Connect with us

राज्य एवं शहर

छत्तीसगढ़ के इन 11 जिलों में अब तक बढ़ाया गया लॉकडाउन ; देखिए पूरी लिस्ट

Published

on

Share This Now :

रायपुर : अब सूरजपुर जिले में भी 26 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है। ठेले वालों को घूम-घूम कर सब्जी बेचने की अनुमति दी गई है।  सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक सब्जी बेचने का समय निर्धारित किया गया है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ के 11 जिलों में लॉकडाउन बढ़ाया गया है।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

मिली जानकारी के अनुसार लॉकडाउन के दौरान इन जिलों में सब्जी विक्रेताओं को छूट रहेगी। स्ट्रीट वेंडर्स गली-मोहल्ले में घूमकर सब्जी, फल सहित अन्य सामानों का विक्रय कर सकेंगे। वहीं, पाबंदी के दौरान अति आवश्यक सेवाओं को भी छूट दी गई है।

इन जिलों के बढ़ायाया गया लॉकडाउन

1. दुर्ग-            6 अप्रैल से 19 अप्रैल-                26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
2. रायपुर-         9 अप्रैल से 19 अप्रैल-               26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
3. राजनांदगांव-         10 अप्रैल से 19 अप्रैल-       26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
4. बेमेतरा-                10 अप्रैल से 19 अप्रैल
5. बालोद-                10 अप्रैल से 19 अप्रैल-       26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
6. बलौदाबाजार-         11 अप्रैल से 21 अप्रैल
7. कोरिया-         11 अप्रैल से 19 अप्रैल
8. धमतरी-         11 अप्रैल से 26 अप्रैल
9. जशपुर-                11 अप्रैल से 18 अप्रैल-       26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
10. कोरबा-         12 अप्रैल से 21 अप्रैल-            27 अप्रैल तक बढ़ाया गया
11. सूरजपुर- 13 अप्रैल से 23 अप्रैल      –             26 अप्रैल तक बढ़ाया
12. सरगुजा-         13 अप्रैल से 23 अप्रैल
13. जांजगीर- 13 अप्रैल से 23 अप्रैल
14. गरियाबंद-              13 अप्रैल से 23 अप्रैल-     26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
15. बिलासपुर- 14 अप्रैल से 21 अप्रैल
16. रायगढ़-         14 अप्रैल से 22 अप्रैल-              27 अप्रैल तक बढ़ाया गया
17. महासमुंद- 14 अप्रैल से 22 अप्रैल-                   26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
18. मुंगेली-                14 अप्रैल से 21 अप्रैल
19. बलरामपुर-            14 अप्रैल से 25 अप्रैल
20. पेंड्रा-                  14 अप्रैल से 21 अप्रैल-        26 अप्रैल तक बढ़ाया गया
21. कवर्धा-                15 दिन का अंशिक लॉक डाउन
22 जगदलपुर-              15 अप्रैल से 22 अप्रैल तक
23. बीजापुर-               16 अप्रैल से 26 अप्रैल तक
24. दंतेवाड़ा-              18 अप्रैल से 27 अप्रैल तक
25. नारायणपुर-           19 अप्रैल से 26 अप्रैल तक

Share This Now :
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

राज्य एवं शहर

छत्तीसगढ़ : अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर CM बघेल ने ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण’ कार्यक्रम को सम्बोधित किया 

Published

on

Share This Now :

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की जैव विविधता छत्तीसगढ़ का गौरव है। मुख्यमंत्री आज यहां अपने निवास कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण‘ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

मुख्यमंत्री ने कहा कि जैव विविधता के संरक्षण और संवर्धन के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाये गए हैं। छत्तीसगढ़ में मनेंद्रगढ़ के निकट हसदेव नदी के तट पर समुद्री फॉसिल्स पाए गए हैं। राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के इस स्थान के संरक्षण के लिए अगले महीने से यहां गोंडवाना मेरिन फॉसिल्स पार्क का काम भी शुरु हो जाएगा।

सीएम बघेल ने कहा कि राज्य की जैव विविधता प्रबंधन समितियों को आर्थिक संसाधन उपलब्ध कराने के लिए वर्ष 2020-21 से जैव विविधता संरक्षण हेतु नए बजट मद का सृजन किया गया है। इससे इन समितियों को हर वर्ष राशि उपलब्ध होगी। इसी तरह राज्य शासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि किसी भी वनोपज के विक्रय मूल्य की 02 प्रतिशत राशि स्थानीय जैव विविधता समिति को दी जाए। केवल तेंदूपत्ता के विक्रय से प्रतिवर्ष लगभग 1000 करोड़ रुपए प्राप्त होते हैं। इस तरह जैव विविधता प्रबंधन समितियों को हर साल केवल तेंदूपत्ता से लगभग 20 करोड़ रुपए की राशि प्राप्त होने की संभावना है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण‘ कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की जैव विविधता पर केन्द्रित दो लघु वृत्त चित्रों का लोकार्पण किया।

उन्होंने मनेन्द्रगढ़ वनमण्डल द्वारा तैयार किए जा रहे मैरिन फॉसिल्स पार्क पर आधारित फिल्म ‘छत्तीसगढ़ में जीवन चिन्ह: मानव अस्तित्व के परे‘ तथा राज्य के वनक्षेत्रों में पाए जाने वाले शैल चित्रों (केव पेन्टिंग्स) पर आधारित फिल्म ‘प्रथम अभिव्यक्ति‘ का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण‘ कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की जैव विविधता पर विभिन्न लेखकों की 6 पुस्तकों का विमोचन किया।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की जैव विविधता पर 6 पुस्तकों का किया विमोचन

मुख्यमंत्री बघेल ने कार्यक्रम में लेखक डॉ. शिवाजी चवन की पुस्तक ‘छत्तीसगढ़ स्टेट बायोडायवर्सिटी स्ट्रेटेजी एण्ड एक्शन प्लान 2022-30‘, भारतीय वन सेवा के अधिकारी श्री रामकृष्णा की गुरू घासीदास टाईगर रिजर्व में गुफा शैल चित्रों पर केन्द्रित पुस्तक ‘शेड्स ऑफ पास्ट‘, श्री गौरव निहलानी, श्री ज्ञानेन्द्र पाण्डेय, वसुन्धरा प्राकृतिक संरक्षण समिति की पुस्तक ‘छत्तीसगढ़ में ईको पर्यटन – संभावनाएं एवं चुनौतियां‘, श्री शैलेन्द्र उईके और भारतीय वन सेवा के श्री श्रीनिवास टी. की पुस्तक ‘अ फिल्ड गाईड टू फॉरेस्ट ग्रासेस ऑफ छत्तीसगढ़‘, डॉ. विवेक कुमार सिंघल तथा डॉ. हेमकांत चंद्रवंशी अंकित सेवा संस्थान की पुस्तक‘ बायोडायवर्सिटी इन छत्तीसगढ़्स स्वाईल‘ तथा ‘इनसेक्ट बायोडायवर्सिटी ऑफ छत्तीसगढ़‘ का विमोचन किया।

मुख्यमंत्री निवास में वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, कृषि मंत्री श्री रविंद्र चौबे, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रुद्र कुमार, विधायक श्री शैलेष पांडेय और राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष श्री रामगोपाल अग्रवाल, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख श्री राकेश चतुर्वेदी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम प्रदेश के विभिन्न जिलों के वन विभाग के अधिकारी और विशेषज्ञ भी शामिल हुए।

श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जैव विविधता बोर्ड का गठन वर्ष 2006 में कर लिया गया था, लेकिन इसके काम को प्रभावी तरीके से आगे बढ़ाने के लिए वर्ष 2020 में इसका पुनर्गठन किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जन जैव विविधता पंजी तैयार करने के काम में भी अच्छी प्रगति हुई है। गिधवा परसदा क्षेत्र में पक्षी जागरुकता एवं प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना की जा रही है। जैव विविधता संरक्षण के कामों को गति देने के उद्देश्य से राज्य शासन ने दिसंबर 2021 में राज्य वेटलैंड अथॉरिटी को पुनर्गठित किया गया है। इसी तरह प्रवासी पक्षियों के संरक्षण के 07 वैटलैंड की सर्वे रिपोर्ट तैयार हो चुकी है। राज्य के वनक्षेत्रों के कई जिलों में प्रागैतिहासिक काल के भित्त-चित्र मिले हैं, इन्हें भी संरक्षित करने की योजना तैयार की जा रही है।

वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि जैव विविधता का संरक्षण और संवर्धन पर्यावरण संतुलन के लिए भी बहुत आवश्यक है। इसके असंतुलन से बाढ़, सूखा, तूफान जैसी आपदाओं का खतरा बढ़ता है। उन्होंने कहा कि गिधवा-परसदा में चिड़ियों के संरक्षण के लिए पार्क विकसित किया जा रहा है। यहां देश-विदेश के 150 प्रकार के पक्षी आते हैं। श्री अकबर ने कहा कि राज्य के स्थानीय निकायों में 12 हजार 04 जैव विविधता प्रबंधन समितियों का गठन किया जा चुका है। ग्राम पंचायतों में लगभग 4246 जन जैव विविधता पंजी तैयार हो चुकी है, जो आने वाली पीढ़ियों के लिए उपयोगी होगी। उन्होंने कहा कि जैव विविधता के संरक्षण और संवर्धन के कार्याें को गति मिलने से रोजगार के अवसर बढे़ंगे, पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और लोगों में जागरूकता आएगी। वन विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ की समृद्ध जैव विविधता को संरक्षण करने के लिए लोगों में जागरूकता लाने आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान जैव विविधता, पालतू पशुओं के संरक्षण, जैव सांस्कृतिक विविधता के संरक्षण के क्षेत्र में काम कर रही संस्थाओं, व्यक्तियों एवं जैव प्रबंधन समितियों के लिए पुरस्कार घोषित किए। कार्यक्रम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े वनमंडलाधिकारियों द्वारा सम्बन्धितों को पुरस्कृत किया। ये पुरस्कार वन्य प्राणियों के संरक्षण एवं पालतू प्रजातियों के संरक्षण, जैव संसाधनों का पोषणीय उपयोग, सभ्यता संस्कृति एवं धरोहर से जैव विविधता संरक्षण तथा श्रेष्ठ जैव विविधता प्रबंधन समिति की श्रेणियों में दिए गए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर वन विभाग द्वारा मनेंद्रगढ़ फॉसिल पार्क, रॉक आर्ट पर आधारित- प्रथम अभिव्यक्ति एवं प्रस्तावित पक्षी जागरुकता संबंधी तैयार किए गए लघु वृत्त चित्रों का लोकार्पण तथा जैव विविधता से संबंधित 06 किताबों का विमोचन किया।

कार्यक्रम में अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं छत्तीसगढ़ जैव विविधता बोर्ड के सचिव श्री अरूण कुमार पाण्डेय ने बोर्ड के कार्याें के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी संरक्षण) श्री पी. व्ही. नरसिम्हा राव वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के सचिव श्री प्रेम कुमार भी उपस्थित थे। बीरबल साहनी पुरा विज्ञान संस्थान लखनऊ के विशेषज्ञ डॉ. सुरेश कुमार पिल्लई और शैल चित्र विशेषज्ञ डॉ. मीनाक्षी दुबे पाठक भी कार्यक्रम से वर्चुअल माध्यम से जुड़ी।

Share This Now :
Continue Reading

क्राइम

CG : राजनांदगांव में चाय के दाम को लेकर जमकर उपद्रव, 200 से ज्यादा लोगों ने ढाबे पर किया तोड़फोड़, कर्मचारी भागे ; फोर्स तैनात

Published

on

Share This Now :

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के संस्कारधानी कहे जाने वाली राजनांदगांव जिले में रविवार सुबह जमकर बवाल हुआ। उपद्रवियों ने एक ढाबे पर हमला कर दिया। जमकर ईंट-पत्थर फेंके गए। वहां रखी कुर्सियां और अन्य सामान तोड़ डाला। उपद्रवियों ने ढाबा संचालक और उसके भाई पर धारदार हथियार से भी वार किया। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। खास बात यह है कि शहर में उपद्रव होता रहा और पुलिस को पता तक नहीं चला। अब फोर्स तैनात है। अभी FIR दर्ज नहीं की गई है।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

जानकारी के मुताबिक, राजनांदगांव-दुर्ग नेशनल हाईवे पर दीपक यादव का ‘हमारा ढाबा’ के नाम से ढाबा संचालित होता है। सुबह करीब 5.30 बजे 15-20 युवक ढाबे पर चाय पीने के लिए पहुंचे थे। चाय पीने के बाद जब बिल दिया गया तो युवक भड़क गए। ढाबा संचालक से ज्यादा रुपए लेने की बात कहते हुए विवाद शुरू हो गया। ढाबा संचालक दीपक ने बिल सही होने की बात कही। इसके बाद युवक रुपए देकर चले गए और मामला शांत हो गया।

