Connect with us

देश-विदेश

NIA और ED ने PFI के ठिकानों और उससे जुड़े लिंक पर 12 राज्यों में की छापेमारी

Published

on

Share This Now :

NIA ED ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया PFI के ठिकानों उससे जुड़े लिंक पर केरल तमिलनाडु समेत देशभर के 12 राज्यों में छापेमारी की है. राज्य पुलिस बलों की टीम के साथ केंद्रीय एजेंसीज ने टेरर फंडिंग के हवाला दूसरे चैन के साथ टेररट्रेनिंग कैंप्स मामलों में यूपी, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु समेत कई राज्यों में छापेमारी की है.

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

ये छापेमारी आतंकी गतिविधियों के संचालन, प्रशिक्षण शिविर चलाने प्रतिबंधित संगठनों में शामिल होने के लिए लोगों को कट्टरपंथी बनाने में शामिल व्यक्तियों के आवासीय आधिकारिक परिसरों में की गई है कुल 106 पीएफआई के लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जिसमें पीएफआई चेयरमैन दिल्ली चीफ भी शामिल हैं कुल-

  • दिल्ली 3
  • कार्नाटक 20
  • केरल 22
  • महाराष्ट्र 20
  • यूपी 8
  • एमपी 4
  • असम 9
  • आंध्र 5
  • राजस्थान 2
  • तमिलनाडु 10
  • पुडिचेरी 3 गिरफ्तारियां की गई हैं

ये छापेमारी गिरफ्तारियां इस लिए की गई हैं क्योंकि पहले की गई छापेमारियों में पीएफआई के खतरनाक मंसूबों टेरर फंडिंग टेरर कैंप्स के बारे में अहम लीड्स एजेंसीज को मिली थी. जांच में ये बात साफ है कि पीएफआई ने अपनी मोडस ऑपरेंडी बदली है हवाला के ज़रिए विदेशी फंडिंग का पैसा हासिल कर देश भर में गड़बडी फैलाने के लिए बांट रही है. PFI कैडर तक ये पैसा पाकिस्तान तुर्की कई दूसरे देशों से यमन, moritius, मलेशिया रुट से हवाला के ज़रिए पहुच रहा है. दरअसल पाकिस्तान की आईएसआई , टर्की गल्फ देशों से पीएफआई की जो फंडिंग आती है वो टर्की यमन के बैंक अकाउंट्स में पहुंचती है. फिर इस पैसे को कैश में निकाल लिया जाता है ताकी मनिट्रेल खत्म हो जाए फिर पैसे का ये कंसाइनमेंट यमन में कार्गो जहाजों से मॉरिशियस मलेशिया हवाला चैनलों से भारत में पीएफआई तक पहुंचता है.

इससे पहले खुलासा हुआ था कि पीएफआई अपने कैडर उनके रिश्तेदारों के खातों का इस्तेमाल मनी लॉंडरिंग के लिए कर रहा है इन खातों में विदेशों से छोटी छोटी रकम आती थी. जिसको पीएफआई के खातों में जकात चंदे के नाम पर जमा कर दिया जाता था. लेकिन एमपी कानपुर हाथरस जैसे मामलों में पीएफआई की साजिश मनीट्रेल से उजागर हो गई. जिसके बाद अपना खेल बदलते हुए पीएफआई ने कैश हवाला का इस्तेमाल शुरु कर दिया. बिहार तेलंगाना में टेरर ट्रेनिंग कैंप खोलने ऑपरेट करने के लिए भारी रकम हवाला कैश के जरिये यहां भेजी गई इसके सुराग तलाशती एनआईए ने छापेमारी कर उन लोगों की शिनाख्त की है जो पीएफआई के पैसे के नए खेल की कड़ियां हैं.

