Connect with us

राजनीति

संसद में बोले PM मोदी- जेल में बंद नक्सलवादी-आतंकवादी की फोटो लेकर रिहाई की मांग कर किसान आंदोलन को अपवित्र करने की हुई कोशिश

Published

on

Share This Now :

New Delhi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब दे रहे हैं। इससे पहले उन्होंने राज्यसभा में जवाब दिया था। इस दौरान पीएम मोदी ने कृषि कानून, किसान आंदोलन और बजट सहित अन्य मामलों पर सरकार का पक्ष सदन के पटल पर रखा था।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

PM Modi Lok Sabha Speech Live Updates:

>> मैं किसान आंदोलन को पवित्र मानता हूं। लेकिन जब आंदोलन जीवी पवित्र आंदोलन को अपने फायदे के लिए उठते हैं तो क्या होता है। जो नक्सलवादी, आतंकवादी आदि जेल में उनकी फोटो लेकर रिहाई की मांग करना किसान आंदोलन को अपवित्र करने का प्रयास है।

>> पीएम मोदी ने कहा कि देश में पब्लिक सेक्टर जितना जरूरी है, उतना ही प्राइवेट सेक्टर भी जरूरी है।

>> हमने किसानों के इंफ्रस्टक्चर के लिए एक लाख करोड़ रुपए की व्यवस्था की है।

>> हम धीरे-धीरे किसानों को फल, फूल और सब्जी उत्पादन की तरफ ले जा सकते हैं।

>> बड़ा बदलाव करके हमारे किसानों को एक लंबी यात्रा के लिए तैयार करना होगा। हमारे किसान से छोटे किसानों को बीज से लेकेर बाजार तक मुहैया करायी है।

>> सत्ता में हो या विपक्ष में हर किसी को किसानों के लिए काम करने की आवश्यक्ता है। किसानों को सशक्त बनाने की जिम्मेदारी हम सभी की है।

>> हमारे यहां एग्रीकल्चर समाज के कल्चर का हिस्सा रहा है। हमारे पर्व, त्योहार सब चीजें फसल बोने और काटने के साथ जुड़ी रही हैं। यहा राजा जनक और कृषि के भाई बलराम ने भी हल चलाई है।

>> कृषि के क्षेत्र में बदलाव की आवश्यक्ता है। हमारे यहां संभावना है। किसानों को सही तरीके से गाइड करना होगा।

>> कृषि में निवेश की आवश्यक्ता है। केंद्र और राज्य सरकार उतना काम नहीं कर पा रही है। किसान के बस की भी बात नहीं है।

>> आजादी से पहले यहां से चर्चिल को सिगार भेजी जाती थी। इसको लेकर पद भी सृजित किए गए थे। सीसीए (Churchill’s cigar assistant) का पद आजादी के बाद भी जारी रहा।

>> मैं जब गुजरात में मुख्यमंत्री बनना तो रिपोर्ट आती थी कि आज कोई बलून नहीं आया कोई पर्चा नहीं आया। उस समय भी यह व्यवस्था लागू थी।

>> आयुष्मान भारत, शौचाल निर्माण की मांग किसी ने नहीं की थी। हमारी सरकार को लगा कि लोक हित में यह जरूरी है। इसलिए हमने यह कदम उठाया।

>> देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस पार्टी का यह हाल हो गया है कि राज्यसभा का तबका एक तरफ चलता है और लोकसभा का तबका दूसरी तरफ।

>> शादी की उम्र, शिक्षा के अधिकार की मांग किसी ने नहीं की थी, लेकिन कानून बने। क्योंकि समाज को इसकी जरूरत थी।

>> मैं हैरान हूं पहली बार एक नया तर्क आया है कि हमने मांगा नहीं तो आपने दिया क्यों। दहेज हो या तीन तलाक, किसी ने इसके लिए कानून बनाने की मांग नहीं की थी, लेकिन प्रगतिशील समाज के लिए आवश्यक होने के कारण कानून बनाया गया।

>> प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान हंगामे पर प्रधानमंत्री विपक्ष पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि अधीर रंजन जी बहुत ज्यादा हो गया। आज क्या हो गया है आपको?

>> हम मानते हैं कि इसमें सही में कोई कमी हो, किसानों का कोई नुकसान हो, तो बदलाव करने में क्या जाता है। ये देश देशवासियों का है। हम किसानों के लिए निर्णय करते हैं, अगर कोई ऐसी बात बताते हैं जो उचित हो, तो हमें कोई संकोच नहीं है।

>> इन तीनों कृषि कानूनों ने किसानों का क्या उनका हक छीन लिया है क्या? किसानों को विकल्प दिए गए हैं कि जहां ज्यादा फायदा वहां अनाज बेचे।

>> संसद में ये हो-हल्ला, ये आवाज, ये रुकावटें डालने का प्रयास, एक सोची समझी रणनीति के तहत हो रहा है। रणनीति ये है कि जो झूठ, अफवाहें फैलाई गई हैं, उसका पर्दाफाश हो जाएगा। इसलिए हो-हल्ला मचाने का खेल चल रहा है।

>> तीनों कृषि कानून लागू होने के बाद न देश में कोई मंडी बंद हुई है और न ही एमएसपी। कानून बनने के बाद एमएसपी पर खरीदी भी बढ़ी गै।

>> कृषि कानूनों को लेकर कृषि मंत्री लगातार किसानों से चर्चा कर रहे हैं। अगर किसी बदलाव की आवश्यक्ता महसूस होती है तो उसे बदला जा सकता है।

>> इस कोरोना काल में 3 कृषि कानून भी लाये गए। ये कृषि सुधार का सिलसिला बहुत ही आवश्यक और महत्वपूर्ण है और बरसों से जो हमारा कृषि क्षेत्र चुनौतियां महसूस कर रहा है, उसको बाहर लाने के लिए हमें निरंतर प्रयास करना ही होगा और हमने एक ईमानदारी से प्रयास किया भी है।

>> कृषि कानून के रंग पर तो कांग्रेस के साथ बहुत बहस कर रहे थे, लेकिन अच्छा होता उसके कंटेंट और इंटेंट पर चर्चा करते।

>> कोरोना कालखंड में भी हमने रिफॉर्म का सिलसिला जारी रखा। हमने कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाए। इसका परिणाम है कि आज ट्रैक्टर हो, गाड़ियां हो, रिकॉर्ड सेल हो रहा है। जीएसटी का रिकॉर्ड कलेक्शन हुआ है। दुनिया के लोगों ने अनुमान लगाया है कि करीब-करीब डबल डिजिट ग्रोथ जरूर होगा।

>> दुनिया के बहुत सारे देश कोरोना, लॉकडाउन, कर्फ्यू के कारण चाहते हुए भी अपने खजाने में पाउंड और डॉलर होने के बाद भी अपने लोगों तक नहीं पहुंचा पाए। लेकिन ये हिंदुस्तान है जो इस कोरोना कालखंड में भी करीब 75 करोड़ से अधिक भारतीयों को 8 महीने तक राशन पहुंचा सकता है।

>> जो आधार, जो मोबाइल, जो जनधन कोरोना काल में लोगों की मदद करने में काम आया उसको रोकने के लिए कौन-कौन कोर्ट गए थे।

>> ये हिन्दुस्तान है जो लगभग 75 करोड़ भारतीयों को कोरोना काल के दौरान 8 महीने तक राशन पहुंचा सकता है।

>> जिस मरीज के पास कोई नहीं जा सकता था, वहां हमारा सफाईकर्मी जाता था। वह भगवान के रूप में था। एम्बुलेंस का ड्राइवर भगवान के रूप में आया था।

>> डॉक्टर और नर्स रूपी भगवान ने दुनिया को इस महामारी से बचाया। पीएम मोदी ने मनीष तिवारी के बयान पर पटलवार करते हुए यह बात की।

>> कोरोना काल में भारत में भय बनाने की कोशिश की गई। दुनिया के बड़े-बड़े देश इस महामारी के सामने घुटने टेक चुके थे। लेकिन 130 करोड़ हिन्दुस्तानियों के आचरण ने इसे बचाया।