उपद्रवियों को देख जान बचाकर भागे ढाबा के कर्मचारी

बताया जा रहा है कि करीब डेढ़-दो घंटे बाद 150 से 200 लोगों की भीड़ पहुंची और ढाबे पर हमला कर दिया। इससे पहले कि ढाबा संचालक दीपक और उसका भाई गौरव कुछ समझ पाते भीड़ ने तोड़फोड़ शुरू कर दी। इतने सारे लोगों को एक साथ देख ढाबे में काम कर रहे कर्मचारियों के होश उड़ गए। वह जान बचाकर वहां से भाग निकले। इस दौरान लोगों ने संचालक दीपक और उसके भाई को पकड़ लिया। दोनों को जमकर पीटा और धारदार हथियार से वार किया।

ढाबे पर उपद्रव के बाद फोर्स के जवान तैनात

हमले की सूचना सोमानी थाना पुलिस को काफी देर बाद लगी। इस पर फोर्स को भेजा गया। हालांकि तब तक मामला शांत हो चुका था। दोनों भाइयों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ढाबे पर स्पेशल फोर्स के जवान तैनात किए गए हैं।

बताया जा रहा है कि शहर के नजदीक ही एक धार्मिक आयोजन में लोग शामिल होने के लिए आए थे। उन्हीं में से कुछ लोग चाय पीने गए। इसके बाद उपद्रवियों ने ढाबे पर हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि पुलिस समझौते के प्रयास में लगी है।

एक घंटे तक चला उपद्रव

बताया जा रहा है कि ढाबा संचालक दीपक दुर्ग का रहने वाला है। उसका ढाबे का बड़ा कारोबार है। वहीं पर तीन-चार ढाबे संचालित होते हैं। उपद्रवी करीब एक घंटे तक ढाबे में तोड़फोड़ और हंगामा करते रहे, लेकिन पुलिस को पता ही नहीं चल सका। आसपास के लोगों ने सूचना दी, इसके बाद फोर्स पहुंची। तब तक उपद्रवी भाग चुके थे। वहां लगे CCTV से भी उपद्रवियों की पहचान नहीं की गई है। दूसरी ओर पुलिस के आला अधिकारी भी इस पर कुछ नहीं बोल रहे हैं।

Share This Now :
Continue Reading

राज्य एवं शहर

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बालोद के महिला महाविद्यालय का नामकरण भक्त माता कर्मा के नाम करने की घोषणा की

Published

on

Share This Now :

बालोद : प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार जिला मुख्यालय बालोद में आयोजित जिला स्तरीय कर्मा महोत्सव एवं भूमिपूजन समारोह में शामिल हुए। साहू समाज के पदाधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री का फूलमाला से उत्साहपूर्वक स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भक्त माता कर्मा जंयती की बधाई और शुभकामनाएॅ दी। उन्होंने भक्त माता कर्मा उल्लेख करते हुए कहा कि यदि भगवान के प्रति अटूट विश्वास, श्रद्धा और समर्पण है, तो मनोकामना जरूर पूरी होती है।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

माता कर्मा ने यह साबित किया था कि भक्त की श्रद्धा और भक्ति में यह शक्ति है कि भगवान को भी प्रकट होने पर विवश कर दे। मुख्यमंत्री ने इससे पहले भक्त माता कर्मा की छायाचित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलित कर प्रदेश की सुख समृद्धि और खुशहाली की कामना की। उन्होंने जिला साहू समाज के भवन निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया और निर्माण कार्य के लिए 50 लाख रूपए स्वीकृत किए जाने की घोषणा की। उन्होंने बालोद के महिला महाविद्यालय का नाम भक्त माता कर्मा के नाम पर किए जाने की घोषणा की। 

मुख्यमंत्री बघेल ने साहू समाज के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि कल पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय श्री राजीव गॉधी की पुण्यतिथि पर प्रदेश के 26 लाख 68 हजार से अधिक किसानों, भूमिहीन कृषि मजदूरों, पशुपालकों एवं स्वसहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को 1804 करोड़ 50 लाख रूपए की राशि सीधे उनके बैंक खाते में अंतरित की गई। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है, जिसने न्याय योजना के माध्यम से प्रत्येक व्यक्ति के सामाजिक और आर्थिक अधिकार को सुनिश्चित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत बालोद जिले के 01 लाख 35 हजार 896 किसानों के बैंक खाते में प्रथम किस्त की राशि 87 करोड़ 27 लाख 07 हजार 612 रूपए अंतरित की गई।

