Connect with us

Festival & Fastings

Ramadan Mubarak 2021 : महामारी में इस रमजान, एहतियात के साथ इबादत, जानिए पूरे 30 दिन का सहरी और इफ्तार का टाइम टेबल

Published

on

Share This Now :
  • रमजान इस्लाम धर्म में मुबारक महीना है
  • इस पूरे महीने 30 दिन का रोजा रखा जाता है
  • 14 अप्रैल से शुरू हो रहा है रमजान का महीना

RO-NO-12059/77

11_june
22_june

रायपुर : माह-ए-इबादत रमजान का आगाज हो चुका है। लगातार दूसरे साल कोरोना महामारी के मुश्किल वक्त में ये मौका आया है। अपना खयाल रखें, अपनों का खयाल रखें। खुद पैगंबर मोहम्मद साहब के जमाने में ताऊन नामक वबा (महामारी) फैली थी, जिसका रूप कोरोना जैसा ही था।

तब मोहम्मद साहब ने यह तदबीर फरमाई कि जहां बीमारी फैली हुई हो, वहां दूसरे लोग ना जाएं और वहां के लोग दूसरी जगह ना आएं। आज के हालात में यह तदबीर सटीक है। बेहद जरूरी है कि मस्जिदाें में भीड़ ना हाे। दूरी रखी जाए। अल्लाह इबादत देखता है न कि जगह।

सुरक्षित रमजान- इस्लाम में जीवन ही सर्वोच्च है
संक्रामक रोग से पीड़ित व्यक्ति दूसरे सेहतमंद लोगों से दूर रहें। अगर किसी शख्स को किसी तरह की संक्रामक बीमारी हो जाए तो बाकी लाेग उससे दूरी बनाकर रखें। (अल बुखारी 6771, अल मुस्लिम 2221)

3 महत्वपूर्ण बातें- घर में नमाज, वुजू-मास्क और भीड़ से दूरी ही है सुरक्षित रमजान

1. मस्जिद जैसा सवाब घर पर नमाज पढ़ने में भी है
वबा (महामारी) के वक्त घर भी मस्जिद है। जो सवाब (पुण्य) मस्जिद में नमाज का है। वबा या ऐसी महामारी के दाैरान वही सवाब घर में पढ़ी हुई नमाज का है।
-अल तिरमजी (अल-सलाह, 291)

2. हाथ बार-बार धोते रहें, मास्क का इस्तेमाल करें
पैगंबर मुहम्मद साहब को छींक-खांसी आती थी, तो वे कपड़े से मुंह ढक लिया करते थे। हुजूर ने फरमाया कि अपने घर आते ही अपने हाथ धो लें।(अबू दाऊद, अल तिरमजी,
बुक 43, हदीश 2969)

3. जहां संक्रमण है वहां से दूर रहें, यही समझदारी
हजरत उमर के जमाने में युद्ध के लिए उनकी सेना ऐसी जगह पहुंची जहां वबा फैली थी। हजरत ने सेना को वापस बुला लिया। लोगों ने विरोध किया, लेकिन उन्होंने वहां सेना भेजने से इंकार कर दिया।
-इस्लामिक इतिहास से

सुरक्षित रमजान की गाइड-लाइन

  • संक्रमित हैं या गंभीर बीमारी है तो रोजे के लिए डॉक्टर से सलाह लें।
  • किसी से हाथ न मिलाएं, बल्कि दिल पर हाथ रख उसे दुआएं दें।
  • संक्रमण से बचते हुए गरीबों को खाना-इफ्तारी देते रहें।
  • घर पर ही इबादत पर जोर दें। बच्चों को भी डिसिप्लिन सिखाएं।
  • न इफ्तार पार्टी करें ना किसी की दी हुई इफ्तार पार्टी में जाएं। घर पर रहें।
  • नमाज के दौरान दूरी बनाएं रखें, मस्जिदों में बेवजह भीड़ न बढ़ाएं।

खास बातें इन्होंने बताईं

  • डॉ. जीनत शौकत अली, डायरेक्टर जनरल, विजडम फाउंडेशन } मौलाना शब्बीर अहमद नूरी, तंजीमुल उलेमा, बिलासपुर
  • हाफिज मोहम्मद उस्मान, तारबाहर
  • सै. शौकत अली, अध्यक्ष, एआईएमईएस

Ramzan 2021 : रमजान का पाक महीना 14 अप्रैल से शुरू हो रहा है। आइए जानते है रमजान के मुबारक महीने के तीसों दिन का क्या है सहरी और इफ्तार का टाइम टेबल

रमजान के पवित्र महीने के लिए भारत में मंगलवार को चांद दिख गया है। अब बुधवार से रमजान में रोजे रखने की शुरुआत होगी। रमजान में दुनिया भर के मुसलमान पूरे दिन उपवास रखते हैं। ये महीना अपनी इच्छाओं पर लगाम लगाने का है। माहे रमजान एक महीने का होता है जिसमें मुस्लिम संप्रदाय के लोग अल्लाह की इबादत करते है और इस दौरान रोजाना 30 दिन सहरी और इफ्तार का खासा महत्व होता है।

रमजान का मुक़द्दस (पवित्र) महीना हर इंसान को अपनी जिंदगी को सही राह पर लाने का पैगाम देता है। खुद को हर बुराई से बचाकर अल्लाह के नजदीक ले जाने की यह सख्त कवायद हर मुस्लिम के लिये खुद को पाक-साफ करने का सुनहरा मौका होती है।

इस महीने में सहरी और इफ्तार का खासा महत्‍व होता है। सुबह के समय सहरी का वक्‍त होता है और शाम को इफ्तार का। इन दोनों का ही समय तय होता है और उसी के हिसाब से सहरी और रोजा इफ्तार किया जाता है। आइये जानते हैं इस बार क्‍या है सहरी और इफ्तारी का वक्‍त। देखिए रमजान महीने का पूरा टाइम टेबल।

Ramadan Time Table 2020 (रमादान टाइम टेबल 2021 )

Ramzan 2021 Calendar: Sehri and Iftar Daily Timings

तारीख सहरी टाइम टेबल इफ्तार टाइम टेबल
14 अप्रैल,2021 4:35 AM 6:47 PM
15 अप्रैल,2021 4:34 AM 6:48 PM
16 अप्रैल, 2021 4:32 AM 6:48 PM
17 अप्रैल,2021 4:31 AM 6:49 PM
18 अप्रैल,2021 4:30 AM 6:49 PM
19 अप्रैल,2021 4:29 AM 6:50 PM
20 अप्रैल,2021 4:27 AM 6:50 PM
21 अप्रैल,2021 4:26 AM 6:51 PM
22 अप्रैल, 2021 4:25 AM 6:52 PM
23 अप्रैल,2021 4:24 AM 6:52 PM
24 अप्रैल, 2021 4:23 AM 6:53 PM
25 अप्रैल, 2021 4:22 AM 6:53 PM
26 अप्रैल, 2021 4:19 AM 6:54 PM
27 अप्रैल, 2021 4:20 AM 6:55 PM
28 अप्रैल , 2021 4:18 AM 6:55 PM
29 अप्रैल, 2021 4:17 AM 6:56 PM
30 अप्रैल, 2021 4:16 AM 6:56 PM
1 मई , 2021 4:15 AM 6:57 PM
2 मई , 2021 4:14 AM 6:58 PM
3 मई, 2021 4:13 AM 6:58 PM
5 मई 2021 4:12 AM 6:59 PM
6 मई, 2021 4:11 AM 6:59 PM
7 मई , 2021 4:10 AM 7:00 PM
8 मई , 2021 4:09 AM 7:01 PM
9 मई , 2021 4:08 AM 7:01 PM
10 मई , 2021 4:06 AM 7:02 PM
11 मई , 2021 4:05 AM 7:03 PM
12 मई , 2021 4:04 AM 7:04 PM
13 मई , 2021 4:03 AM 7:04 PM

​रमजान का महीना पाक महीना होता है जिसमें इस्लाम धर्म के लोग अल्लाह से अपनी गलतियों की माफी मांगते हैं और अच्‍छे कर्म करने का फैसला लेते हैं। यह महीना त्‍याग और समर्पण का होता है।

Share This Now :
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Festival & Fastings

CG : राज्यपाल उइके और CM बघेल रायपुर में दावते रोजा इफ्तार में हुए शामिल ; प्रदेशवासियों की खुशहाली तथा सुख-समृद्धि के लिए मांगी दुआ

Published

on

Share This Now :

  • देश और प्रदेश के विकास के लिए एकजुटता और आपसी भाईचारा महत्वपूर्ण : राज्यपाल उइके
  • बुराई को त्याग कर अच्छाई को अपनाने के लिए प्रेरित करता है रमजान का महीना : मुख्यमंत्री बघेल

रायपुर : राज्यपाल अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को राजधानी रायपुर के नेताजी सुभाष स्टेडियम में आयोजित दावते रोजा इफ्तार में शामिल हुए और प्रदेशवासियों की खुशहाली तथा सुख-समृद्धि के लिए दुआ मांगी।

RO-NO-12059/77

11_june
22_june

राज्यपाल उइके ने दावते रोजा इफ्तार में सभी समुदाय के धर्म गुरूओं को एक साथ आमंत्रित कर आपसी भाईचारा तथा खुशहाली से मनाए जाने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री बघेल को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि रमजान का महीना बुराई का त्याग करने के लिए प्रेरित करता है और अपनी धार्मिक मान्यता के अनुरूप व्यक्ति को सदाचरण की ओर ले जाता है। उन्होंने दावते रोजा इफ्तार में सभी धर्म गुरूओं के शामिल होने पर उसे गंगा-जमुनी तहजीब का अनुपम उदाहरण बताया। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश के विकास के लिए यह एकजुटता और आपसी भाईचारा महत्वपूर्ण है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि रमजान का महीना इबादत का महीना है। इस महीना में लोग रोजा रखकर ईश्वर की आराधना करते हैं। यह एक ऐसा महीना है जो इंसान को बुराई से अच्छाई की ओर चलने के लिए प्रेरित करता है। रोजा खुदा की इबादत का एक ऐसा जरिया है जो रोजेदार को उस दुनिया के साथ-साथ इस दुनिया के लिए भी लायक बनाता है। इस पवित्र महीने में सभी के मन के भाव एक हो जाते हैं, सभी का लक्ष्य एक हो जाता है। सभी एक जैसा तप करते हैं और एक जैसी अनुभूतियों से गुजरते हैं। भावों और अनुभूतियों का एक हो जाना ही आध्यात्म की चरम ऊंचाई है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि रमजान का सबसे महत्वपूर्ण संदेश यही है कि एक दूसरे से सम हुए बिना ईश्वर-अल्लाह के साथ सम नहीं हुआ जा सकता। जहां समता होगी, वहीं पर परस्परता होगी। जहां पर परस्परता होगी वहीं पर एकजुटता होगी। और जहां एकजुटता होगी वहीं पर भाईचारा होगा। इस्लाम की परंपराएं परस्परता और भाईचारे की ओर प्रेरित करती हैं। मिल-जुलकर जीने के साथ-साथ मिल-जुलकर ईश्वर को प्राप्त करना सिखाती हैं। गरीबों, मजलूमों और कमजोर लोगों का हाथ पकड़कर उन्हें भी अपने साथ चलाना सिखाती हैं। आप सभी ने इस पवित्र महीने में रोजा रखकर खुदा की इबादत की है। वह आपकी हर दुआ कबूल करेगा। मैं आप सभी को ईद की अग्रिम शुभकामनाएं और बधाई देता हूं।

इस अवसर पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत, महापौर नगरपालिक निगम रायपुर एजाज ढेबर, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, विधायकगण सर्वश्री सत्यनारायण शर्मा, मोहन मरकाम, छत्तीसगढ़ राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी, रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष धुप्पड़, सभापति प्रमोद दुबे सहित विभिन्न समुदायों के धर्मगुरू बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

Good Friday : गुड फ्राइडे आज, जानिए क्यों मनाया जाता है व इस दिन से जुड़ी अहम बातें ; 17 को मनाया जाएगा ईस्टर संडे

Published

on

Share This Now :

Good Friday 2022 : आज 15 अप्रैल 2022 को गुड फ्राइडे और 17 अप्रैल 2022 को ईस्टर संडे मनाया जाएगा। मान्यता है कि रविवार के दिन यीशु ने येरुशलन में प्रवेश किया था। विद्वानों का मत है कि 29ई को प्रभु ईसा गधे पर चढ़कर यरुशलम पहुंचे थे और लोगों ने खजूर की डालियां बताकर उनका स्वागत किया था, इसलिए इस दिन पाम संडे कहा जाता है। यहीं यरुशलम या जेरूसलम में उनके खिलाफ षड़यंत्र रचा गया और शुक्रवार को सूली पर लटका दिया गया। सूली पर लटाने की घटना को गुड फ्राइडे के नाम से जानते हैं।