>> हमारे लिए आवश्यक है कि हम आत्मनिर्भर भारत के विचार को बल दें। ये किसी शासन व्यवस्था या किसी राजनेता का विचार नहीं है। आज हिंदुस्तान के हर कोने में वोकल फ़ॉर लोकल सुनाई दे रहा है। ये आत्मगौरव का भाव आत्मनिर्भर भारत के लिए बहुत काम आ रहा है।

>> भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हर जरूरी नीतियां बननी चाहिए।

>> आज हम फॉर्मेसी में आत्मनिर्भर है। भारत जितना आत्मनिर्भर बनेगा, दुनिया के कल्याण में भूमिका अदा कर सकेगा।

>> हमारे लिए संतोष और गर्व का विषय है कि कोरोना के कारण कितनी बड़ी मुसीबत आएगी इसके जो अनुमान लगाए गए थे कि भारत कैसे इस स्थिति से निपटेगा। ऐसे मैं ये 130 करोड़ देशवासियों के अनुशासन और समर्पण ने हमें आज बचा कर रखा है।

>> राष्ट्रपति जी का भाषण भारत के 130 करोड़ भारतीयों की संकल्प शक्ति को प्रदर्शित करता है। विकट और विपरीत काल में भी ये देश किस प्रकार से अपना रास्ता चुनता है, रास्ता तय करता है और रास्ते पर चलते हुए सफलता प्राप्त करता है, ये सब राष्ट्रपति जी ने अपने अभिभाषण में कही।

>>  देश जब आजाद हुआ, जो आखिरी ब्रिटिश कमांडर थे, वो आखिरी तक यही कहते थे कि भारत कई देशों का महाद्वीप है और कोई भी इसे एक राष्ट्र नहीं बना पाएगा। लेकिन भारतवासियों ने इस आशंका को तोड़ा। विश्व के लिए आज हम आशा की किरण बनकर खड़े हुए हैं।

>> आजादी के 75वें वर्ष का पड़ाव हर हिन्दुस्तानी के लिए गर्व का पल है। इसलिए हम देश के किसी कोने में हों, हम सब मिलकर आजादी के इस पर्व से एक नई प्रेरणा प्राप्त कर और नए संकल्प के साथ अगले 25 वर्षों का वातावरण तैयार करें।

>> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी सांसदों का आभार प्रकट किया। उन्होंने खास रूप से महिला सांसदों का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि सभी ने धारदार तरीके से संसद में अपनी बातें रखीं। उनकी तैयारी, तर्क औक सूझबूझ का अभिनंनद करता हूं।

>> राष्ट्रपति के अभिभाषण के एक-एक शब्द देशवासियों को प्रेरणा देने वाला है। मैं इस चर्चा में भाग लेने वाले सभी सांसदों का आभार व्यक्त करता हूं। मैं विशेष रूप से हमारी महिला सांसदों का आभार व्यक्त करना चाहता हूं।

>> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा पहुंच चुके हैं। वह कुछ ही देर में सदन को संबोधित करेंगे।

>> लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने लद्दाख का मुद्दा उठाया। उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से इस मुद्द पर जवाब मांगा।

>> लोकसभा की कार्यवाही शुरू हो गई है। स्पीकर ओम बिरला ने कार्यस्थगन के सभी नोटिस को खारिज कर दिया।

तेल कीमतों के उच्च स्तर पर होने के झूठा प्रचार का प्रयास किया जा रहा है : प्रधान
इससे पहले आज पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बुधवार को राज्यसभा में कहा कि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें एक अंतरराष्ट्रीय मूल्य प्रणाली के तहत नियंत्रित होती हैं और यह मिथ्या अभियान चलाने का प्रयास किया जा रहा है कि ईंधन की कीमतें अब तक के उच्च स्तर पर है। प्रधान ने राज्यसभा मे प्रश्नकाल के दौरान विभिन्न पूरक सवालों के जवाब में कहा, ”पिछले 300 दिनों में करीब 60 दिन कीमतों में वृद्धि हुई (और) करीब 7 दिन पेट्रोल तथा 21 दिन डीजल की कीमतों में हमने कमी की है। करीब 250 दिनों तक हमने कीमतों में वृद्धि या कमी नहीं की है… इसलिए, यह मिथ्या प्रचार है कि यह अब तक के सबसे उच्च स्तर पर है।

बजट में वोट बैंक की राजनीति : सिब्बल
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने सरकार पर बजट में वोट बैंक की राजनीति करने का बुधवार को आरोप लगाते हुए कहा कि देश का पूरा कारोबार चार – पांच उद्योगपति परिवारों के बीच सिमट कर रह गया है।  सिब्बल ने राज्यसभा में वित्त वर्ष 2021-22 के बजट पर चचार् की शुरुआत करते हुए कहा कि असम , पश्चिम बंगाल और केरल में होने वाले चुनाव को ध्यान में रखकर आवंटन किये गये हैं। इन राज्यों में बड़े पैमाने पर राष्ट्रीय राजमार्गों के निमार्ण के लिए बजट का प्रस्ताव किया गया है। पश्चिम बंगाल में 675 किलोमीटर तथा केरल में 1100 किलोमीटर का निमार्ण किया जायेगा।

आपको बता दें कि कोरोना प्रोटोकॉल के तहत पहले राज्यसभा की कार्यवाही होती है, इसके बाद लोकसभा में कामकाज होता है। राज्यसभा की कार्यवाही सुबह नौ बजे से शुरू होती है।

Share This Now :
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

राजनीति

छत्तीसगढ़ : भाजपा को लेकर CM बघेल का बड़ा बयान, कहा – “नक्सलियों की तरह ही भाजपा संविधान को नहीं मानते”

Published

on

Share This Now :

बीजापुर : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इन दिनों भेंट-मुलाकात अभियान के तहत प्रदेश के दौरे पर निकले हैं। इस अभियान के दूसरे चरण में सीएम बस्तर संभाग के जिलों का दौरा कर रहे हैं। सीएम भूपेश ने शुक्रवार सुबह बीजापुर में प्रेस कांफ्रेस को संबोधित किया। इस दौरान सीएम ने एक बार फिर नक्सल मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

नक्सलियों से बातचीत के सवाल पर उन्होंने कहा कि नक्सली भारत के संविधान पर विश्वास नहीं करते हैं तो फिर कैसे बात होगी। यदि दूसरा देश होता तो इंटरनेशनल कोर्ट में बात करते। लेकिन ये तो देश के अंदर का बात है और मैं संविधान के तहत ही नक्सलियों से बात करूंगा। वहीं भाजपा पर निशाना साधते हुए सीएम भूपेश ने कहा कि नक्सलियों की तरह ही भाजपा संविधान को नहीं मानते है। भाजपा के लोग सरकार को तोड़ने में लगे है।

सीएम ने कहा कि आदिवासी जल, जंगल ,जमीन का अधिकार चाहते है और छत्तीसगढ़ सरकार उन्हें दे रही है। 2018 में बीजापुर में एक ट्रेक्टर बिका था, लेकिन कांग्रेस सरकार आने के बाद 3 सालो में 500 से अधिक ट्रैक्टर बिक गए हैं। वहीं 2018 में 16 बाइक बिकी थी लेकिन अब 3 सालों में 5000 हजार से अधिक बाइक बिक गई है।

इस दौरान सीएम भूपेश ने बीजापुर के लिए कई बड़ी घोषणाएं भी की। सीएम ने कहा कि बीजापुर में जिला एवं सत्र न्यायालय की स्थापना के लिए पहल की जाएगी। सीएम ने मद्देड़ में स्वामी आत्मानंद अंग्रेज़ी माध्यम स्कूल, कईका में नवीन उप स्वास्थ्य केंद्र, हाई स्कूल चेरपल्ली को हायर सेकेंडरी, भोपालपटनम और नेमेड में मिनी स्टेडियम बनाने का ऐलान किया। इसके साथ ही आईटीआई बीजापुर से तुमनार तक 4 किमी सड़क का उन्नयन करने की भी घोषणा सीएम ने की।

Share This Now :
Continue Reading

क्राइम

नवजोत सिद्धू को सुप्रीम कोर्ट का बड़ा झटका, 34 साल पुराने केस में एक साल सश्रम कैद की सजा, सिद्धू ने दी यह प्रतिक्र‍िया

Published

on

File Photo
Share This Now :

नई दिल्ली : पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर और पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा झटका दिया है। उच्चतम न्यायालय ने 34 साल पुराने रोड रेज मामले में सिद्धू को एक साल सश्रम कैद की सजा सुनाई है। इससे पहले सुप्रीम ने उनको एक हजार रुपये का जुर्माना लगाकर छोड़ दिया था। सिद्धू को जब सुप्रीम कोर्ट सजा सुना रहा था उस समय वह हाथी पर सवार होकर महंगाई के मुद्दे पर पटियाला में प्रदर्शन कर रहे थे।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

सजा पर आई नवजोत सिंह सिद्धू की प्रतिक्रिया, सरेंडर करने के संकेत दिए

सजा पर नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि वह कानून की महिमा के लिए खुद को प्रस्‍तुत करेंगे। इस ट्वीट से माना जा रहा है सिद्धू अदालत या पुलिस के समक्ष सरेंडर करेंगे। वैसे मीडिया कर्मियों ने सिद्धू से बात करने और सजा पर उनकी प्रतिकिया जानने की कोशिश की तो उन्‍होंने नो कमेंट कहा और अपनी कार से निकल गए।

जब सजा सुनाई जा रही थी उस समय नवजोत सिद्धू महंगाई के खिलाफ पटियाला में प्रदर्शन कर रहे थे

सिद्धू पर 34 साल पहले पटियाला में सड़क पर हुए विवाद में गुरनाम सिंह के साथ मारपीट करने का आरोप है। गुरनाम सिंह की अस्‍पताल में मौत हो गई थी। रोडरेज का यह मामला 27 दिसंबर, 1988 का है। नवजोत सिंह सिद्धू पटियाला में कार से जाते हुए गुरनाम सिंह नाम के एक बुजुर्ग से भिड़ गए थे।

आरोप है कि गुस्से में नवजोत सिद्धू ने उन्हें मुक्का मार दिया, जिसके बाद गुरनाम सिंह की मौत हो गई थी। पटियाला पुलिस ने सिद्धू और उनके दोस्त रूपिंदर सिंह के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया था। निचली अदालत ने नवजोत सिंह सिद्धू को सुबूतों के अभाव में 1999 में बरी कर दिया था, लेकिन पीड़ित पक्ष पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट पहुंच गया। गुरनाम सिंह के सवजनों का आरोप था कि सिद्धू ने गुरनाम सिंह के सिर पर मुक्का मारा और गुरनाम सिंह को ब्रेन हेमरेज हो गया, जिससे उनकी मौत हो गई ।

साल 2006 में हाई कोर्ट ने सिद्धू को तीन साल कैद की सजा सुनाई थी। इस फैसले को सिद्धू ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी। वहां से उनको राहत मिली और सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में एक हजार रुपये का जुर्माना लगाकर छोड़ दिया। इसके बाद गुरनाम सिंह के स्‍वजनों ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की। इसके बाद आज सुप्रीम कोर्ट ने उनको एक साल जेल की सजा सुनाई है।

2006 में जब हाई कोर्ट ने सिद्धू को तीन साल की सजा सुनाई थी, तब वह भाजपा में थे और अमृतसर से सांसद थे। उन्होंने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। उन्हें दोबारा चुनाव लड़ना पड़ा और वह फिर से जीत गए थे।

Share This Now :
Continue Reading

क्राइम

छत्तीसगढ़ की राज्यपाल उइके का ट्विटर अकाउंट हुआ हैक! एलन मस्क के क्रिप्टोकरेंसी पर ट्वीट को टैग कर कई बार बताया-बड़ा दिन और क्रिप्टो न्यूज़

Published

on

राज्यपाल के ट्विटर हैंडल से इस तरह के हुए ट्वीट
Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ की महामहिम राज्यपाल अनुसूईया उइके के आधिकारिक ट्विटर हैंडल हैक हो गया हैं। हैंडल में से क्रिप्टोकरेंसी को लेकर अजीब ट्वीट किए हैं। इस हैंडल से क्रिप्टोकरेंसी के समर्थन में एक-दो नहीं बल्कि 17 बार पोस्ट किया गया है। राजभवन के सूत्रों का कहना है कि यह हैंडल हैक हो गया है, हालांकि अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

RO-NO-12027/80

RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80
RO-NO-12027/80

गुरुवार को ट्विटर पर अमेरिकी-कनाडाई कारोबारी एलन मस्क की ओर से एक पोस्ट डाली गई। उसमें उन्होंने लिखा, क्रिप्टोकरेंसी कई स्तरों पर एक अच्छा विचार है और हमें विश्वास है कि इसका भविष्य आशाजनक है। em4crypt.com का लिंक डालते हुए उस पोस्ट में कहा गया था आओ सब मिलकर इसका समर्थन करें। इस पोस्ट को टैग करते हुए छत्तीसगढ़ के राज्यपाल के आधिकारिक हैंडल से एक जवाब पोस्ट हुआ। लिखा था, यह एक बड़ा समाचार है। उसके बाद अगले आधे घंटे तक 15 और बार यही वाक्य घुमा-फिरा कर लिखा गया। बाद में लिखा गया कि यह एक बड़ा दिन है!

इसको लेकर राजभवन के अधिकारियों से बात की गई तो उन्हें भी जानकारी नहीं थी। उन्होंने आशंका जताई है कि हैंडल हैक हो गया है। राजभवन के अधिकारी इसका पता लगाने की कोशिश में लग गए। करीब घंटे भर की मशक्कत के बाद हैंडल पर फिर से काबू पाया जा सका है। अब वह नियंत्रण में है। राजभवन के एक अधिकारी ने बताया कि हैंडल को अधिक सुरक्षित करने के उपाय किए जा रहे हैं।

पोस्ट हटाए गए

राजभवन के अधिकारियों और सोशल मीडिया टीम ने ट्विटर की मदद से अकाउंट को रीस्टोर कर लिया है। उसपर से पिछले कुछ घंटों के दौरान किए गए सभी संदिग्ध पोस्ट को हटा लिया गया है। अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि यह साइबर अटैक कहां से हुआ था।

Share This Now :
Continue Reading

R.O No. 12027/80

Advertisment

Advertisement

Advertisement

Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

CORONA VIRUS3 hours ago

छत्तीसगढ़ में आज कोरोना के 3 नए मामले मिले, 1 रिकवर ; एक्टिव केस 36 ; 16 जिले कोरोना फ्री ; 26 जिलों में कोई नया केस नहीं 

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे आज कोरोना के 3 नए मरीज़ मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार...

राज्य एवं शहर18 hours ago

छत्तीसगढ़ : परसा कोल ब्लॉक के विरोध में सड़क पर उतरे ग्रामीण, NH 6 घंटे जाम, रेलवे ट्रैक पर बैठने से कोयला परिवहन भी ठप

रायपुर : छत्तीसगढ़ के हसदेव अरण्य क्षेत्र में राजस्थान को परसा कोल ब्लॉक आबंटन का विरोध तेज हो गया है।...

राज्य एवं शहर21 hours ago

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश आज राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर गोधन न्याय योजना के तहत जारी करेंगे 13 करोड़ 31 लाख रूपए

गोधन न्याय योजना के तहत हो चुका है 237 करोड़ 11 लाख रूपए का भुगतान स्वावलंबी गौठान समितियों ने स्वयं...

Special News21 hours ago

CG : पिता को नक्सलियों ने गांव से भगाया, बेटे ने जीता राष्ट्रीय मल्लखंभ प्रतियोगिता ; गिनीज बुक आफ रिकार्ड के नामांकन राशि के लिए CM बघेल ने दिए निर्देश

अबूझमाड़ से निकलकर 12 साल के राकेश ने जीती राष्ट्रीय मल्लखंभ प्रतियोगिता इंडिया बुक आफ रिकार्ड में शामिल हुआ नाम...

क्राइम21 hours ago

छत्तीसगढ़ के चित्रकोट फॉल से कूद कर युवती ने किया सुसाइड, पानी की लहर में हो गई गुम ; दर्दनाक वीडियो वायरल

जगदलपुर : छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के जगदलपुर के चित्रकोट जलप्रपात में एक युवती कूद गई। युवती कौन है, कहां...

Advertisement

CONNECT WITH US :

आस्था5 days ago

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे में जिस जगह पर शिवलिंग मिला उसे तुरंत सील करने का कोर्ट ने दिया आदेश ; वजू पर पाबंदी

राज्य एवं शहर6 days ago

छत्तीसगढ़ : दुर्ग जिले में 20 थाना प्रभारियों का हुआ ट्रांसफर ; देखिए लिस्ट

क्राइम4 days ago

छत्तीसगढ़ : रायपुर में ​​​​​​​अनाज कारोबारी से 50 लाख की लूट ; डूमरतराई में 9 बाइक सवारों ने घेरकर पीटा ; फिर बैग लेकर हुए फरार

राजनीति5 days ago

छत्तीसगढ़ में भाजपा का जेल भरो आंदोलन जारी, रायपुर में बृजमोहन अग्रवाल सहित 2000 कार्यकर्ता गिरफ्तार ; अन्य जिलों में भी जारी है प्रदर्शन

क्राइम4 days ago

CG : मीना खलखो हत्याकांड में 3 पुलिसकर्मी बरी, बलरामपुर में नक्सली बताकर युवती की हुई थी हत्या ; 11 साल बाद कोर्ट का फैसला

क्राइम21 hours ago

छत्तीसगढ़ के चित्रकोट फॉल से कूद कर युवती ने किया सुसाइड, पानी की लहर में हो गई गुम ; दर्दनाक वीडियो वायरल

Special News2 days ago

छत्तीसगढ़ : जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी

राज्य एवं शहर3 days ago

CG : सुकमा में CM भूपेश के भेंट-मुलाकात 2.0 का पहला दिन : तोंगपाल होगा पूर्ण तहसील, स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार, खेल मैदान निर्माण ; देखिए झलकियां और घोषणाएं

आस्था4 days ago

वाराणसी : ज्ञानवापी के वजूखाने का पुराना वीडियो वायरल, देखें आपको शिवलिंग लगता है या फव्वारा ?

आस्था6 days ago

Video : बुद्ध पूर्णिमा के दिन लगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, अर्जेंटीना में दिखा अलग नजारा ; ग्रहण के बारे में जानिए हर एक डिटेल और पढ़ें 10 जरूरी बातें

Top 10 News

Must Read

Special News2 days ago

छत्तीसगढ़ : जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी

मैं और मेरी पत्नी रातभर दो शिफ्ट में टॉर्च लेकर रखते हैं गोबर पर नजर : मंटूराम गोधन न्याय योजना...

Special News3 days ago

CG : कभी नक्सली कमांडर रहे मड़कम मुदराज ने CM को सुनाई आपबीती…कहा आत्मग्लानि में किया सरेंडर, आज हूं इंस्पेक्टर : देखिए वीडियो

मेरे बच्चे पढ़ रहे इंग्लिश मीडियम स्कूल में और जी रहे अच्छी लाइफ स्टाइल मड़कम के हाथों में हथियार अब...

Special News4 days ago

छत्तीसगढ़ सरकार के कृषि और आजीविका मॉडल को मिली सराहना ; श्रीनगर में आयोजित राष्ट्रीय सेमिनार में कृषि उत्पादन आयुक्त ने दिया प्रस्तुतीकरण

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राज्य में कृषि को समृद्ध और किसानों को खुशहाल...

Special News5 days ago

छत्तीसगढ़ : Dial 112 की टीम ने बचाई एक और जान : बिलासपुर में पंखे से फंदा लगाकर सुसाइड का प्रयास कर रहे युवक को पुलिस ने बचाया

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में डायल 112 की टीम ने एक युवक की जान बचाई। सोमवार को फांसी लगाकर...

Special News1 week ago

छत्तीसगढ़ : आत्मनिर्भर भारत सम्मेलन में श्रम विभाग को जनकल्याणकारी योजनाओं के लिए मिला पुरस्कार

रायपुर : नई दिल्ली में आयोजित आत्मनिर्भर भारत सम्मेलन में श्रम विभाग को श्रमिकों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित...

Advertisement
Advertisement

Trending