Connect with us

विज्ञान

अंतरिक्ष में होगा भारतीय स्टार्टअप्स के सैटेलाइट्स का दबदबा, ISRO ने पहली बार की प्राइवेट उपग्रहों की टेस्टिंग

Published

on

Share This Now :

National Desk : भारतीय स्टार्टअप्स द्वारा दो उपग्रहों SpaceKidz India और Pixxel का भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के यूआर राव सैटेलाइट केंद्र में परीक्षण किया गया। यह अंतरिक्ष एजेंसी के लिए पहला मामला है, जिसने अब तक केवल उपग्रहों और रॉकेटों के विभिन्न भागों के निर्माण में मदद की है।

यह भारत द्वारा पिछले साल जून में अपने अंतरिक्ष क्षेत्र को निजी खिलाड़ियों के लिए खोलने के बाद संभव हो पाया है। एक स्वतंत्र भारतीय राष्ट्रीय अंतरिक्ष संवर्धन और प्राधिकरण केंद्र (IN-SPACe) की स्थापना न केवल निजी क्षेत्र की अंतरिक्ष गतिविधि की देखरेख करने के लिए की गई थी, बल्कि इसरो की सुविधाओं को संभालने और साझा करने के लिए भी इसकी परिकल्पना की गई थी।

इस घोषणा के ठीक आठ महीने बाद, ISRO इन कॉमर्सियल उपग्रहों को इस महीने के अंत में निर्धारित PSLV मिशन में लॉन्च करने के लिए तैयार है। यह पहला मिशन होगा जहां भारतीय उद्योग द्वारा उपग्रहों को व्यावसायिक रूप से इसरो द्वारा लॉन्च किया जाएगा।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

स्पेसक्रिडज़ इंडिया के छात्रों द्वारा डिज़ाइन किया गया एक उपग्रह इसरो द्वारा जनवरी 2019 में एक प्रयोग के रूप में पीएसएलवी के तीसरे चरण का उपयोग करके लॉन्च किया गया था, जो आमतौर पर बेकार हो जाता है।

पीएसएलवी सी-51 मिशन एक अमेरिकी उपग्रह अमोनिया-1 को न्यूस्पेस इंडिया द्वारा सीमित कॉमर्सियल व्यवस्था के तहत ले जाएगा। आपको बता दें कि यह इसरो की एक कॉमर्सियल शाखा है। इसके अलावा प्रक्षेपण यान 20 यात्री उपग्रहों को भी साथ ले जाएगा। इनमें इसरो का एक नैनोसेटेलाइट भी शामिल है।

एक अन्य स्टार्टअप Skyroot एक लॉन्चिग वाहन विकसित करने की दिशा में काम कर रहा है, जो कि साल के अंत तक लॉन्च होने की संभावना है।

Share This Now :
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विज्ञान

भारत ने अग्नि-5 का किया सफल परीक्षण, 5 हजार किलोमीटर तक मार करने में सक्षम, जद में पूरा चीन और पाकिस्तान

Published

on

Share This Now :

National Desk : पांच हजार किलोमीटर तक मारक क्षमता वाले अग्नि-5 मिसाइल का बुधवार को सफल परीक्षण किया गया। जमीन से जमीन पर मार करने वाला इस बैलेस्टिक मिसाइल को ओडिशा के एपीजे अब्दुल कलाम आइलैंड से लॉन्च किया गया। यह बेहद सटीकता के साथ वार करने वाले इस मिसाइल की जद में पूरा चीन और पाकिस्तान है।

अधिकारियों ने मिसाइल के सफल परीक्षण की जानकारी देते हुए कहा कि ‘पहले इस्तेमाल न करने’ की नीति के प्रति भारत की प्रतिबद्धता के साथ इसका परीक्षण किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि ओडिशा में एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से देर शाम करीब 7:50 बजे परीक्षण किया गया। इसमें तीन चरण के ठोस ईंधन वाले इंजन का उपयोग हुआ है। अग्नि-5 एक भारतीय परमाणु-सक्षम अंतरमहाद्वीपीय बैलस्टिकि मिसाइल (आईसीबीएम) है, जिसे रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने विकसित किया है।

भारत ने इस मिसाइल का एक और परीक्षण ऐसे समय पर किया है जब, पड़ोसी देश चीन के साथ सीमा पर डेढ़ साल से अधिक समय से तनाव है। दूसरी तरफ पाकिस्तान के साथ सीमा पर सीजफायर चल रहा है, लेकिन पड़ोसी मुल्क आतंकियों को भेजकर माहौल बिगाड़ने की साजिश में जुटा है।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

अग्नि 5 की खास बातें
– अग्नि 5 तीन चरणों में मार करने वाली मिसाइल है।
– ये 17 मीटर लंबी, दो मीटर चौड़ी है।
– 1.5 टन तक के परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है।
– इस श्रृंखला की अन्य मिसाइलों के उलट अग्नि 5 मार्ग और दिशा-निर्देशन, विस्फोटक ले जाने वाले शीर्ष हिस्से और इंजन के लिहाज से सबसे उन्नत है।

Share This Now :
Continue Reading

राज्य एवं शहर

CG BREAKING : बिजली की दर 6 प्रतिशत बढ़ी, लागू हो गयी है नयी दरें, जानिए नई कीमतें

Published

on

Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ में बिजली उपभोक्ताओं को बड़ा झटका लगा है। छत्तीसगढ़ में बिजली की दर बढ़ गयी है। 3 साल के बाद छत्तीसगढ़ में बिजली की कीमत बढ़ी है। विद्युत नियामक आयोग ने नये टैरिफ का ऐलान किया है। जानकारी के मुताबिक औसत 48 पैसे प्रति युनिट बिजली की कीमत बढ़ी है। हालांकि कुछ राहत की भी खबर है। टैरिफ 1 अगस्त से लागू हो जायेगा।

बिजली नियामक आयोग ने कहा है कि घरेलू उपभोक्ताओं से फिक्सड चार्ज लिया जायेगा। बिजली नियामक आयोग ने निर्देश दिया है कि अब 5000 रूपये से ज्यादा बिजली बिल का भुगतान आनलाइन किया जायेगा।

गैर सब्सिडी वाले कृषि पंप को उर्जा प्रभार में 10 प्रतिशत की छूट को 20 प्रतिशत किया गया है। चेयरमैन हेमंत वर्मा के मुताबिक राजस्व में लगातार कमी की वजह से ये बढ़ोत्तरी की जानी जरूरी थी। पिछले साल भी इसमें बढ़ोत्तरी किया जाना था, लेकिन नहीं किया जा सका।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical
Share This Now :
Continue Reading

विज्ञान

नासा ने की भविष्यवाणी, चांद पर होने वाली हलचल से दुनिया में आएगी भयानक बाढ़

Published

on

Share This Now :

World Desk : नासा ने एक अध्यन किया है जिसमें बताया गया है कि चंद्रमा की कक्षा में थोड़ी-सी भी ‘हलचल’ हुई तो समुद्र का स्तर बढ़ जाएगा और 2030 के दशक में विनाशकारी बाढ़ आएगी। नासा की स्टडी के मुताबिक 9 साल बाद दुनिया पर बाढ़ का कहर देखने को मिलेगा। स्टडी में बताया गया है कि इसका सबसे ज्यागा असर अमेरिका पर देखने को मिलेगा। दुनिया भर में मौसम करवट ले रहा है, कई जगहों पर चक्रवाती तूफानों और बाढ़ की संख्या बढ़ गई है। अमेरिका में भी कुछ दिनों पहले कई चक्रवाती तूफान देखे गए थे। अब इस अध्यन ने खुलासा किया है कि अगर चांद की कक्षा में जरा-सी भी हलचल हुई तो दुनिया में भयानक बाढ़ आएगी और अमेरिकी तटरेखा को इसका सबसे ज्यादा खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

चंद्रमा की कक्षा में होने वाली हलचल से पैदा होने वाली तबाही से बचना है तो दुनिया को अभी से बचाव की योजनाएं बनानी होंगी। नासा की एक स्टडी के मुताबिक चंद्रमा हमेशा से ही समुद्री की लहरों पर असर डालता है। चांद में हलचल पैदा होने के बाद दुनिया के कई हिस्सों में बाढ़ आएगी। इसकी वजह से दुनिया के कई देशों में तटीय इलाकों न्यूसेंस फ्लड की समस्या होगी। इससे ज्यादा दिक्कत अमेरिका में होगी। क्योंकि उस देश में तटीय पर्यटन स्थल की संख्या अधिक है।

अध्ययन के प्रमुख लेखक और हवाई विश्वविद्यालय के एक सहायक प्रोफेसर फिल थॉम्पसन ने कहा कि चंद्रमा की कक्षा में ‘हलचल’ को पूरा होने में 18.6 साल लगते हैं। यहां हमें चंद्रमा की हलचल के बारे में जानने की जरूरत है।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

थॉम्पसन बताते हैं कि चंद्रमा में हलचल हमेशा से देखी जाती है लेकिन इसे खतरनाक बनाने वाली बात यह है कि ग्रह के गर्म होने के कारण सुमद्र का स्तर बढ़ जाएगा।

हलचल के इस चक्र के 2030 के दशक के मध्य में पूरा होने की उम्मीद है और समुद्र के बढ़ते स्तर के साथ विनाशकारी बाढ़ें आ सकती हैं।

नासा की वेबसाइट के अनुसार, जब चंद्रमा अपनी अण्डाकार कक्षा बनाता है, तो उसका वेग बदलता है जिससे “प्रकाश पक्ष” का हमारा दृष्टिकोण थोड़ा अलग कोणों पर दिखाई देता है। इसे ही वह चंद्रमा में हलचल पैदा होती है।

थॉम्पसन ने कहा है कि अगर एक महीने में 10-15 बार ऐसे ही बाढ़ आई तो जन-जीवन बुरी तरह प्रभावित हो जाएगा। लोगों के काम-काज रूक जाएंगे। पानी भरने से मच्छर होंगे, बिमारियां होंगी। दुनियाभर की बर्फ और ग्लेशियर ग्लोबल वॉर्मिंग की वजह से लगातार पिघल रहे हैं जिससे समुद्री जल स्तर बढ़ रहा है। ऐसे में नासा की इस भविष्यवाणी से दुनिया को सतर्क हो जाना चाहिए और बचाव योजनाएं बनाना शुरू कर देना चाहिए।

Share This Now :
Continue Reading
Advertisement

Video Advertisment

Advertisement



Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

CORONA VIRUS12 hours ago

छत्तीसगढ़ में आज कोरोना के 27 नए केस मिले, 32 रिकवरी : देखिए आपके जिले का हाल

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे आज 27 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार बीते...

राज्य एवं शहर13 hours ago

छत्तीसगढ़ : मतदान के दिन सरकारी अवकाश घोषित, 15 निकायों में होने हैं चुनाव : सरकार ने जारी किया अधिसूचना

रायपुर : निकाय चुनाव में मतदान के दिन सरकारी अवकाश घोषित किया गया है। जिन निकायों में चुनाव रहेगी वहां...

Special News15 hours ago

छत्तीसगढ़ में धूम मचा रही गोबर से बनी चप्पल, जानिए कीमत से लेकर इसकी खासियत

रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में गोबर की चप्पल इन दिनों आकर्षण का केंद्र बनी हुई है. गोकुल नगर...

खेल15 hours ago

छत्तीसगढ़ : U-16 डिस्टिक लेवल क्रिकेट प्रतियोगिता में नारायणपुर के यश ने बनाया रिकॉर्ड, लगातार 2 मैचों में जड़ा 2 ट्रिपल सेंचुरी

नारायणपुर : छत्तीसगढ़ का क्रिकेट का एक उभरता सितारा यश कुमार वर्धा ने रिकॉर्ड बनाया है। यश ने छत्तीसगढ़ स्टेट...

Career15 hours ago

छत्तीसगढ़ : GPM में छात्र निकला कोरोना पॉजिटिव, सभी छात्रों का कराया जा रहा टेस्ट अगले आदेश तक स्कूल बंद 

GPM : गौरेला विकासखंड के शासकीय स्कूल में एक छात्र के कोरोना संक्रमित निकलने के बाद हड़कंप मचा है। आनन-फानन...

Advertisement

CONNECT WITH US :

Top 10 News

Must Read

Special News2 days ago

किसान सम्मेलन और सम्मान समारोह के आयोजन में शामिल हुए CM, परिस्थितियाँ चाहें जैसी भी हों किसानों को खुशहाल बनाने के फैसले पर अडिग रहेंगे : बघेल

किसान सम्मेलन और सम्मान समारोह के आयोजन में शामिल हुए मुख्यमंत्री, मुख्यमंत्री ने प्रगतिशील कृषकों, कृषि से जुड़े स्व-सहायता समूहों...

Tech Gyan2 days ago

प्रीपेड यूजर्स के बाद अब पोस्टपेड ग्राहकों को झटका देने की तैयारी, 20 से 25 फीसदी तक महंगा हो सकता है प्लान

National Desk : दूरसंचार कंपिनयां प्रीपेड के बाद अब जल्द ही प्रोस्पेड ग्राहकों को झटका दे सकती है। सूत्रों के...

Special News3 days ago

CG : अचानक रायपुर के एक पार्टी में पहुंचे सोनू सूद, अपने बीच देख चौंके लोग ; मेयर एजाज ढेबर से भी मिले

  रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शनिवार शाम एक पार्टी में एक्टर सोनू सूद पहुंचे। पार्टी में शामिल...

Special News5 days ago

CG के CM भूपेश बघेल से उनके नई दिल्ली प्रवास के दौरान सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने सौजन्य मुलाकात की

नई दिल्ली : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज उनके नई दिल्ली प्रवास के दौरान सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेता श्री सोनू सूद...

Special News5 days ago

राष्ट्रीय स्तर पर फिर सम्मानित हुआ छत्तीसगढ़, दिव्यांगजनों के कल्याण के उत्कृष्ट कार्यों के लिए मिले 3 राष्ट्रीय पुरस्कार

रायपुर : दिव्यांगजनों के कल्याण के उत्कृष्ट कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को तीन राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाज़ा गया है। अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग...

Advertisement

Trending