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के अंतर्गत बालोद जिले के 12 हजार 859 हितग्राहियों को 02 करोड़ 57 लाख 18 हजार रूपए अंतरित की गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के धान के समर्थन मूल्य के साथ-साथ लघु वनोपजों का भी समर्थन मूल्य पर खरीदी की जा रही है। पहले 07 प्रकार के लघु वनोपजों की खरीदी की जाती थी अब 65 प्रकार के लघु वनोपजों की खरीदी की जा रही है। 

जिले के प्रभारी मंत्री श्री उमेश पटेल और संजारी-बालोद विधायक श्रीमती संगीता सिन्हा ने भी कार्यक्रम को संबोधित कर भक्त माता कर्मा जयंती की बधाई एवं शुभकामनाएॅ दी। कार्यक्रम की समाप्ति पर मुख्यमंत्री को साहू समाज द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर तेलघानी बोर्ड के अध्यक्ष श्री संदीप साहू, छत्तीसगढ़ प्रदेश साहू संघ के अध्यक्ष श्री टहल साहू, जिला साहू संघ के अध्यक्ष श्री सोमन लाल साहू सहित साहू समाज के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री विकास चोपड़ा, कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे, पुलिस अधीक्षक श्री गोवर्धन राम ठाकुर, क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Share This Now :
Continue Reading

R.O No. 12027/80

Advertisment

Advertisement

Advertisement

Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

राज्य एवं शहर8 hours ago

छत्तीसगढ़ : अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर CM बघेल ने ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण’ कार्यक्रम को सम्बोधित किया 

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की जैव विविधता छत्तीसगढ़ का गौरव है। मुख्यमंत्री आज यहां...

क्राइम8 hours ago

CG : राजनांदगांव में चाय के दाम को लेकर जमकर उपद्रव, 200 से ज्यादा लोगों ने ढाबे पर किया तोड़फोड़, कर्मचारी भागे ; फोर्स तैनात

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के संस्कारधानी कहे जाने वाली राजनांदगांव जिले में रविवार सुबह जमकर बवाल हुआ। उपद्रवियों ने एक ढाबे...

राज्य एवं शहर9 hours ago

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बालोद के महिला महाविद्यालय का नामकरण भक्त माता कर्मा के नाम करने की घोषणा की

बालोद : प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार जिला मुख्यालय बालोद में आयोजित जिला स्तरीय कर्मा महोत्सव एवं भूमिपूजन समारोह...

CORONA VIRUS11 hours ago

छत्तीसगढ़ के 3 जिलों में कुल 9 नए कोरोना मरीज़ मिले, एक्टिव केस बढ़कर हुए 44 ; 16 जिले संक्रमण फ्री : देखिए

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे आज कोरोना के 9 नए मरीज़ मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार...

Special News18 hours ago

CG : कांकेर वनमण्डल ने दस हजार ग्रीन हैंड प्रिंट लेकर बनाया लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड ; वन विभाग के प्रयास की हो रहीं हैं सराहना

कांकेर : छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में प्रकृति को बचाने के लिए कांकेर वन मंडल ने एक अनोखे आयोजन किया।...

Advertisement

CONNECT WITH US :

राज्य एवं शहर8 hours ago

छत्तीसगढ़ : अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर CM बघेल ने ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण’ कार्यक्रम को सम्बोधित किया 

क्राइम8 hours ago

CG : राजनांदगांव में चाय के दाम को लेकर जमकर उपद्रव, 200 से ज्यादा लोगों ने ढाबे पर किया तोड़फोड़, कर्मचारी भागे ; फोर्स तैनात

राज्य एवं शहर9 hours ago

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बालोद के महिला महाविद्यालय का नामकरण भक्त माता कर्मा के नाम करने की घोषणा की

CORONA VIRUS11 hours ago

छत्तीसगढ़ के 3 जिलों में कुल 9 नए कोरोना मरीज़ मिले, एक्टिव केस बढ़कर हुए 44 ; 16 जिले संक्रमण फ्री : देखिए

खेल15 hours ago

SA के खिलाफ T20 के लिए टीम इंडिया का ऐलान, राहुल होंगे कप्तान, दिनेश और उमरान की एंट्री ; ENG के खिलाफ टेस्ट के लिए भी टीम घोषित, पुजारा की वापसी