जांच में पता चला है कि हवाला के जरिए आए पैसे से से PFI केरल के बाद UP, बंगाल, बिहार राजस्थान तेलंगाना में अपनी पैठ बढ़ा रहा है. इन राज्यो में PFI ने कई ठिकाने बना लिए है PFI के लोग छोटे छोटे ग्रुप्स में अलग अलग जगह छुपे है. क्योंकि उनको आशंका है कि जल्द ही PFI पर प्रतिबंध लग सकता है उससे पहले ये ग्रुप्स अपने ठिकाने बढ़ा रहा है नई भर्तियां कर रहे है इनके टारगेट पर मस्जिदों के इमाम मदरसों के प्रमुख है PFI विदेशी फंडिंग के ज़रिए छोटे बड़े शहरों गाँव की मस्जिदों मदरसों में अपनी पैठ बढ़ा रहा है. ताकि वक्त आने पर लोगो को MOBILIZE किआ जा सके PFI के टारगेट पर खास तौर से UP, है जहाँ जातीय या धार्मिक हिंसा फैलाने की साज़िश में PFI जुटा है. जिसके बाद बिहार तेलंगाना को पीएफआई ने टार्गेट चुना है PFI का मकसद ऐसे ट्रेंड लोग तैयार करना है जो दंहे भडका सके हिंदुओं का कत्ल कर सकें पीएफआई गड़बड़ी फैलाकर भारत की छवि को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खराब करना है किसी भी तरह साज़िश करके इस संदेश का प्रचार करना है कि भारत मे माइनॉरिटीज सुरक्षित नहीं है. भारी हवाला फंडिंग से इसके लिए PFI ने सोशल मीडिया पब्लिकेशन टीम भी तैयार कर ली है. एजेंसीज PFI से पूर्व या वर्तमान में जुड़े लोगों की लोकेशन कॉल रिकॉर्ड की जांच कर रही है. ताकि पता लगे कि हवाला का पैसा कहां आया था भी क्या दूसरी जगहों पर ऐसे ही पास तो नही भेजा गया? हवाला का ये ट्राजेक्शन बहुत शातिर तरीके से किया जा रहा है.

आम तौर पर हवाला ऑपरेटर्स ऐसे रुट का इस्तेमाल नही करते जांच में पता चला कि पीएफआई नें नई भरतियों के लिए डू ऑर डाय का संदेश अपने कैडर्स को दिया है भारी फंडिंग बिना मनी ट्रेल के कर रहा है युवाओं को टार्गेट करने के लिए पीएफआई देश भर में फुटबॉल क्रिकेट टूर्नामेंट , मदरसे के चंदे, रमजान में जकात फितरे के नाम फंडिंग कर रहा है. इन छापेमारी में मिले दस्तावेजों से खुलासा हुआ है कि कैश फंडिंग का ये खेल का ट्रायल पीएफआई ने रामनवमी के दौरान किया था उस वक्त पर देश के कई राज्यों में हिंसा पथराव आगजनी की घटना हुई दिल्ली, मध्य प्रदेश, गुजरात, पश्चिम बंगाल, गोवा, महाराष्ट्र, झारखंड, बिहार, कर्नाटक छत्तीसगढ़ के अलग-अलग इलाकों में साम्प्रदायिक तनाव देखने को मिला ये हिंसा अचानक नहीं हुई पीएफआई की प्लानिंग का नतीजा थी 2 साल से ज्यादा समय से स्लीपर सेल नेटवर्क एक्टिव था. फंडिंग के जरिए अलग अलग राज्यों में ऐसे लोगों को काम पर रखा गया जो अपने इलाके में मास अपील रखते थे जिनमें मौलाना एनजीओ चलाने वाले मदरसे से जुडे मौलवी भी शामिल थे.

ये लोग लगातार मुसलमानों पर जुल्म होने की बाते लोगों से करते थे ताकि गुस्सा भडक सके पिछले 2 साल में छोटी मोटी हिंसा की वारदाते करवाकर विदेश में बैठे अपने आकाओं को संदेश भेजा गया राम नवमी पर पूरे स्लीपर सेल को देश भर में एक साथ सांप्रदायिक माहोल बिगाड़ने का आदेश दिया गया. इसके लिए मोटी कैश फंडिंग भी की गई पूरी प्लानिंग के तहत रामनवमी जुलूस को निशाना बनाया गया ताकि दंगे भडक सकें पूरे कॉर्डिनेशन से हिंसा को अंजाम दिया गया ट्रेंड स्लीपर सेल्स अलग अलग गुट में बटकर दूसरे राज्यों में टारगेटेड जगहों पर भीड में शामिल हो गए थे हिंसा को अंजाम दिया. उस समय से फंडिग के सुराग तलाश रही एनआईए तेलंगाना तक पहुच गई रामनवमी पर जो ट्रायल पीएफआई ने किया था अब वो बडे पैमाने पर देश के कई राज्यों में एकसाथ करने की प्लानिंग थी जिसका खुलासा पीएफआई के फुलवारी शरीफ हैदराबाद के आतंकी ट्रेनिंग कैंप के भांडाफोड से हुआ है एनआईए की छापेमारी में हवाला नेटवर्क की जानकारियां मिली हैं जिसपर जल्द ही एक्शन होगा.

पीएफआई के फुलवारी शरीफ माडयूल की जांच में भी एनआईए को एक बहुत बड़ी साजिश का पता चला था. इस आतंकी साजिश के तार बिहार से बंगाल असम बागलादेश पाकिस्तान तक फैले हैं. अब तक की जांच में पता चला है कि अपने मंसूबो को पूरा करने के लिए पीएफआई ने बिहार को 5 हिस्सो में बांटकर अपनी प्लानिंग शुरु की थी. ये प्लानिंग पिछले कई साल से चल रही थी. जिसका पावर सेंटर बंगाल में था इनके टार्गेट पर लोवर असम भी था .. इस प्लानिंग के तहत पीएफआई का 2047 तक भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने का पूरा प्लान डीकोड हो रहा है. इस प्लान की शुरुआत 2023 से होनी थी.

  • 2023 में जेहाद
  • 2024 में खिलाफत
  • 2028 में सरकारी तंत्र पर कब्जा
  • 2035 देश के हर जिले में 1000 ट्रेंड लड़ाके तैयार
  • 2047 भारत इस्लामिक राष्ट्र

पूछताछ में आतंकी हिंदुस्तान में जिहाद करने की जो प्लानिंग कर रहे थे उसके सारे राज उगल रहे हैं इनका मकसद हर जिले में कम से कम 1000 हथियारबंद लड़ाके तैयार करना था . PFI के मिशन इंडिया 2047 के तहत 15 हज़ार से अधिक बेरोजगार मुसलमानों को बिहार में साथ जोड़ा गया था इसके लिए बिहार के 15 जिलों में ट्रेनिंग कैंप चलते थे. जिनका पूर्णिया हेडक्वाटर था सूत्र बताते हैं कि बड़ा खुलासा ये है कि अब तक बिहार में 15 जिलों में 8327 युवकों को हथियारों की ट्रेनिंग दी जा चुकी है ट्रेनिंग देने के बाद उन युवकों को क्या टारगेट देते थे उसका कोड क्या था इसका भी खुलासा हुआ है. पीएफआई की सोच है कि अगर देश के 15 प्रतिशत मुसलमान उसके साथ हो जाए तो अगले 25 साल में भारत इसलामिक राष्ट्र बन जाएगा.

पीएफआई के गजवा ए हिंद का बिहार में पाइलट प्रोजेक्ट का पहला चरण हथियारों की ट्रेनिंग पूरा हो गया था पीएफआई के फुलवारी शरीफ मॉड्यूल ने अपने आका को मैसेज में लिखा था कि लॉक डाऊन में अच्छा काम हुआ है. 2023 की तैयारी हो रही है. दूसरा चरण 2023 जिहाद – हर जिले में तैयार ट्रेंड आतंकियों को टार्गेट दिया जाना था इन लोगों को एक साथ उनकी हत्या करनी थी जिनहोने इस्लाम के खिलाफ बात कही हो या सोशल मीडिया पर पोस्ट की हो ताकी गड़बडी फैल सके. ट्रेनिंग में छतों पर हथियार पत्थर इकट्ठा करने भीड़ को भडकाने की ट्रेनिंग भी दी गई थी इस माहोल में सांप्रदायिक दंगे करवाने की प्लानिंग थी.

तीसरा चरण 2024 खिलाफत — पीएफआई के लिए पीएम मोदी सबसे बडा खतरा चुनाव में सरकार को टार्गेट कर सरकार गिराना, माहौल खराब करना, किसी भी तरह नई बनने वाली सरकार को कमजोर करना, चौथा चरण 2028 में सरकारी तंत्र पर कब्जा, पांचवा चरण 2035 तक बूथ स्तर पर कमेटी बनाकर देश के हर जिले में 1000 ट्रेंड लड़ाके तैयार करना, गजवा ए हिंद 2047 भारत इस्लामिक राष्ट्र.

बिहार के पाइलट प्रोजेक्ट के साथ असम में भी ऐसी ही प्लानिंग की शुरुआत की गई थी. एबीटी एक्यूआईएस से इस प्लान को लॉजिस्ट्क आर्थिक सपोर्ट मिल रहा है.
असम में PFI बांग्लादेशी आतंकी संगठन अंसारुल्लाह बांग्ला टीम के बीच संबंध हैं. कुछ पीएफआई कार्यकर्ता बांग्लादेश के अल-कायदा से प्रेरित इस्लामिक एबीटी के लिए काम कर रहे हैं पूछताछ में पता चला है कि अंसारुल्लाह बांग्ला टीम में शामिल होने से पहले निचले असम में पीएफआई के लिए सक्रिय रूप से काम कर रहा थे, लेकिन बाद में एबीटी में शामिल हो गए जहां उनको बेसिक ट्रेनिंग एबीटी के आतंकियों ने दी. असम पुलिस ने अब तक पीएफआई सीएफआई के खिलाफ 18 मामले दर्ज किए हैं. 18 मामलों में से 16 पीएफआई के खिलाफ दर्ज हैं, जबकि दो मामले सीएफआई के खिलाफ हैं. पीएफआई एबीटी का मक्सद है कि देश में कहीं भी कुछ भी हो रहा है. जिसका असम से कोई संबंध भी नहीं है चाहे वो हिजाब का मुद्दा हो या कुछ मंदिर, मस्जिद उसके नाम पर असम गडबडी फैलाना विशेष रूप से गुवाहाटी शहर, गोलपारा, बारपेटा, बक्सा, धुबरी बराक घाटी के कुछ हिस्सों सहित निचले असम क्षेत्र में पीएफआई सक्रिय है अंसारुललाह बाग्ला टीम से जुडकर वो लोगों को भड़का रहे हैं एनआईए लगातार इस गजवा ए हिंद पीएफआई के मॉड्यूल्स की तलाश में जुटी है जो स्लीपर सेल्स की तरह रह रहे हैं.

  • सर तन से जुदा गैंग के 200
  • ‘200’ का मिशन हिंदूस्तान
  • हथियार चलाने की ली है ट्रेनिंग
  • प्रशिक्षण की आड़ में आतंकी ट्रेनिंग
  • पीएफआई के ट्रेनिंग कैंप से निकले 200 अनट्रेसेबल
  • इन 200 में महिलाएं भी शामिल
  • अलग-अलग विंग के जरिए एजेंसियों को झांसा देकर हथियारों की ट्रेनिंग देना
  • ऐजेंसीज लोगों को झांसा देने के लिए ऐसी गतिविधियों में तिरंगे का इस्तेमाल जरूर करना
  • निजामाबाद में छापेमारी के बाद PFI के ‘मिशन हिंदुस्तान’ के बारे में भी एनआईए को पता चला था

जांच में सामने आया था कि निजामाबाद में पीएफआइ के लोग 200 युवाओं को प्रशिक्षण दे चुके हैं कराटे के प्रशिक्षण की आड़ में आतंकी ट्रेनिंग का मामला पहली बार सामने आया था कराटे प्रशिक्षण लेने आए युवाओं को मुस्लिम कट्टर धार्मिक साहित्य पढ़ने को दिया जाता था. ताकि दूसरे धर्म के लोगों के खिलाफ उसके मन में नफरत पैदा की जा सके उसके बाद उन्हें कराटे के बजाय अलग अलग तरह से हथियारों का प्रशिक्षण दिया गयी ताकि वो दूसरे धर्म के लोगों की हत्या कर सके. पीएफआइ इन युवाओं का उपयोग दंगे भड़काने उस दौरान दूसरे धर्म के लोगों पर हमले के लिए करना चाहती थी खतरनाक बात ये है कि ट्रेनिंग लेने के बाद ये 200 कहीं भी हो सकते है एनआईए को जांच में पता चला कि पीएफआई कैंपों में आने वालों का कोई रिकार्ड नहीं रखती है ये 200 अभी अनट्रेसेबल हैं. सूत्र बता रहे हैं कि पीएफआई इस माडल के आधार पर काफी संख्या में कराटे प्रशिक्षण केंद्र खोलने की योजना बना रही थी कुछ खोल भी लिए गए थे. जिसके लिए पीएफआइ को विदेशी फंडिंग भी मिली थी अब एजेंसी के सामने 200 ट्रेंड के साथ दूसरे कैंपों से संबंधित लोगों को ढूढना भी बडी चुनौती है इस लिए इतने बड़े पैमाने पर छापेमारी की गई है. एनआईए सूत्रों के मिताबिक जांच में ‘मिशन हिंदुस्तान’ के बारे में बड़ा खुलासा हुआ था पीएफआई के मिशन को डी-कोड किया है. ये देश भर के युवाओं को अपने साथ जोड़ने की फिराक में हैं जांच में देश भर में PFI का पूरा रोडमैप सामने आया है पीएफआई सोशल वर्क के नाम पर धन जुटाता है उसका इस्तेमाल समाज विरोधी देश विरोधी प्रचार के लिए करता है.

PFI का ‘मिशन हिंदुस्तान’ डी-कोड

#केरल-तेलंगाना के बाद अब देश भर के युवा टारगेट पर

#ट्रेनिंग पाए 200 को दी थी अहम जिम्मेदारी
#सोशल वर्क के नाम पर धन बटोरकर देश विरोधी प्रचार करना
#मुस्लिम बहुल इलाकों में स्कूल कॉलेज मदरसे के जरिये युवाओं का ब्रेनवॉश करना
#कट्टरपंथी विचारों के प्रसार के लिए रिक्रूटमेंट
#सर तन से जुदा विचारधारा के लिए फंडिंग या हिंसा जो भी करना पड़े वो पहली प्रायोरिटी
अलग-अलग विंग के जरिए एजेंसियों को झांसा देने की साजिश
स्लीपर सेल बनकर ऐसे रहना कि पकड़े जाने पर दूसरों तक ऐजेंसी ना पहुंच पाए

गिरफ्तार किए गए पीएफआई के कुछ लोगों को NIA के दिल्ली हेडक्वार्टर लाया जा सकता है NIA दफ्तर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. गृह मंत्री अमित शाह ने देशभर में पीएफआई के खिलाफ जारी रेड को लेकर एनएसए, गृह सचिव डीजी एनआईए के साथ बैठक भी की है.

Share This Now :
Advertisement

देश-विदेश

युवाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता देती रही है भाजपा : प्रधानमंत्री मोदी

Published

on

Share This Now :

नई दिल्ली, 24 सितंबर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी युवाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता देती है भाजपा देश की ऐसी राजनीतिक पार्टी है, जिसमें मुख्यमंत्री, सांसद, मंत्री हर जगह युवाओं का प्रतिनिधित्व सबसे ज्यादा होता है। वे वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये हिमाचल प्रदेश के मंडी में भाजपा की युवा विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए अपनी बात रख रहे थे।

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

हालांकि खराब मौसम के कारण कार्यक्रम स्थल पर नहीं पहुंच पाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने खेद प्रकट करते हुए बड़ी संख्या में कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे लोगों का धन्यवाद किया।

प्रधानमंत्री ने केंद्र और राज्यों में स्थिर सरकार का महत्व बताते हुए कहा कि केंद्र में दशकों तक गठबंधन सरकार थी और अनिश्चितता का माहौल था। उसके कारण दुनिया में लोगों को देश के बारे में संदेह था। 2014 में एक स्थिर सरकार चुनी गई, जो नीति-निर्माण और शासन में स्थिरता लाई।

उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी हर पांच साल में सरकारें बदल जाती थीं, लेकिन दोनों राज्यों में हाल के विधानसभा चुनावों में लोगों ने फिर से भाजपा की सरकार को चुना। अब लोग स्थिर सरकार के महत्व को समझ रहे हैं।

विभिन्न क्षेत्रों में हिमाचल की युवा शक्ति के योगदान का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि खेल हो या कला, हिमाचल प्रदेश के युवाओं का उत्साह और कौशल देश को लाभान्वित कर रहा है। युवाओं को प्रोत्साहित करना भाजपा की प्राथमिकता है।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में पहाड़ी गांधी बाबा कांशी राम समेत राज्य के अनेक सेनानियों का स्मरण करते हुए आजादी के आंदोलन में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका को याद किया। उन्होंने कहा कि आजादी के तुरंत बाद जम्मू-कश्मीर से लेकर कारगिल युद्ध तक हिमाचल के जांबाजों ने सर्वोच्च बलिदान देकर मां भारती का सिर ऊंचा रखा है।

मोदी ने कहा, “युवाओं को ज्यादा से ज्यादा अवसर देना हमेशा से भाजपा की सर्वोच्च प्राथमिकता रही है। मुख्यमंत्री हों, सांसद हों, मंत्री हों, भाजपा देश की वो राजनीतिक पार्टी है, जिसमें हर जगह युवाओं का प्रतिनिधित्व सबसे अधिक है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि भाजपा देश और हिमाचल के युवाओं पर सबसे अधिक भरोसा करती है।” उन्होंने कहा कि अब देश की युवा शक्ति मिलकर आजादी के अमृत काल में भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का संकल्प पूरा करेगी।

मोदी ने कहा कि हिमाचल के लोग और युवा भाजपा सरकार की वापसी का मन बना चुके हैं। हिमाचल के युवा जानते हैं कि साफ और ईमानदार नीयत के साथ हिमाचल का विकास कोई कर सकता है, तो वह भाजपा ही है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में दवाओं के रॉ-मैटेरियल को लेकर आत्मनिर्भरता पर काम चल रहा है, उसके लिए तीन राज्यों को चुना गया है, जिसमें हिमाचल प्रदेश भी शामिल है। जहां बल्क ड्रग्स पार्क बनाया जा रहा है। देश के चार राज्यों में मेडिकल डिवाइस पार्क बनाए जा रहे हैं, उसमें भी हिमाचल एक राज्य है।

देश की अर्थव्यवस्था में पर्यटन क्षेत्र की भूमिका का महत्व रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अमृत काल में भारत की अर्थव्यवस्था को, देश में रोजगार निर्माण को एक बड़ा बल पर्यटन क्षेत्र से मिलने वाला है। उन्होंने कहा, “मैं खुद भी हिमाचल की देव संस्कृति और हिमाचल के हस्तशिल्पियों से अभिभूत रहता हूं।”

उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत पिछले तीन वर्ष में देश के सात करोड़ से अधिक नए घरों को नल से जल मिलने लगा है। हिमाचल प्रदेश के आठ लाख से ज्यादा परिवारों को भी नल से जल की सुविधा मिली है। हिमाचल प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्गों के लिए 14,000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं।

मोदी ने कहा कि कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार ने एक अहम फैसला लिया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने हिमाचल के हाटी समुदाय को अनुसूचित जनजाति सूची में जोड़ने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। सिरमौर के गिरीपार क्षेत्र में रहने वाले हाटी समुदाय के हजारों युवा साथियों को इस निर्णय से अनेक अवसर मिलने वाले हैं।

Share This Now :
Continue Reading

क्राइम

चाइल्ड पोर्नोग्राफी के खिलाफ CBI की बड़ी कार्रवाई, देश के 20 राज्यों में 56 लोकेशन पर छापेमारी जारी

Published

on

Share This Now :

नई दिल्ली 24 सितम्बर 2022: सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (सीबीआई) चाइल्ड पोर्नोग्राफी के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई में जुटी है। शनिवार को सीबीआई ने देश के 20 राज्यों में 56 लोकेशन पर छापेमारी की है।

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक, ऑनलाइन बाल यौन शोषण सामग्री (सीएसईएम) मामले में 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 56 स्थानों पर सीबीआई की तलाशी चल रही है।

सूत्रों के मुताबिक, सिंगापुर के माध्यम से न्यूजीलैंड की इंटरपोल यूनिट की ओर से शेयर किए गए इनपुट के बाद छापेमारी की गई है। ऑनलाइन उपलब्ध बाल यौन शोषण सामग्री के संबंध में सीबीआई का यह सबसे बड़ा ऑपरेशन है।

 

बता दें कि पिछले साल 16 नवंबर को भी सीबीआई ने इंटरपोल की जानकारी पर ‘ऑपरेशन कार्बन’ चलाया था। इसी दौरान प्राप्त जानकारी के आधार पर कार्रवाई की गई है। इस कार्रवाई को सीबीआई ने ‘ऑपरेशन मेघा चक्र’ नाम दिया है। इसके तहत उन व्यक्तियों और गिरोहों की पहचान करना और उन्हें गिरफ्तार करना है जो ऑनलाइन बाल यौन शोषण सामग्री (सीएसएएम) फैलाते हैं और नाबालिगों को यौन या शारीरिक रूप से ब्लैकमेल करते हैं। ये रैकेट व्यक्तिगत और संगठित दोनों स्तरों पर संचालित होते हैं।

पिछले साल 14 राज्यों के 77 ठिकानों पर की गई थी छापेमारी

बता दें कि सीबीआई ने पिछले साल नवंबर में देश के 14 राज्यों के 77 लोकेशन पर छापेमारी की थी। इस दौरान सात लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था। साथ ही इलेक्ट्रॉनिक डेटा और गैजेट्स की बड़ी खेप भी बरामद की गई थी। इलेक्ट्रॉनिक डेटा में पैसे के लेन-देन और अलग-अलग अपराधियों के बारे में जानकारी मिली थी। ये अपराधी पाकिस्तान, कनाडा, बांग्लादेश, नाइजीरिया, इंडोनेशिया, अजरबैजान, श्रीलंका, संयुक्त राज्य अमेरिका, सऊदी अरब, यमन, मिस्र, ब्रिटेन, बेल्जियम समेत अन्य देशों में चाइल्ड पोर्नोग्राफी कंटेंट सर्कुलेट कर रहे थे।

Share This Now :
Continue Reading

देश-विदेश

AAP समय आने पर गुजरात के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम की घोषणा करेगी : मनीष सिसोदिया

Published

on

Share This Now :

दिल्ली 24 सितम्बर 2022: आम आदमी पार्टी (आप) नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि आप उचित समय पर अपने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम की घोषणा करेगी। मनीष सिसोदिया उत्तरी गुजरात में पार्टी के लिए प्रचार कर रहे हैं।

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

शुक्रवार रात उंझा कस्बे में एक जनसभा को संबोधित करने के बाद सिसोदिया ने मीडियाकर्मियों से कहा कि पार्टी उचित समय पर सीएम उम्मीदवार की घोषणा करेगी।

AAP दिल्ली में अपने काम के लिए जानी जाती है

उत्तराखंड के अनुभवों से सीख लेते हुए जहां उसके सीएम उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल भाजपा में शामिल हो गए थे, पार्टी अब गुजरात के सीएम उम्मीदवार का नाम तय करने में फूंक-फूंक कर कदम उठा रही है। जनता को संबोधित करते हुए सिसोदिया ने कहा, हमें गुजरात के लोगों की सेवा करने के लिए नेता होने की जरूरत नहीं है। हम सरकारी स्कूलों के मानक और गुणवत्ता में सुधार करेंगे, जो निजी स्कूलों के बराबर होगा। आप दिल्ली में अपने काम के लिए जानी जाती है।

राघव चड्ढा को गुजरात चुनाव का सह प्रभारी नियुक्त किया

सिसोदिया ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि आप की नीति बिल्कुल स्पष्ट है कि जनता के धन का इस्तेमाल लोगों के उत्थान के लिए किया जाना चाहिए, न कि कुछ चुनिंदा दोस्तों के लिए। इस बीच, आप के सांसद राघव चड्ढा शनिवार सुबह राजकोट पहुंचे और पार्टी के लिए प्रचार किया। उन्हें गुजरात चुनाव का सह प्रभारी नियुक्त किया गया है। रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान राज्य का दौरा करेंगे और पार्टी के लिए प्रचार करेंगे।

Share This Now :
Continue Reading

RO-NO-12141/77

RO-NO-12111/80





RO-NO-12078/75

Advertisement

Advertisement

Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

राजनीति3 hours ago

कांग्रेस में शामिल हुए सरपंच सहित बीजेपी के 50 कार्यकर्ता

जगदलपुर 24 सितम्बर 2022: छत्तीसगढ़ में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव 2023 को लेकर राजनीतिक दलों की गतिविधियां शुरू हैं।...

राजनीति3 hours ago

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव को कांग्रेस नेताओं ने दिया पदयात्रा में शामिल होने का न्यौता

रायपुर 24 सितम्बर 2022: पदयात्रा को लेकर छत्तीसगढ़ में एक बार फिर से राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष...

राज्य एवं शहर3 hours ago

मवेशी तस्कर के बाड़ी में 2 दर्जन गायों की मौत, भूख-प्यास से गई जान, आरोपी मौके से फरार…

मुंगेली 24 सितम्बर 2022: जिले से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है. जहां जिले के पथरिया के वार्ड 14...

खेल3 hours ago

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक 6 अक्टूबर से, कबड्‌डी, खो-खो, भंवरा, पिट्‌ठुल और कंचे जैसे 14 खेलों का महामुकाबला

राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलों की तिथि घोषित कर दी है। ग्रामीण खेलों का यह सबसे बड़ी प्रतिस्पर्धा 6...

राज्य एवं शहर3 hours ago

छत्तीसगढ़ के यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में बढ़ी एडमिशन की तारीख, उच्च शिक्षा विभाग ने 30 सितंबर तक दिया मौका

रायपुर 24 सितम्बर 2022: छत्तीसगढ़ में 12वीं पास करने के बाद जो छात्र-छात्राएं अब तक किसी भी कॉलेज में एडमिशन नहीं...

Advertisement

CONNECT WITH US :

देश-विदेश7 days ago

विधायक जिला पंचायत अध्यक्ष एवं कलेक्टर ने एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

देश-विदेश5 days ago

समाजकार्य विभाग द्वारा रक्तदानअमृत महोत्सव काआयोजन ,विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने लिया बढ़ चढ़कर हिस्सा

राजनीति7 days ago

खाद्य मंत्री ने जनसंवाद में सुनी लोगों की समस्याएं ,तृतीय लिंग समुदाय के लोगों को मिला स्वेच्छानुदान राशि का लाभ

मुख्य सचिव ने सी-मार्ट दुर्ग का किया निरीक्षण ,सी-मार्ट के प्रबंधन और उत्पादों की प्रशंसा की
देश-विदेश7 days ago

मुख्य सचिव ने सी-मार्ट दुर्ग का किया निरीक्षण ,सी-मार्ट के प्रबंधन और उत्पादों की प्रशंसा की

राज्य एवं शहर7 days ago

Swine flu के मामलों में इजाफा ! CM भूपेश ने स्वास्थ्य सचिव को दिए अस्पतालों में आवश्यक तैयारी रखने के निर्देश

Country News Today Exclusive3 weeks ago

MLNC Enactus के प्रोजेक्ट ‘स्नेह’ द्वारा रियूजेबल कपड़े के डायपर उत्पादन से पर्यावरण बचाव के साथ-साथ मिला रहा रोजगार ; जानिए क्या है खासियत?

क्राइम4 weeks ago

शर्मनाक : रायपुर में नाबालिग ने की अमानवीयता की सारे हदें पार, 5 कुत्तों के ऊपर फेंका एसिड, 2 की मौत, वीडियो आया सामने

क्राइम1 month ago

CG BREAKING : रायपुर के तेलीबांधा तालाब में कूदकर आत्महत्या करने वाले युवक की लाश बरामद ; देखिए वीडियो

बॉलीवुड तड़का - Entertainment1 month ago

MMS Scandal : एमएमएस लीक कांड पर कच्चा बादाम फेम अंजली अरोरा की तीखी प्रतिक्रिया, अभद्र भाषा इस्तेमाल करते हुए कह डाली ये बात : देखिए वीडियो

राज्य एवं शहर1 month ago

CG : दुर्ग में शिवनाथ नदी खतरे के निशान से 15 फीट ऊपर, कई गांव डूबे, शहर में भी घुसा पानी, SDRF ने किया रेस्क्यू ; 4 साल पहले बना पुल धंसा : देखिए वीडियो

Top 10 News

Must Read

Career9 hours ago

Horoscope Today 24 September: मिथुन, सिंह, मीन राशि वालों को हो सकती है हानि, सभी राशियों का जानें आज का राशिफल

Horoscope Today 24 September 2022, Daily Horoscope, Aaj Ka Rashifal: आज का राशिफल सभी राशियों के लिए विशेष है. शनिवार का...

Special News1 day ago

कार्तिक आर्यन रात में कर रहे ‘सत्य प्रेम की कथा’ की शूटिंग, शेयर किया खास पोस्ट

Kartik Aaryan Shooting Satya Prem Ki Katha: कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) का नाम हर तरफ छाया हुआ है। कार्तिक आर्यन सिनेमा...

Special News1 day ago

घुटने का दर्द होगा गायब, डाइट में शामिल करें ये एंटी-इंफ्लेमेटरी फूड

Anti-Inflammatory Foods For Knee Pain – घुटने का दर्द अब एक आम समस्‍या बन चुकी है. ज्‍वाइंट्स पेन का मुख्‍य कारण...

Special News2 days ago

आंखों के नीचे हैं अगर डार्क सर्कल तो लगाए Alovera, एक हफ्ते में दूर होगी परेशानी

आजकल आंखों के नीचे काले घेरे होना आम बात हो गई है, हर कोई इस समस्या से परेशान हैं. लोग...

Special News2 days ago

इन फूड्स को डाइट में करें शामिल, बालों की हर समस्या का चुटकियों में होगा समाधान !

Hair Care Tips: घने और चमकदार बाल लोगों की पर्सनैलिटी में चार चांद लगा देते हैं. वर्तमान समय में बिगड़ी हुई...

Advertisement
Advertisement

Trending