Saturday, February 4, 2023

आरक्षण का विरोध, मंत्री को दिखाया काला झंडा

बिलासपुर 22 दिसंबर 2022: बिलासपुर में गुरु घासीदास जयंती समारोह में शामिल होने आए PHE मंत्री और सतनामी समाज के गुरु रुद्र कुमार को आरक्षण के मुद्दे पर अपने ही समाज के युवकों के विरोध का सामना करना पड़ा। कार्यक्रम में युवकों ने उन्हें काला झंडा दिखाकर जमकर हंगामा मचाया। इस दौरान मंत्री के खिलाफ नारेबाजी करते हुए युवकों ने तख्तियां भी लहराई। इधर, PHE मंत्री ने विरोध को भाजपा का प्रायोजित कार्यक्रम बताया। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकार ने अनुसूचित जाति के आरक्षण को 16 प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत किया था। कांग्रेस सरकार जनगणना के आधार पर आरक्षण बढ़ाने के लिए तैयार है।

तखतपुर विधानसभा क्षेत्र और शहर से लगे ग्राम पंचायत तुर्काडीह में बुधवार को गुरु घासीदास जयंती समारोह का आयोजन किया गया। दोपहर में इस आयोजन में PHE मंत्री व समाज के गुरु रुद्र कुमार शामिल हुए। जयंती समारोह के बाद जब मंत्री मंच से उतरकर अपनी कार की ओर जाने लगे तब समाज के युवकों ने काला झंडा दिखाते हुए उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी शुरू कर दी। युवक हाथ में तख्तियां लेकर हंगामा मचाने लगे। अचानक युवकों के विरोध को देखते हुए पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की। लेकिन, वहां पुलिसकर्मियों की संख्या कम थी। ऐसे में युवक काला झंडा लेकर उनके पास पहुंच गए थे।

आरक्षण को लेकर नाराज होकर किया विरोध


दरअसल, राज्य सरकार ने अनुसूचित जाति का आरक्षण कम कर दिया है। सतनामी समाज के युवकों का कहना था कि अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्ग के आरक्षण को बढ़ा दिया गया है। जबकि, अनुसूचित जाति का आरक्षण कम कर दिया गया है। यही वजह है कि उन्होंने समाज का प्रतिनिधित्व कर रहे मंत्री का विरोध किया है।

कार्यक्रम में कम थी पुलिस की संख्या


इस कार्यक्रम में गिने-चुने संख्या में पुलिसकर्मी पहुंचे थे। दरअसल, पुलिस को इस सामाजिक कार्यक्रम में इस तरह से विरोध-प्रदर्शन होने का आभास ही नहीं था। इसके चलते पुलिस ने तैयारी नहीं की थी। इस बीच अचानक काला झंडा और तख्ती लेकर आए युवकों ने नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। हालांकि, पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की, जिसमें वे सफल नहीं हो पाए।

भाजपा का प्रायोजित है विरोध-प्रदर्शन


सतनामी समाज की सरकार के प्रति नाराजगी के सवाल पर PHE मंत्री गुरु रुद्र कुमार ने कहा कि नाराजगी जैसी कोई बात नहीं है। विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है, वहीं लोग ऐसी बात कर रहे होंगे। उन्होंने कहा कि गुरु घासीदास जयंती समारोह के बीच यह भाजपा का प्रायोजित विरोध-प्रदर्शन था।

रुद्र कुमार बोले- पहले मैं गुरु फिर विधायक-मंत्री, मेरी बात का यकीन करे समाज


इधर, छत्तीसगढ़ भवन में मीडिया से बातचीत करते हुए PHE मंत्री ने कहा कि सतनामी समाज का सरकार के प्रति कोई नाराजगी नहीं है। बल्कि, समाज के साथ भाजपा की केंद्र सरकार नहीं है। भाजपा के समय में आरक्षण 16 से घटकर 12 प्रतिशत हुआ। 2021 में केंद्र सरकार ने जनगणना नहीं कराया है, जिसके कारण आज की स्थिति में दिक्कत हो रही है। केंद्र की नीति के मुताबिक जितनी आबादी रहेगी, उतना आरक्षण रहेगा। जनगणना में जो भी आंकड़ा आएगा, चाहे वह 17 हो या 18 प्रतिशत, वह समाज को मिलेगा। उन्होंने कहा कि मैं विधायक मंत्री बाद में पहले समाज का गुरु हूं। हमें समाज की चिंता है। उन्होंने कहा कि समाज के लोग इस बात पर यकीन करें कि जितना भी आकंड़ा जनगणना में आएगा, आरक्षण उतना मिलेगा। मुख्यमंत्री ने सदन के अंदर ही इस बात की घोषणा की थी।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang