Monday, January 30, 2023

नक्सलवाद सालभर में खत्म : अमित शाह का बड़ा बयान, कहा – 2024 के चुनाव से पहले देश से नक्सलवाद को खत्म करने की तैयारी

रायपुर। देश में नक्सलवाद की समस्या को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बड़ा बयान दिया है। कोरबा लोकसभा क्षेत्र में आयोजित सभा में शाह ने कहा कि 2024 के चुनाव से पहले देशभर में नक्सलवाद को खत्म करने की तैयारी है।

शाह ने कहा, हम पूरे नक्सलवाद से त्रस्त क्षेत्र को नक्सलवाद से मुक्त कराने की कगार पर पहुंचे हैं। कांग्रेस शासन में 2009 में देशभर में 2258 नक्सलवादी घटनाएं होती थीं। 2021 में घटकर 509 रह गई हैं। 2024 के चुनाव से पहले हमारा प्रयास रहेगा कि समग्र देश नक्सलवाद की चपेट से मुक्त हो जाए। जो युवा हथियार उठाते थे, उन्हें विकास से युक्त किया। रोजगार दिया। टेलीफोन टॉवर, स्कूल, रोड, पानी पहुंचाया। दूसरी ओर जिनके हाथ में हथियार थे, उनका सख्ती से मुकाबला कर उन्हें खत्म करने का काम भाजपा की सरकार ने किया है।शाह ने कहा, छत्तीसगढ़ ओबीसी से भरा हुआ प्रदेश है। आदिवासी भाइयों-बहनों से भरा हुआ प्रदेश है। कांग्रेस हमेशा पिछड़ा वर्ग की बात करती है, लेकिन पिछड़ा वर्ग को कुछ नहीं दिया था। भाजपा सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग की रचना की। पिछड़ा वर्ग के सभी भाइयों बहनों को संवैधानिक अधिकार देने का काम नरेंद्र मोदी ने किया है। पिछड़ा वर्ग में नीट की परीक्षा में आरक्षण की व्यवस्था की। नवोदय विद्यालय, केंद्रीय विद्यालय, सैनिक स्कूलों में पिछड़ा वर्ग के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था की। पिछड़ा वर्ग के उद्योगपतियों के लिए वेंचर कैपिटल फंड की रचना की।

आठ साल में ढेर सारे काम

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने गरीबों के लिए साढ़े आठ साल के अंदर ढेर सारे काम किए हैं। कांग्रेस ने नारा दिया था, गरीबी हटाओ। गरीबी तो नहीं हटी, गरीब हटने शुरू हो गए। भाजपा ने आजादी के 70 साल बाद देश के हर गरीब के घर में बैंक अकाउंट भेजने का काम किया। हर सहायता बैंक अकाउंट से डायरेक्टर बेनिफिट ट्रांसफर से आती है। हर घर के अंदर शौचालय देकर माताओं बहनों को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया। गरीबों को दस करोड़ से ज्यादा देशभर के शहरी और ग्रामीण गरीबों को घर देने का काम किया

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang