Connect with us

Festival & Fastings

Ramadan Mubarak 2021 : महामारी में इस रमजान, एहतियात के साथ इबादत, जानिए पूरे 30 दिन का सहरी और इफ्तार का टाइम टेबल

Published

on

Share This Now :
  • रमजान इस्लाम धर्म में मुबारक महीना है
  • इस पूरे महीने 30 दिन का रोजा रखा जाता है
  • 14 अप्रैल से शुरू हो रहा है रमजान का महीना

रायपुर : माह-ए-इबादत रमजान का आगाज हो चुका है। लगातार दूसरे साल कोरोना महामारी के मुश्किल वक्त में ये मौका आया है। अपना खयाल रखें, अपनों का खयाल रखें। खुद पैगंबर मोहम्मद साहब के जमाने में ताऊन नामक वबा (महामारी) फैली थी, जिसका रूप कोरोना जैसा ही था।

तब मोहम्मद साहब ने यह तदबीर फरमाई कि जहां बीमारी फैली हुई हो, वहां दूसरे लोग ना जाएं और वहां के लोग दूसरी जगह ना आएं। आज के हालात में यह तदबीर सटीक है। बेहद जरूरी है कि मस्जिदाें में भीड़ ना हाे। दूरी रखी जाए। अल्लाह इबादत देखता है न कि जगह।

सुरक्षित रमजान- इस्लाम में जीवन ही सर्वोच्च है
संक्रामक रोग से पीड़ित व्यक्ति दूसरे सेहतमंद लोगों से दूर रहें। अगर किसी शख्स को किसी तरह की संक्रामक बीमारी हो जाए तो बाकी लाेग उससे दूरी बनाकर रखें। (अल बुखारी 6771, अल मुस्लिम 2221)

3 महत्वपूर्ण बातें- घर में नमाज, वुजू-मास्क और भीड़ से दूरी ही है सुरक्षित रमजान

1. मस्जिद जैसा सवाब घर पर नमाज पढ़ने में भी है
वबा (महामारी) के वक्त घर भी मस्जिद है। जो सवाब (पुण्य) मस्जिद में नमाज का है। वबा या ऐसी महामारी के दाैरान वही सवाब घर में पढ़ी हुई नमाज का है।
-अल तिरमजी (अल-सलाह, 291)

2. हाथ बार-बार धोते रहें, मास्क का इस्तेमाल करें
पैगंबर मुहम्मद साहब को छींक-खांसी आती थी, तो वे कपड़े से मुंह ढक लिया करते थे। हुजूर ने फरमाया कि अपने घर आते ही अपने हाथ धो लें।(अबू दाऊद, अल तिरमजी,
बुक 43, हदीश 2969)

3. जहां संक्रमण है वहां से दूर रहें, यही समझदारी
हजरत उमर के जमाने में युद्ध के लिए उनकी सेना ऐसी जगह पहुंची जहां वबा फैली थी। हजरत ने सेना को वापस बुला लिया। लोगों ने विरोध किया, लेकिन उन्होंने वहां सेना भेजने से इंकार कर दिया।
-इस्लामिक इतिहास से

सुरक्षित रमजान की गाइड-लाइन

  • संक्रमित हैं या गंभीर बीमारी है तो रोजे के लिए डॉक्टर से सलाह लें।
  • किसी से हाथ न मिलाएं, बल्कि दिल पर हाथ रख उसे दुआएं दें।
  • संक्रमण से बचते हुए गरीबों को खाना-इफ्तारी देते रहें।
  • घर पर ही इबादत पर जोर दें। बच्चों को भी डिसिप्लिन सिखाएं।
  • न इफ्तार पार्टी करें ना किसी की दी हुई इफ्तार पार्टी में जाएं। घर पर रहें।
  • नमाज के दौरान दूरी बनाएं रखें, मस्जिदों में बेवजह भीड़ न बढ़ाएं।

खास बातें इन्होंने बताईं

  • डॉ. जीनत शौकत अली, डायरेक्टर जनरल, विजडम फाउंडेशन } मौलाना शब्बीर अहमद नूरी, तंजीमुल उलेमा, बिलासपुर
  • हाफिज मोहम्मद उस्मान, तारबाहर
  • सै. शौकत अली, अध्यक्ष, एआईएमईएस

Ramzan 2021 : रमजान का पाक महीना 14 अप्रैल से शुरू हो रहा है। आइए जानते है रमजान के मुबारक महीने के तीसों दिन का क्या है सहरी और इफ्तार का टाइम टेबल

रमजान के पवित्र महीने के लिए भारत में मंगलवार को चांद दिख गया है। अब बुधवार से रमजान में रोजे रखने की शुरुआत होगी। रमजान में दुनिया भर के मुसलमान पूरे दिन उपवास रखते हैं। ये महीना अपनी इच्छाओं पर लगाम लगाने का है। माहे रमजान एक महीने का होता है जिसमें मुस्लिम संप्रदाय के लोग अल्लाह की इबादत करते है और इस दौरान रोजाना 30 दिन सहरी और इफ्तार का खासा महत्व होता है।

रमजान का मुक़द्दस (पवित्र) महीना हर इंसान को अपनी जिंदगी को सही राह पर लाने का पैगाम देता है। खुद को हर बुराई से बचाकर अल्लाह के नजदीक ले जाने की यह सख्त कवायद हर मुस्लिम के लिये खुद को पाक-साफ करने का सुनहरा मौका होती है।

इस महीने में सहरी और इफ्तार का खासा महत्‍व होता है। सुबह के समय सहरी का वक्‍त होता है और शाम को इफ्तार का। इन दोनों का ही समय तय होता है और उसी के हिसाब से सहरी और रोजा इफ्तार किया जाता है। आइये जानते हैं इस बार क्‍या है सहरी और इफ्तारी का वक्‍त। देखिए रमजान महीने का पूरा टाइम टेबल।

Ramadan Time Table 2020 (रमादान टाइम टेबल 2021 )

Ramzan 2021 Calendar: Sehri and Iftar Daily Timings

तारीख सहरी टाइम टेबल इफ्तार टाइम टेबल
14 अप्रैल,2021 4:35 AM 6:47 PM
15 अप्रैल,2021 4:34 AM 6:48 PM
16 अप्रैल, 2021 4:32 AM 6:48 PM
17 अप्रैल,2021 4:31 AM 6:49 PM
18 अप्रैल,2021 4:30 AM 6:49 PM
19 अप्रैल,2021 4:29 AM 6:50 PM
20 अप्रैल,2021 4:27 AM 6:50 PM
21 अप्रैल,2021 4:26 AM 6:51 PM
22 अप्रैल, 2021 4:25 AM 6:52 PM
23 अप्रैल,2021 4:24 AM 6:52 PM
24 अप्रैल, 2021 4:23 AM 6:53 PM
25 अप्रैल, 2021 4:22 AM 6:53 PM
26 अप्रैल, 2021 4:19 AM 6:54 PM
27 अप्रैल, 2021 4:20 AM 6:55 PM
28 अप्रैल , 2021 4:18 AM 6:55 PM
29 अप्रैल, 2021 4:17 AM 6:56 PM
30 अप्रैल, 2021 4:16 AM 6:56 PM
1 मई , 2021 4:15 AM 6:57 PM
2 मई , 2021 4:14 AM 6:58 PM
3 मई, 2021 4:13 AM 6:58 PM
5 मई 2021 4:12 AM 6:59 PM
6 मई, 2021 4:11 AM 6:59 PM
7 मई , 2021 4:10 AM 7:00 PM
8 मई , 2021 4:09 AM 7:01 PM
9 मई , 2021 4:08 AM 7:01 PM
10 मई , 2021 4:06 AM 7:02 PM
11 मई , 2021 4:05 AM 7:03 PM
12 मई , 2021 4:04 AM 7:04 PM
13 मई , 2021 4:03 AM 7:04 PM

​रमजान का महीना पाक महीना होता है जिसमें इस्लाम धर्म के लोग अल्लाह से अपनी गलतियों की माफी मांगते हैं और अच्‍छे कर्म करने का फैसला लेते हैं। यह महीना त्‍याग और समर्पण का होता है।

Share This Now :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Festival & Fastings

Eid Milad-un-Nabi Mubarak : आज हैं ईद मिलाद-उन-नबी, जानें इस दिन का महत्व और इतिहास

Published

on

Share This Now :

National Desk : दुनिया भर में आज मिलाद उन-नबी (Eid Milad 2021) का त्योहार मनाया जा रहा है. इस्लाम धर्म के लोग पैगंबर हजरत मोहम्मद के जन्मदिन को ईद-ए-मिलाद-उन-नबी या ईद-ए-मिलाद के रूप में मनाते हैं. इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक, ये त्योहार तीसरे महीने रबी-उल-अव्वल के 12वें दिन मनाया जाता है. . इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार इस्लाम के तीसरे महीने यानि मिलाद उन-नबी की शुरुआत हो चुकी है. मोहम्मद साहब के जन्मदिन (Prophet Muhammad birth anniversary) पर लोग उनकी याद में जुलूस निकालते हैं. इस दिन जगह-जगह बड़े आयोजन भी किए जाते हैं.

पैगंबर मोहम्मद साहब का जन्म

पैगंबर मोहम्मद का जन्म अरब के रेगिस्तान के शहर मक्का में 571 ईस्वी में 12 तारीख को हुआ था. पैगंबर साहब के जन्म से पहले ही उनके पिता का निधन हो चुका था. जब वह 6 वर्ष के थे तो उनकी मां की भी मृत्यु हो गई. मां के निधन के बाद पैगंबर मोहम्मद अपने चाचा अबू तालिब और दादा अबू मुतालिब के साथ रहने लगे. इनके पिता का नाम अब्दुल्लाह और माता का नाम बीबी आमिना था. अल्लाह ने सबसे पहले पैगंबर हजरत मोहम्मद को ही पवित्र कुरान अता की थी. इसके बाद ही पैगंबर साहब ने पवित्र कुरान का संदेश दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचाया.

ईद मिलाद उन-नबी का महत्व

ईद मिलाद उन-नबी पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है. इस दिन रात भर प्राथनाएं होती हैं और जगह-जगह जुलूस भी निकाले जाते हैं. घरों और मस्जिदों में आज कुरान पढ़ी जाती है. ईद मिलाद उन-नबी के मौके पर घर और मस्जिद को सजाया जाता है और मोहम्मद साहब के संदेशों को पढ़ा जाता है. हजरत मोहम्मद का एक ही संदेश था कि मानवता को मानने वाला ही महान होता है. आज के दिन लोग गरीबों में दान भी करते हैं. ऐसी मान्यता है कि ईद मिलाद उन-नबी के दिन दान और जकात करने से अल्लाह खुश होते हैं.

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

CG : रायपुर जिला प्रशासन ने Eid Milad Un Nabi के लिए जारी किया दिशानिर्देश, इन जुलूस, रैली सहित इन चीजों पर लगी पाबंदी

Published

on

Share This Now :

रायपुर : ईद मिलादुन्नबी को लेकर रायपुर जिला प्रशासन ने गाइडलाइन जारी की है। गाइडलाइन के अनुसार ईद मिलादुन्नबी के दौरान मस्जिदों में तकरीर, परचम कुसाई की अनुमति होगी, साथ ही किसी भी प्रकार के जुलूस, सभा, रैली या प्रभात फेरी या बाइक रैली निकालने की अनुमति नहीं होगी। कार्यक्रम ऐसे स्थान पर ही आयोजित करने की अनुमति होगी जहां यातायात बाधित न हो। त्यौहार के दौरान किसी भी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम जलसे की अनुमति नहीं होगी।

जिला प्रशासन की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार ईद मिलादुन्नी की समस्त कार्यावाही सुबह 9 बजे तक पूर्ण करनी होगी। शासकीय संपत्ति बिजली के खंभे, कार्यालय या सड़क पार करते हुए झंडा या तोरण लगाने की अनुमति नहीं होगी। सभी प्रकार के अस्त्र-शस्त्र प्रतिबंधित होंगे। किसी भी प्रकार के आयोजन, धार्मिक स्थल में मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा।

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

CG : तीजा-पोरा तिहार के लिए महिलाओं-बहनों के लिए मायका बना CM बघेल का निवास, सभी महिला समूहों के कालातीत ऋण होंगे माफ़

Published

on

Share This Now :

Highlights

  • मुख्यमंत्री के न्यौते पर पारंपरिक वेशभूषा में महिलाओं में उत्साह के लिए आयोजन में हिस्सा
  • मुख्यमंत्री निवास बिखरी छत्तीसगढ़ी संस्कृति के इंद्रधनुषी छटा
  • धूम-धाम-हर्षाेल्लास के साथ मनाया गया तीज-पोरा तिहार
  • महिला समूहों को प्रति वर्ष दिए जाने वाले ऋण के बजट में 5 गुना वृद्धि की जाएगी
  • मुख्यमंत्री ने किसानों और मजदूरों के बाद अब महिलाओं के लिए न्याय की अभिनव पहल

रायपुर : मुख्यमंत्री निवास में आज तीजा पोरा तिहार धूमधाम से मनाया गया। तीजा-पोरा तिहार के लिए महिलाओं-बहनों के लिए मायका बना मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का निवास। मुख्यमंत्री निवास में छत्तीसगढ़ी संस्कृति के इंद्रधनुषी रंगों की छटा देखते ही बन रही थी। मुख्यमंत्री के न्यौते पर पारंपरिक वेशभूषा में बड़ी संख्या में महिलाओं ने बड़े उत्साह के साथ आयोजन में हिस्सा लिया।

मंत्रोच्चार के बीच मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने धर्मपत्नी श्रीमती मुक्तेश्वरी बघेल और परिवार के सदस्यों के साथ कार्यक्रम में शामिल होकर भगवान शिव, नांदिया बैला और चुकियां-पोरा की पूजा अर्चना कर प्रदेश की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की। उन्होंने इस अवसर पर सभी माताओं और बहनों को त्यौहार की बधाई और शुभकामनाएं दी। राऊत नाच दल और छत्तीसगढ़ी लोक कलाकारों के दल ने छत्तीसगढ़ी गीत संगीत से अनोखा शमां बंधा। मुख्यमंत्री निवास में लोगों के लिए छत्तीसगढ़ी व्यंजनों की व्यवस्था की गई थी।

महिला समूहों के कालातीत ऋण माफ़

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास में आयोजित तीजा-पोरा त्यौहार के कार्यक्रम के अवसर पर समूह की महिला-बहनों को दी बड़ी सौगात दी है। मुख्यमंत्री ने सभी महिला समूहों के कालातीत ऋणों को माफ़ करने की घोषणा की है ताकि वे पुनः ऋण लेकर नवीन आर्थिक गतिविधियाँ आरम्भ कर सकें। मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही महिला समूहों को प्रति वर्ष दिए जाने वाले ऋण के बजट में भी 5 गुना वृद्धि की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने किसानों और मजदूरों के बाद अब महिलाओं के लिए न्याय की पहल करते हुए घोषणा पत्र का अपना एक और वादा पूरा कर दिया है।

राज्यसभा सांसद श्रीमती फूलोदेवी नेताम ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में नई सरकार के आने के बाद महिला समूहों की आर्थिक गतिविधियों में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है, जिससे लाखों महिलाओं की आय वृद्धि से आर्थिक स्वावलम्बन का मार्ग प्रशस्त हुआ है। अधिक से अधिक महिलाओं में आत्म निर्भरता की ललक बढ़ी है। राज्यसभा सांसद वहीं विगत वर्षों में महिला समूहों द्वारा लिए गए ऋणों को कतिपय कारणों से न पटा पाने के करण लगभग एक लाख महिलाएँ नया लोन पाने से अपात्र हो गयी हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से निवेदन किया कि यदि पूर्व के कालातीत ऋणों को माफ़ कर दिया जाए तो उन्हें भी ऋण प्राप्त हो सकेगा तथा वे नए सिरे से आर्थिक गतिविधियाँ संचालित कर सकती हैं। श्रीमती नेताम ने यह भी कहा कि वर्तमान में महिला बाल विकास के माध्यम से प्रति वर्ष महिला समूहों को दिए जाने वाले ऋण के बजट की राशि बहुत कम है जिसके कारण बहुत कम महिला समूहों को आर्थिक लाभ मिल रहा है। अनुरोध है प्रति वर्ष महिला समूहों को दिए जाने वाली ऋण राशि का बजट दो गुना कर दिया जाए ताकि अधिक से अधिक महिलाओं को आय वृद्धि का अवसर मिल सके। श्रीमती नेताम के अनुरोध पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने समूह की महिला बहनों को यह सौगात दी है।

स्वास्थ्य एवं पंचायत एवं ग्रामीण मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव, महिला एवं बाल विकासमंत्री श्रीमती अनिला भेंडिया, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, वनमंत्री श्री मोहम्मद अकबर, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, लोकसभा सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत, राज्यसभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा, श्रीमती फूलोदेवी नेताम, संसदीय सचिव श्री चिंतामणि महाराज, श्री विकास उपाध्याय, श्रीमती रश्मि सिंह, सुश्री शकुंतला साहू, श्री विनोद सेवनलाल चंद्राकर, विधायक श्री अरुण वोरा, श्रीमती उत्तरी जांगड़े, श्रीमती संगीता सिन्हा, श्री मोहितराम केरकेट्टा, महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती किरणमयी नायक, पूर्व विधायक श्रीमती प्रतिमा चंद्राकर, राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुश्री अलका लांबा, डॉ. रागिनी नायक सहित अनेक जनप्रतिनिधि, और बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थीं।

तीजा-पोरा तिहार कार्यक्रम के लिए पूरे मुख्यमंत्री निवास की पारम्परिक रूप में भव्य सजावट की गई है । कार्यक्रम प्रांगण को तीजा-पोरा पर्व सहित छत्तीसगढ़ी ग्रामीण संस्कृति और जन-जीवन के प्रतीकों से सुसज्जित किया गया है। कार्यक्रम स्थल के 3 द्वार बनाये गए हैं । मुख्य द्वार को पोरा पर्व के पारंपरिक नांदिया बैला से सजाया गया है। मुख्य द्वार के सामने पारम्परिक झूले- रईचुल, बैला-गाड़ी, बस्तर जनजातीय आर्ट और छत्तीसगढ़ी जन-जीवन से जुड़े चित्रों का मनमोहक प्रदर्शन किया गया है। मध्य द्वार को विशेष रूप से डिज़ाइन किया गया है, इसे पोरा पर्व से जुड़े पारम्परिक बर्तनों से बनाया गया है । मध्य और तीसरे द्वार के बीच की गैलरी को रंग-बिरंगे मटकों और रंगीन टोकनी के द्वारा आकर्षक कलेवर दिया गया है ।

तीसरे द्वार की सजावट पर सरगुजा अंचल की संस्कृति की छाप है। मुख्य प्रांगण में एक खेल जोन  बनाया गया है जहां फुगड़ी, चम्मच दौड़, जलेबी दौड़, कबड्डी, बोरा दौड़ आदि प्रतियोगिता आयोजित की गई। महिलाओं ने पूरे उत्साह से तीजा-पोरा तिहार मनाया। प्रांगण के पश्चिमी हिस्से में विशेष सेल्फी ज़ोन भी बनाया गया है, जहां छत्तीसगढ़ी ग्रामीण संस्कृति से जुड़े पारम्परिक बर्तन और रसोई के सामान जैसे मथनी, लकड़ी चूल्हा, धान कूटने की ढेकी, मूसर, जाँता, धान नापने का काठा, सिल-पट्टा, खलबट्टा, सूपा, बैल गाड़ी का चक्का, झूला,  मिट्टी के बैल आदि को प्रदर्शित किया है और दीवार पर ग्रामीण संस्कृति से जुड़े नयनाभिराम चित्रों को उकेरा गया है ।
प्रांगण के पूर्वी हिस्से में  छत्तीसगढ़ी ग्रामीण परिवेश को दर्शाते एक मिट्टी के घर निर्माण किया गया है। इस घर की साज-सज्जा में पोरा से जुड़े विभिन्न प्रतीकों का इस्तेमाल किया गया है। घर के द्वार पर तुलसी चौरा और नन्दी बनाये गए हैं और पोरा पर्व तथा ग्रामीण जीवन मे उपयोग में आने वाले बर्तन व अन्य वस्तुओं जैसे पोरा, कढ़ाही, सुराही, बेलन-चौकी, ढकना, बाल्टी, चूल्हा आदि के मिट्टी के छोटे प्रतीकों सहित लकड़ी के नागर, बैल गाड़ी का चक्का और झाड़ू रखे हैं। ग्रामीण परिवेश से सुसज्जित इस घर की खिड़की में भी सेल्फी ज़ोन बनाया गया है। घर के बगल में मंदिर निर्मित किया गया है जहां महिलाएं शिवलिंग की पूजा करेंगी। प्रांगण में अनाज नापने के एक विशाल तराजू भी प्रदर्शित है और रईचुल झूला और गोल झूला की व्यवस्था की गई।

Share This Now :
Continue Reading

Advertisement



Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

राज्य एवं शहर1 hour ago

कलेक्टर्स कॉन्फ्रेंस : छत्तीसगढ़ शांति का टापू है, क़ानून व्यवस्था को बनाए रखना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता : CM बघेल

अभिनव परियोजनाओं के कारण आज छत्तीसगढ़ मॉडल की चर्चा पूरे देश में नागरिकों को योजनाओं से मिले प्रत्यक्ष लाभ से...

देश-विदेश3 hours ago

उत्तराखंड में फंसे दुर्ग के सभी 55 लोग सुरक्षित, CM भूपेश ने यात्रियों से फोन पर बात की, कहा- आप लोग जल्दी ही घर पहुंचेंगे

दुर्ग : उत्तराखंड के नैनीताल में फंसे सभी 55 लोगों की सुरक्षित वापसी हो गई है। छत्तीसगढ़ शासन की ओर...

CORONA VIRUS17 hours ago

छत्तीसगढ़ में आज कोरोना से एक मौत, 34 नए मामले मिले, दुर्ग से 7 : 36 मरीज़ रिकवर ; देखिए जिलेवार आंकड़ा

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे आज 34 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार बीते...

राज्य एवं शहर24 hours ago

CG : CM ने धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना का किया शुभारंभ, 84 मेडिकल स्टोर हुए शुरू, MRP से 50-71% सस्ती मिलेगी दवाईयां

महंगी होती स्वास्थ्य सेवाओं को गरीब से गरीब लोगों की पहुंच में लाने का प्रयास : बघेल डॉक्टरों और फार्मासिस्टों...

राज्य एवं शहर1 day ago

छत्तीसगढ़ : राजनांदगांव में बाजार के पानीपुरी खाने से 71 बीमार, 47 बच्चे मेडिकल कॉलेज में भर्ती

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के गातापार कला बाजार में भेल और गोलगप्पे खाने के बाद 71 लोग बीमार...

Advertisement

CONNECT WITH US :

राज्य एवं शहर7 days ago

CG : CM बघेल की अध्यक्षता में कलेक्टर्स कॉन्फ्रेंस अब 21 अक्टूबर को, IG, SP कॉन्फ्रेंस 22 को होंगी, संशोधित कार्यक्रम जारी

राज्य एवं शहर6 days ago

CG : जशपुर में तेज रफ्तार गांजे से भरी कार ने दुर्गा विसर्जन की झांकी में भीड़ को रौंदा, 1 की मौत, कई की हालत नाजुक

आस्था6 days ago

Happy Dussehra 2021 : सूर्यास्त के बाद ही करना चाहिए रावण दहन, जानिए महत्व और रावण दहन का शुभ समय

CORONA VIRUS7 days ago

छत्तीसगढ़ में आज 16 नए कोरोना मामलों की पुष्टि, 20 मरीज़ हुए रिकवर ; देखिए आपके जिले का हाल

राज्य एवं शहर7 days ago

CG : CM ने डाक विभाग द्वारा राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव और राज्योत्सव पर जारी डाक टिकट और विशेष आवरण का विमोचन किया

राज्य एवं शहर6 days ago

CG : जशपुर में तेज रफ्तार गांजे से भरी कार ने दुर्गा विसर्जन की झांकी में भीड़ को रौंदा, 1 की मौत, कई की हालत नाजुक

Country News Today Exclusive2 weeks ago

CG : तीसरी बटालियन के अधिकारी व जवानों द्वारा नहीं देखा जा सका नदी किनारे कचरों का ढेर, जुटकर किया गया सफाई अभियान

Special News2 weeks ago

CG में खुला राम वन गमन मार्ग, शंकर महादेवन के बोलो राम-राम गीत पर थिरक उठे CM, मानस मण्डली में बघेल ने स्वयं बजाया खंजरी : देखिए वीडियो

देश-विदेश2 weeks ago

VIDEO : UP पहुंचे CG के CM बघेल, पुलिस ने लखनऊ हवाई अड्‌डे पर रोका, विरोध में धरने पर बैठे CM भूपेश, सामान्य यात्री बस में कराया सफर

देश-विदेश2 weeks ago

छत्तीसगढ़ के CM बघेल दिल्ली AICC के प्रेस कॉन्फ्रेंस में UP सरकार पर लगाये कई गंभीर आरोप : देखिए वीडियो

Top 10 News

Must Read

Festival & Fastings2 days ago

Eid Milad-un-Nabi Mubarak : आज हैं ईद मिलाद-उन-नबी, जानें इस दिन का महत्व और इतिहास

National Desk : दुनिया भर में आज मिलाद उन-नबी (Eid Milad 2021) का त्योहार मनाया जा रहा है. इस्लाम धर्म...

Special News2 days ago

IANS C वोटर ने CG के CM भूपेश बघेल को बताया देश में सबसे अच्छा सीएम, कल्याणकारी योजनाओं के कारण मिली लोकप्रियता

सर्वे में सभी मुख्यमंत्रियों के बीच श्री बघेल को मिली सर्वोच्च रेटिंग सतत् विकास के लक्ष्यों में लैंगिक समानता के...

Festival & Fastings4 days ago

CG : रायपुर जिला प्रशासन ने Eid Milad Un Nabi के लिए जारी किया दिशानिर्देश, इन जुलूस, रैली सहित इन चीजों पर लगी पाबंदी

रायपुर : ईद मिलादुन्नबी को लेकर रायपुर जिला प्रशासन ने गाइडलाइन जारी की है। गाइडलाइन के अनुसार ईद मिलादुन्नबी के दौरान...

Tech Gyan2 weeks ago

फोन हो गया चोरी? तो ऐसे ब्लॉक करें PAYTM अकाउंट, पूरा पैसा रहेगा सुरक्षित! ; देखिए स्टेप्स

National Desk : आज के समय से भारत में शायद ही कोई ऐसा स्मार्टफोन हो, जिसमें Paytm ना हो। नुक्कड...

Country News Today Exclusive2 weeks ago

CG : तीसरी बटालियन के अधिकारी व जवानों द्वारा नहीं देखा जा सका नदी किनारे कचरों का ढेर, जुटकर किया गया सफाई अभियान

अम्लेश्वर, दुर्ग : तीसरी वाहिनी के सेनानी धर्मेन्द्र सिंह (भापुसे) के निर्देशन में 02 अक्तूबर को स्वच्छ भारत अभियान के...

Advertisement

Trending