RO-NO-12059/77

11_june
22_june

प्रभु ईसा मसीह, लोगों को मानवता, एकता और अहिंसा का उपदेश देकर अच्छाई की राह पर चलने के लिए प्रेरित कर रहे थे। धार्मिक अंधविश्वास करने वाले लोगों ने उन पर राजद्रोह का आरोप लगा दिया। उन्हें मौत की सजा सुनाई गई और प्रभु यीशु को सूली पर चढ़ा दिया गया। जिस दिन प्रभु यीशु को सूली पर चढ़ाया गया उस दिन को गुड फ्राइडे कहा जाता है। प्रभु यीशु के बलिदान की वजह से इस दिन को गुड फ्राइडे कहते हैं।

गुड फ्राइडे के तीसरे दिन यानी संडे को प्रभु ईसा मसीह दोबारा जीवित हो गए और 40 दिन तक लोगों के बीच उपदेश देते रहे। उनके दोबारा जीवित होने की घटना को ईस्टर संडे के रूप में मनाया जाता है। गुड फ्राइडे को चर्च में उनके जीवन के आखिरी पलों को दोहराया जाता है और लोगों की सेवा की जाती है। यह शोक का दिन है। इस दिन चर्च एवं घरों से सजावट की वस्तुएं हटा ली जाती हैं।

लोग प्रभु यीशु की याद में काले वस्त्र धारण कर पदयात्रा निकालते हैं। इस दिन चर्च में कैंडल नहीं जलाई जातीं और न ही घंटियां बजाई जाती हैं। गुड फ्राइडे को लोग अपने गुनाहों की माफी मांगते हैं। गुड फ्राइडे को शाकाहारी और सात्विक भोजन पर जोर दिया जाता है। क्रॉस को चूमकर प्रभु ईसा मसीह को याद करते हैं।

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

Subho Noboborsho 2022 : आज से शुरू हो रहा है बंगाली नववर्ष, जानें कैसे और क्यों मनाया जाता है पोइला बोइशाख

Published

on

Share This Now :

Happy Bengali New Year 2022 : पूरा विश्व एक जनवरी को नया साल मनाता है, लेकिन भारत एक ऐसा देश है, जहां एक जनवरी के अलावा और भी कई बार नया साल मनाया जाता है। भारत के विभिन्न राज्यों में अलग-अलग समय पर अपनी संस्कृति और परंपराओं के आधार पर नया साल मनाया जाता है। इसी तरह आज पश्चिम बंगाल में बंगाली समुदाय के लोग अपना नया साल मना रहे हैं।

RO-NO-12059/77

11_june
22_june

हिंदी कैलेंडर के अनुसार, चैत्र का महीना खत्म होते ही बैसाख का महीना शुरू हो जाता है और बंगाली समुदाय के लिए बैसाख माह का पहला दिन बहुत खास महत्व रखता है। इस दिन बंगाली समुदाय के नववर्ष की शुरुआत होती है। इस साल बंगाली नववर्ष 15 अप्रैल 2022 यानी आज से शुरू होने जा रहा है। बंगाल में इसे पोइला बोइशाख कहते हैं। तो चलिए आज जानते हैं कि कैसे मनाया जाता है ये पोइला बोइशाख और क्या हैं इससे जुड़ी मान्यताएं ;

कैसे मनाते हैं पोइला बोइशाख?

बंगाली समुदाय के लोग पोइला बोइशाख यानी साल के पहले दिन घरों की साफ-सफाई करते हैं और नए कपड़े पहनकर पूजा करते हैं। अच्छे पकवान बनाते हैं और एक दूसरे को नए साल की बधाई देते हैं।

इस दिन बंगाली लोग एक-दसूरे को गले मिलकर शुभो नोबो बोरसो कहकर नए साल की शुभकामनाएं देते हैं। शुभो नोबो बोरसो का हिंदी अर्थ होता है ‘नया साल मुबारक हो’।

साथ ही इस दिन मंदिर में जाकर ईश्वर के दर्शन करने और बड़ों का आशीर्वाद लेने की परंपरा है। इसके अलावा बंगाल के कई इलाकों में पोइला बोइशाख के दिन गौ माता की भी पूजा की जाती है। सुबह गौ माता को स्नान कराकर उन्हें तिलक लगाया जाता है। इस दिन गाय को भोग लगाकर उनका पांव छूकर आशीर्वाद लिया जाता है।

पश्चिम बंगाल में पोइला बोइशाख का दिन बहुत शुभ माना गया है। इस माह में सभी शुभ कार्य दैसे शादी-विवाह, गृह प्रवेश, मुंडन, नया घर खरीदने जैसे अदि कार्य किए जाते हैं। इसके अलावा इस दिन कई जगह पर मेलों का आयोजन किया जाता है।

क्या है मान्यता ?

बंगाली समुदाय में इस दिन सुबह जल्दी उठकर उगते सूर्य को देखने की भी परंपरा है। मान्यता है कि ऐसा करने से पूरे साल भर सफलता प्राप्त होती है। वहीं कई जगहों पर इस दिन लोग नाश्ते में प्याज, हरी मिर्ची और फ्राईड फिश के साथ भात खाते हैं।

पोइला बोइशाख के दिन पूरे साल अच्छी बारिश के लिए बादलों की पूजा की जाती है। इसके अलावा इस दिन परिवार की समृद्धि और भलाई के लिए भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है।

Share This Now :
Continue Reading

RO-NO-12059/77

RO-NO-12059/77

Advertisement

Advertisement

Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

राज्य एवं शहर2 hours ago

छत्तीसगढ़ : IAS के बाद राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों का भी ट्रांसफर ; लोकेश भिलाई और प्रकाश दुर्ग निगम के होंगे नए आयुक्त

रायपुर, दुर्ग : छत्तीसगढ़ शासन ने आज भारतीय प्रशासनिक सेवा के ट्रांसफर के राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों का भी...

राज्य एवं शहर2 hours ago

छत्तीसगढ़ में बड़ा प्रशासनिक सर्जरी : 37 IAS का ट्रांसफर, 19 जिलों के कलेक्टर बदले ; सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे अब रायपुर के DM

रायपुर : सूबे में राज्य सरकार ने इस साल का सबसे बड़ा प्रशासनिक सर्जरी किया है। भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)...

राजनीति6 hours ago

CG त्रिस्तरीय पंचायत उप चुनाव 2022 : 28 जून को होंगे 3 जनपद सदस्य, 62 सरपंच और 52 पंच पदों के लिए चुनाव

रायपुर : त्रिस्तरीय पंचायत उप चुनाव 2022 अंतर्गत राज्य के 21 जिलों में जनपद पंचायत सदस्य के 3, सरपंच के...

राज्य एवं शहर20 hours ago

CM बघेल ने जशपुर को 120 करोड़ 50 लाख रूपए के 152 विकास कार्याे की दी सौगात ; फूड प्रोसेसिंग एवं पैकेजिंग लैब, 2 सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट और 3 पानी टंकियों का किया लोकार्पण

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जशपुर में 120 करोड़ 50 लाख 55 हजार रुपए के कुल 152 कार्याे का...

CORONA VIRUS23 hours ago

CG में 125 नए कोरोना के मामले मिले, 64 हुए ठीक, एक्टिव केस 757 ; रायपुर में 207 सक्रिय ; देखिए जिलेवार आंकड़ा 

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे आज कोरोना के 125 नए मरीज़ मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार...

Advertisement

CONNECT WITH US :

खेल42 seconds ago

वर्ल्ड कप विनिंग कैप्टन इयोन मोर्गन ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास ; इंग्लैंड के सबसे सफल कप्तान है मोर्गन

क्राइम19 mins ago

नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने वाले शख्स की दिनदहाड़े हत्या ; हमलावरों ने जारी किए वीडियो, उदयपुर में तनाव ; 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद

राज्य एवं शहर2 hours ago

छत्तीसगढ़ : IAS के बाद राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों का भी ट्रांसफर ; लोकेश भिलाई और प्रकाश दुर्ग निगम के होंगे नए आयुक्त

राज्य एवं शहर2 hours ago

छत्तीसगढ़ में बड़ा प्रशासनिक सर्जरी : 37 IAS का ट्रांसफर, 19 जिलों के कलेक्टर बदले ; सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे अब रायपुर के DM

Special News5 hours ago

777 Charlie Review : कलयुग के ‘धर्मराज’ की रुला देने वाली कहानी ; श्वान और इंसान के बीच अनोखा रिश्ता समझाएगा ये फिल्म ; देखिए ट्रेलर

Career7 days ago

CG : कृष्णा पब्लिक स्कूल सुंदर नगर भिलाई में हुआ योगाभ्यास कार्यक्रम का आयोजन ; बच्चों ने बढ़-चढ़ कर किया योग ; देखिए तस्वीरें

Special News7 days ago

छत्तीसगढ़ : KTUJM के सामुदायिक रेडियो संवाद ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर विभिन्न स्थानों पर किया योगाभ्यास कार्यक्रम का आयोजन

राज्य एवं शहर5 days ago

CG में 3 दिन बंद रहेंगी शराब बिक्री, होटल-रेस्टॉरेंट में भी बेचने की अनुमति नहीं, आबकारी विभाग ने जारी किए निर्देश ; जानिए कारण

देश-विदेश5 days ago

बड़ी खबर : छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली 35 ट्रेनें अगले 15 दिन के लिए फिर रहेंगी रद्द, देखिए सूची

Special News5 days ago

छत्तीसगढ़ राज्य का भुइयां कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर मिला पुरस्कार : प्रतिष्ठित IMC डिजिटल अवार्ड्स 2021 से किया गया सम्मानित

Special News5 hours ago

777 Charlie Review : कलयुग के ‘धर्मराज’ की रुला देने वाली कहानी ; श्वान और इंसान के बीच अनोखा रिश्ता समझाएगा ये फिल्म ; देखिए ट्रेलर

देश-विदेश5 days ago

वायरल वीडियो : अयोध्या के सरयू नदी में स्नान के दौरान पत्नी को किस करना पड़ा भारी, गुस्साए लोगों ने पति को खूब पीटा 

देश-विदेश2 weeks ago

दिल्ली में कांग्रेस के बड़े नेताओं के साथ CM भूपेश और MLA विकास भी गिरफ्तार ; ट्वीट कर कहा-हम सब याद रखेंगे ; देखिए वीडियो

राजनीति4 weeks ago

कर्नाटक मे प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान किसान नेता राकेश टिकैत पर फेंकी गई स्याही ; ‘यह साजिश थी, जांच होनी चाहिए’

IPL4 weeks ago

IPL 2022 Final : गुजरात टाइटंस ने डेब्यू सीजन में रचा इतिहास, राजस्थान रॉयल्स को 7 विकेट से हराकर जीता टाइटल

Top 10 News

Must Read

Special News5 hours ago

777 Charlie Review : कलयुग के ‘धर्मराज’ की रुला देने वाली कहानी ; श्वान और इंसान के बीच अनोखा रिश्ता समझाएगा ये फिल्म ; देखिए ट्रेलर

Entertainment Desk : जानवरों और इंसानों के रिश्तों पर फिल्में बनाने में दक्षिण भारतीय फिल्म कंपनी देवर फिल्म्स का बोलबाला...

Special News3 days ago

छत्तीसगढ़ : दुर्ग में DIAL 112 में गूंजी किलकारी ; वाहन में महिला ने बच्चे को दिया जन्म ; जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ

दुर्ग  : छत्तीसगढ़ पुलिस की DIAL 112 सेवा ने फिर एक बार पीड़ित की जान बचाई हैं। जामुल निवासी महिला...

Special News3 days ago

CG : स्वस्थ हुआ राहुल, जांजगीर-चांपा के कलेक्टर और SP खुद लेने पहुंचे बिलासपुर ; 100 घंटे से ज्यादा 60 फीट गहरे बोरवेल में फंसा था बच्चा

बिलासपुर, जांजगीर-चांपा : छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले के पिहरीद गांव में 100 घंटे से ज्यादा 60 फीट गहरे बोरवेल के...

Special News4 days ago

रायगढ़ में खुलेगा संगीत एवं नृत्य महाविद्यालय ; छत्तीसगढ़ संस्कृति परिषद के 127 आयोजनों के लिए 4.93 करोड़ रूपए स्वीकृत

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर केन्द्रित सभी संभागीय मुख्यालयों में आयोजित होंगे कार्यक्रम मुख्यमंत्री ने कहा- घर-घर में शिल्प कलाओं की...

Special News5 days ago

छत्तीसगढ़ राज्य का भुइयां कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर मिला पुरस्कार : प्रतिष्ठित IMC डिजिटल अवार्ड्स 2021 से किया गया सम्मानित

रायपुर : छत्तीसगढ़ में संचालित भुइयां कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार मिला है। छत्तीसगढ़ में कार्यालय आयुक्त भू-अभिलेख द्वारा...

Advertisement
Advertisement

Trending