व में HYV दुर्ग में सौंपा ज्ञापन

Top 10 News

Must Read

Special News1 day ago

CG : राजनांदगांव में जन्मा तीन आंखों वाला बछड़ा, ग्रामीणों ने बताया शिव का अवतार ; वेटरनरी डॉक्टर बोले हार्मोनल डिसॉर्डर

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में एक गाय का बछड़ा तीन आंखों की वजह से लोगों के लिए कौतूहल...

Special News2 days ago

CG : साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका को दुर्ग की आकर्षी कश्यप ने इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया पराजए

दुर्ग : छत्तीसगढ़ के दुर्ग की बैडमिंटन खिलाड़ी आकर्षी कश्यप ने नई दिल्ली में चल रहे इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप...

Special News2 days ago

CG : कोरोना के साय तले नन्हीं जिंदगी का आगमन ; डॉक्टर्स की टीम ने कोरोना संक्रमित महिला का किया सफलता पूर्वक प्रसव ; दोनों स्वस्थ

राजनांदगांव : सुदूर वनांचल क्षेत्र मानपुर विकासखंड के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मानपुर में डॉक्टरों की टीम ने कोरोना पॉजिटिव महिला...

Special News2 days ago

CG : दुर्ग की निवेदिता शर्मा का भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर पद पर हुआ चयन ; कर्नल से मिलकर एयरफोर्स में जाने का बनाया था मन

दुर्ग : दुर्ग जिले की 21 वर्षीय बेटी निवेदिता शर्मा का बचपन से एक ही सपना था कि वह आसमान...

Special News2 days ago

74वां सेना दिवस : PM-राष्ट्रपति ने शुभकामनाएं दीं, आर्मी चीफ नरवणे बोले- 300-400 आतंकी घुसपैठ की ताक में

National Desk : आज 74वां भारतीय थल सेना दिवस है। इस अवसर पर दिल्ली के करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड...

Advertisement

Trending