आस्था7 days ago

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे में जिस जगह पर शिवलिंग मिला उसे तुरंत सील करने का कोर्ट ने दिया आदेश ; वजू पर पाबंदी

क्राइम6 days ago

छत्तीसगढ़ : रायपुर में ​​​​​​​अनाज कारोबारी से 50 लाख की लूट ; डूमरतराई में 9 बाइक सवारों ने घेरकर पीटा ; फिर बैग लेकर हुए फरार

Special News4 days ago

CG : कभी नक्सली कमांडर रहे मड़कम मुदराज ने CM को सुनाई आपबीती…कहा आत्मग्लानि में किया सरेंडर, आज हूं इंस्पेक्टर : देखिए वीडियो

क्राइम5 days ago

CG : मीना खलखो हत्याकांड में 3 पुलिसकर्मी बरी, बलरामपुर में नक्सली बताकर युवती की हुई थी हत्या ; 11 साल बाद कोर्ट का फैसला

राजनीति7 days ago

छत्तीसगढ़ में भाजपा का जेल भरो आंदोलन जारी, रायपुर में बृजमोहन अग्रवाल सहित 2000 कार्यकर्ता गिरफ्तार ; अन्य जिलों में भी जारी है प्रदर्शन

क्राइम2 days ago

छत्तीसगढ़ के चित्रकोट फॉल से कूद कर युवती ने किया सुसाइड, पानी की लहर में हो गई गुम ; दर्दनाक वीडियो वायरल

Special News4 days ago

छत्तीसगढ़ : जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी

राज्य एवं शहर4 days ago

CG : सुकमा में CM भूपेश के भेंट-मुलाकात 2.0 का पहला दिन : तोंगपाल होगा पूर्ण तहसील, स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार, खेल मैदान निर्माण ; देखिए झलकियां और घोषणाएं

आस्था6 days ago

वाराणसी : ज्ञानवापी के वजूखाने का पुराना वीडियो वायरल, देखें आपको शिवलिंग लगता है या फव्वारा ?

आस्था7 days ago

Video : बुद्ध पूर्णिमा के दिन लगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, अर्जेंटीना में दिखा अलग नजारा ; ग्रहण के बारे में जानिए हर एक डिटेल और पढ़ें 10 जरूरी बातें

Top 10 News

Must Read

Special News2 days ago

CG : पिता को नक्सलियों ने गांव से भगाया, बेटे ने जीता राष्ट्रीय मल्लखंभ प्रतियोगिता ; गिनीज बुक आफ रिकार्ड के नामांकन राशि के लिए CM बघेल ने दिए निर्देश

अबूझमाड़ से निकलकर 12 साल के राकेश ने जीती राष्ट्रीय मल्लखंभ प्रतियोगिता इंडिया बुक आफ रिकार्ड में शामिल हुआ नाम...

Special News4 days ago

छत्तीसगढ़ : जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी

मैं और मेरी पत्नी रातभर दो शिफ्ट में टॉर्च लेकर रखते हैं गोबर पर नजर : मंटूराम गोधन न्याय योजना...

Special News4 days ago

CG : कभी नक्सली कमांडर रहे मड़कम मुदराज ने CM को सुनाई आपबीती…कहा आत्मग्लानि में किया सरेंडर, आज हूं इंस्पेक्टर : देखिए वीडियो

मेरे बच्चे पढ़ रहे इंग्लिश मीडियम स्कूल में और जी रहे अच्छी लाइफ स्टाइल मड़कम के हाथों में हथियार अब...

Special News5 days ago

छत्तीसगढ़ सरकार के कृषि और आजीविका मॉडल को मिली सराहना ; श्रीनगर में आयोजित राष्ट्रीय सेमिनार में कृषि उत्पादन आयुक्त ने दिया प्रस्तुतीकरण

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राज्य में कृषि को समृद्ध और किसानों को खुशहाल...

Special News7 days ago

छत्तीसगढ़ : Dial 112 की टीम ने बचाई एक और जान : बिलासपुर में पंखे से फंदा लगाकर सुसाइड का प्रयास कर रहे युवक को पुलिस ने बचाया

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में डायल 112 की टीम ने एक युवक की जान बचाई। सोमवार को फांसी लगाकर...

Advertisement
Advertisement

Trending