Tuesday, March 5, 2024

दुनिया की टॉप 10 ड्रिंक्स में भारत ने मारी बाजी, टॉप-3 में दो भारतीय ड्रिंक का कब्जा

Top 10 Non Alcoholic Drinks: हाल ही में दुनिया के सबसे लजीज व्यंजन की एक सूची जारी हुई थी जिसमें कई भारतीय डिशेज ने अपनी जगह बनाई थी. हालांकि अब दुनिया के सबसे अच्छे नॉन-अल्कोहलिक ड्रिंक्स की लिस्ट सामने आई है जिसमें आपको कई सारे स्वादिष्ट ड्रिंक पदार्थ शामिल हैं, लेकिन इसमें भारत की दो ड्रिंक्स ने टॉप 10 में जगह बनाकर सभी को हैरान कर दिया है.

मजेदार बात यह है कि भारतीयों को सबसे ज्यादा पसंद मसाला चाय ने इस सूची में दूसरा स्थान हासिल किया है. इस लिस्ट को TasteAtlas नाम के रेस्टोरेंट ने अपनी डिक्शनरी में जारी किया है, इसके तहत दुनिया के टॉप 10 नॉन एल्कॉहलिक ड्रिंक्स में भारत के 2 शामिल हैं. आइए लिस्ट के हिसाब से टॉप 10 ड्रिंक्स को देखते हैं-

टॉप-3 में दो भारतीय ड्रिंक्स का कब्जा

इस लिस्ट में मेक्सिको की अगुआस फ्रेसकास (Aguas Frescas) ड्रिंक को पहला स्थाल मिला है जो कि फल, खीरे, फूल, बीज और अनाज के कॉम्बिनेशन से बने ताजा और ठंडे ड्रिंक होते हैं. वहीं भारत की मसाला चाय को दूसरा स्थान मिला है, यह मिट्टी के बर्तन में गर्म मसालों और दूध के मिश्रण से पकाई गई सुगंधित चाय आपको किसी भी ठंडे दिन में गर्माहट और ऊर्जा प्रदान करती है. इसे खासकर दक्षिण भारत में काफी पसंद किया जाता है. इतना ही नहीं टॉप-3 में तीसरा नाम भारत की आम लस्सी है जो कि ताजा आम, दही, पानी और मसालों से बनाई जाती है. इसकी मलाईदार और झागदार बनावट लाजवाब है जिसके चलते ही इसे तीसरा स्थान मिला है.

भारत की इन ड्रिंक्स को भी मिली है जगह

टॉप -10 भारत के भले ही सिर्फ दो ड्रिंक्स शामिल हों लेकिन इस लिस्ट में कई और ड्रिंक्स भी हैं जिन्होंने अपनी जगह बनाई है. इस लिस्ट में बटर मिल्क (दही से बना ये हल्का ड्रिंक गर्मी के दिनों में बेहतरीन होता है), नारियल पानी (प्राकृतिक इलेक्ट्रोलाइट्स से भरपूर ये पानी हाइड्रेट करने के लिए फायदेमंद है), कांजी (चुकंदर और मसालों से बना ये हेल्दी ड्रिंक पाचन तंत्र को मजबूत करता है), शरबत (फलों, गुलाब की पंखुड़ियों या तुलसी के पत्तों से बना ये शीतल ड्रिंक गर्मियों में राहत देता है), बेल का शरबत (ठंडा और लाल रंग का ये ड्रिंक गर्मियों में गर्मी दूर भगाता है), कन्नड़ की कॉफी (दक्षिण भारत की फिल्टर कॉफी दुनियाभर में मशहूर है) और जलेबी वाला दूध (गर्म दूध में जलेबी मिलाकर बनाया ये मीठा ड्रिंक खास अवसरों पर पिया जाता है) भी शामिल है.

लिस्ट में इन देशों की ड्रिंक्स का नाम भी है शामिल

पूर्वी और मध्य यूरोप में विभिन्न फलों को पानी में पका कर बनाया जाने वाला कम्पोट स्वास्थ्यवर्धक और स्वादिष्ट होता है, जो कि लिस्ट में चौथे पायदान पर काबिज है. कोरिया में बनने वाली हॉर्सटेल टी का नाम पांचवे पायदान पर शामिल है जो कि विटामिन C और हर्बल चाय एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है. इसका हल्का घास जैसा स्वाद और पीले रंग का पानी अनोखा अनुभव देता है. जमैका की हाइबिस्कस टी भी विटामिन C और खनिजों का खजाना है, गहरे लाल रंग की ये चाय अपने खट्टे-मीठे स्वाद और फूलों की तरह सुगंध से ताजगी भर देती है.

रूस की इन ड्रिंक्स के भी लोग हैं दीवाने

रूस के दो ड्रिंक्स केफिर और क्वास का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है. जहां केफिर फरमेंटेड मिल्क ड्रिंक हल्के खट्टेपन और चटपटे स्वाद के चलते लोगों के बीच लोकप्रिय है तो वहीं पर ये प्रोबायोटिक्स का भी अच्छा स्रोत है और पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद है. क्वास की बात करें तो ये राई की रोटी के फरमेंटेशन से बना एक पारंपरिक रूसी ड्रिंक है, जिसका मीठा-खट्टा स्वाद और हल्की स्पार्कलिंग बनावट इसे खास बनाती है. मेक्सिको में मक्का और फल के छिलकों से बनी यार्मो भी फरमेंटेड ड्रिंक है जिसका हल्का मीठा स्वाद और पौष्टिकता इसे मेक्सिको में काफी लोकप्रिय बनाती है.

लोगों को पसंद आते हैं ये मशहूर ड्रिंक्स

इसके अलावा दक्षिण अमेरिका में कद्दूकूस वाली पत्तियों से बनी माटे चाय एनर्जी बढ़ाने और दिमाग को सुचारू करने में मदद करती है. इसका हल्का कड़वा स्वाद कुछ लोगों को न भाए, लेकिन पोषण के लिए इसे पसंद किया जाता है. मिस्त्र में चावल के पानी के पानी को फ्रेगमेंट करके बनाया जाने वाला अइरान ड्रिंक प्रोबायोटिक्स और विटामिन B भरपूर होता है. इसका हल्का खट्टा-मीठा स्वाद और पतली बनावट प्यास बुझाने के लिए बेहतरीन है. वहीं ब्राजील में कच्चे कोकोआ के फलों से बनने वाला कोको डा बाइया भी इस लिस्ट में शामिल है जिसका हल्का चॉकलेटी स्वाद और विटामिन खनिजों से भरपूर होना इसे हेल्थी विकल्प बनाता है.

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang