Monday, January 30, 2023

उत्तरायण का सूर्य का पारंपरिक विशेष त्योहार मकर संक्रांति और लोहड़ी पर्व की विशेषता (पीठा व्यंजन ) विशेष लेख गोपा सान्याल

पश्चिम बंगाल में मकर संक्रांति के मौके पर हर घर की रसोई से तिल गुड़ की पाक और नए चावल के बने विविध प्रकार पीठे की खुशबू पौष पार्वण को खुशियों से भर देती है। यह नया चावल या नया अन्न, बांग्ला में ‘नबो-अन्नो’के व्यंजनों के साथ ‘पौष पार्बोन’ (पौष पर्व) के रूप में मनाया जाता है।

दूधपुली पीठा

मकर संक्रांति हो और पश्चिम बंगाल में पीठा की मिठास न हो, ऐसा हो नहीं सकता। अपनी धनी सांस्कृतिक विरासत के लिए विख्यात पश्चिम बंगाल स्वाद के मामले में भी अग्रणी है। पश्चिम बंगाल (बांग्लादेश में भी) के अलावा त्रिपुरा, असम, मेघालय व उड़ीसा में भी पीठा की परंपरा है।

पाटीशापटा पीठा

माघ और पौष के इन महीनों में घर-घर में पीठा छा जाता है। चावल के आटे की लोई में भरे मीठे नारियल के बारीक बुरादों वाले तरह-तरह के पीठे जो शुद्ध देसी खजूर के गुड़ की मीठी चाशनी में डूबे होते हैं।

इस समय फसल कट कर घर-घर में आ जाती है
यह नया चावल पहले आटा बना दिया जाता है और फिर उससे बनते हैं तरह-तरह के लज़ीज़ पीठे। तेलेर पीठा (तेल में फ्राई कर बनाया गया), भापा पीठा (गर्म भाप से उबाल कर बनाया गया), पाकानो पीठा, पूली पीठा, बेनी पीठा, दूधेर पीठा, भिजा पीठा, चंद्रो पूली, मूगेर पूली, दूध पूली, नकशी पीठा, पाटी-शापटा, ताल पीठा (ताड़ फल से बना), मूग पाकोन, गोकुल, चुई पीठा या चुटकी पीठा ये सब बंगाल के पारंपरिक पीठे हैं।

मूंग भजा पीठा एवं तिल फल्ली गुड़ पीठा

ये पीठे चावल के आटे, खजूर के गुड़, चीनी, ताड़ फल के रस, नारियल के बुरादे, काजू, पिस्ता, मीठे फल, आदि से तरह-तरह की प्रक्रिया द्वारा बनाए जाते हैं। ऊपर से इलायची, गुलाब फूल, गुलाब जल, मोगरा आदि की मदद से फ्लेवर दिया जाता है। यह तल कर,भून कर या भाप में उबाल कर कई तरीकों से बनाया जाता है।इसमें खजूर के गुड़, ताड़ फल व सूखे मेवे से बने ये पीठे इस मौसम में सेहत के लिए भी काफी लाभदायक हैं।बंगाल में पीठा केवल स्वाद बांटना ही नहीं है बल्कि खरीफ की नई फसल विशेष कर धान की फसल की खुशियों का इज़हार है। रिश्तों में गर्मी, मिठास व प्यार है पीठा।

लेख के साथ दर्शाये गये पीठा व्यंजन खजूर के गुड़ से पाटीशाप्ता पीठा,मूंग दाल भाजा पीठा और दूध पुली साथ मे मूंगफली और तिल की पापड़ी विशेष लेख की लेखिका श्रीमती गोपा सान्याल द्वारा स्वयं बनाया गया है

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang