Connect with us

Festival & Fastings

Ramadan Mubarak 2021 : महामारी में इस रमजान, एहतियात के साथ इबादत, जानिए पूरे 30 दिन का सहरी और इफ्तार का टाइम टेबल

Published

on

Share This Now :
  • रमजान इस्लाम धर्म में मुबारक महीना है
  • इस पूरे महीने 30 दिन का रोजा रखा जाता है
  • 14 अप्रैल से शुरू हो रहा है रमजान का महीना

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

रायपुर : माह-ए-इबादत रमजान का आगाज हो चुका है। लगातार दूसरे साल कोरोना महामारी के मुश्किल वक्त में ये मौका आया है। अपना खयाल रखें, अपनों का खयाल रखें। खुद पैगंबर मोहम्मद साहब के जमाने में ताऊन नामक वबा (महामारी) फैली थी, जिसका रूप कोरोना जैसा ही था।

तब मोहम्मद साहब ने यह तदबीर फरमाई कि जहां बीमारी फैली हुई हो, वहां दूसरे लोग ना जाएं और वहां के लोग दूसरी जगह ना आएं। आज के हालात में यह तदबीर सटीक है। बेहद जरूरी है कि मस्जिदाें में भीड़ ना हाे। दूरी रखी जाए। अल्लाह इबादत देखता है न कि जगह।

सुरक्षित रमजान- इस्लाम में जीवन ही सर्वोच्च है
संक्रामक रोग से पीड़ित व्यक्ति दूसरे सेहतमंद लोगों से दूर रहें। अगर किसी शख्स को किसी तरह की संक्रामक बीमारी हो जाए तो बाकी लाेग उससे दूरी बनाकर रखें। (अल बुखारी 6771, अल मुस्लिम 2221)

3 महत्वपूर्ण बातें- घर में नमाज, वुजू-मास्क और भीड़ से दूरी ही है सुरक्षित रमजान

1. मस्जिद जैसा सवाब घर पर नमाज पढ़ने में भी है
वबा (महामारी) के वक्त घर भी मस्जिद है। जो सवाब (पुण्य) मस्जिद में नमाज का है। वबा या ऐसी महामारी के दाैरान वही सवाब घर में पढ़ी हुई नमाज का है।
-अल तिरमजी (अल-सलाह, 291)

2. हाथ बार-बार धोते रहें, मास्क का इस्तेमाल करें
पैगंबर मुहम्मद साहब को छींक-खांसी आती थी, तो वे कपड़े से मुंह ढक लिया करते थे। हुजूर ने फरमाया कि अपने घर आते ही अपने हाथ धो लें।(अबू दाऊद, अल तिरमजी,
बुक 43, हदीश 2969)

3. जहां संक्रमण है वहां से दूर रहें, यही समझदारी
हजरत उमर के जमाने में युद्ध के लिए उनकी सेना ऐसी जगह पहुंची जहां वबा फैली थी। हजरत ने सेना को वापस बुला लिया। लोगों ने विरोध किया, लेकिन उन्होंने वहां सेना भेजने से इंकार कर दिया।
-इस्लामिक इतिहास से

सुरक्षित रमजान की गाइड-लाइन

  • संक्रमित हैं या गंभीर बीमारी है तो रोजे के लिए डॉक्टर से सलाह लें।
  • किसी से हाथ न मिलाएं, बल्कि दिल पर हाथ रख उसे दुआएं दें।
  • संक्रमण से बचते हुए गरीबों को खाना-इफ्तारी देते रहें।
  • घर पर ही इबादत पर जोर दें। बच्चों को भी डिसिप्लिन सिखाएं।
  • न इफ्तार पार्टी करें ना किसी की दी हुई इफ्तार पार्टी में जाएं। घर पर रहें।
  • नमाज के दौरान दूरी बनाएं रखें, मस्जिदों में बेवजह भीड़ न बढ़ाएं।

खास बातें इन्होंने बताईं

  • डॉ. जीनत शौकत अली, डायरेक्टर जनरल, विजडम फाउंडेशन } मौलाना शब्बीर अहमद नूरी, तंजीमुल उलेमा, बिलासपुर
  • हाफिज मोहम्मद उस्मान, तारबाहर
  • सै. शौकत अली, अध्यक्ष, एआईएमईएस

Ramzan 2021 : रमजान का पाक महीना 14 अप्रैल से शुरू हो रहा है। आइए जानते है रमजान के मुबारक महीने के तीसों दिन का क्या है सहरी और इफ्तार का टाइम टेबल

रमजान के पवित्र महीने के लिए भारत में मंगलवार को चांद दिख गया है। अब बुधवार से रमजान में रोजे रखने की शुरुआत होगी। रमजान में दुनिया भर के मुसलमान पूरे दिन उपवास रखते हैं। ये महीना अपनी इच्छाओं पर लगाम लगाने का है। माहे रमजान एक महीने का होता है जिसमें मुस्लिम संप्रदाय के लोग अल्लाह की इबादत करते है और इस दौरान रोजाना 30 दिन सहरी और इफ्तार का खासा महत्व होता है।

रमजान का मुक़द्दस (पवित्र) महीना हर इंसान को अपनी जिंदगी को सही राह पर लाने का पैगाम देता है। खुद को हर बुराई से बचाकर अल्लाह के नजदीक ले जाने की यह सख्त कवायद हर मुस्लिम के लिये खुद को पाक-साफ करने का सुनहरा मौका होती है।

इस महीने में सहरी और इफ्तार का खासा महत्‍व होता है। सुबह के समय सहरी का वक्‍त होता है और शाम को इफ्तार का। इन दोनों का ही समय तय होता है और उसी के हिसाब से सहरी और रोजा इफ्तार किया जाता है। आइये जानते हैं इस बार क्‍या है सहरी और इफ्तारी का वक्‍त। देखिए रमजान महीने का पूरा टाइम टेबल।

Ramadan Time Table 2020 (रमादान टाइम टेबल 2021 )

Ramzan 2021 Calendar: Sehri and Iftar Daily Timings

तारीख सहरी टाइम टेबल इफ्तार टाइम टेबल
14 अप्रैल,2021 4:35 AM 6:47 PM
15 अप्रैल,2021 4:34 AM 6:48 PM
16 अप्रैल, 2021 4:32 AM 6:48 PM
17 अप्रैल,2021 4:31 AM 6:49 PM
18 अप्रैल,2021 4:30 AM 6:49 PM
19 अप्रैल,2021 4:29 AM 6:50 PM
20 अप्रैल,2021 4:27 AM 6:50 PM
21 अप्रैल,2021 4:26 AM 6:51 PM
22 अप्रैल, 2021 4:25 AM 6:52 PM
23 अप्रैल,2021 4:24 AM 6:52 PM
24 अप्रैल, 2021 4:23 AM 6:53 PM
25 अप्रैल, 2021 4:22 AM 6:53 PM
26 अप्रैल, 2021 4:19 AM 6:54 PM
27 अप्रैल, 2021 4:20 AM 6:55 PM
28 अप्रैल , 2021 4:18 AM 6:55 PM
29 अप्रैल, 2021 4:17 AM 6:56 PM
30 अप्रैल, 2021 4:16 AM 6:56 PM
1 मई , 2021 4:15 AM 6:57 PM
2 मई , 2021 4:14 AM 6:58 PM
3 मई, 2021 4:13 AM 6:58 PM
5 मई 2021 4:12 AM 6:59 PM
6 मई, 2021 4:11 AM 6:59 PM
7 मई , 2021 4:10 AM 7:00 PM
8 मई , 2021 4:09 AM 7:01 PM
9 मई , 2021 4:08 AM 7:01 PM
10 मई , 2021 4:06 AM 7:02 PM
11 मई , 2021 4:05 AM 7:03 PM
12 मई , 2021 4:04 AM 7:04 PM
13 मई , 2021 4:03 AM 7:04 PM

​रमजान का महीना पाक महीना होता है जिसमें इस्लाम धर्म के लोग अल्लाह से अपनी गलतियों की माफी मांगते हैं और अच्‍छे कर्म करने का फैसला लेते हैं। यह महीना त्‍याग और समर्पण का होता है।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Festival & Fastings

छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल ने महानवमी पर भिलाई-3 निवास में कन्याओं की पूजा कर उन्हें कराया भोजन; देखिए तस्वीरें

Published

on

Share This Now :

दुर्ग: नवरात्रि के शुभ अवसर पर छत्तीसगढ़ की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने भिलाई 3 स्थित निवास में कन्याभोज का आयोजन करवाया। महानवमी का पर्व आज देशभर के साथ ही प्रदेश में भी हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है। नवरात्रि में कन्या भोज का भी खास महत्व है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी कन्या भोज करवाया है। मुख्यमंत्री की तरफ से भिलाई-3 स्थित उनके निवास में इसका आयोजन किया गया था।

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

मुख्यमंत्री ने महानवमी में मंत्रोच्चार के साथ पहले कन्याओ की पूजा की। उसके बाद कन्याओं को लाल चुनरी ओढ़ाकर उनकी आरती की। इसके बाद उन्हें भोज करवया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने बच्चों को खुद खाना परोसा।

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कन्याओं को गिफ्ट भी दिया। इस कन्याभोज में मुख्यमंत्री की पत्नी भी उनके साथ मौजूद रहीं। सीएम ने इस आयोजन की तस्वीरें सोशल मीडिया में शेयर की हैं। वहीं बच्चियों को जब उपहार मिला तो वे भी काफी खुश हुईं।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

तिजहारिन माता-बहनों का मायका बना सीएम हाउस, पारंपरिक छत्तीसगढ़िया अंदाज में मना रहे उत्सव ; बड़ी संख्या में महिला पत्रकार भी हुईं शामिल

Published

on

Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ के पारंपरिक तीजा पोरा त्यौहार की शुरुआत हो चुकी है। यह त्योहार लगातार तीन दिनों तक चलेगा। बहन-बेटियां तीजा का त्यौहार मनाने के लिए अपने मायके का रुख कर रही हैं। माता, बहनों-बेटियों के स्वागत के लिए आज मुख्यमंत्री निवास में भी आकर्षक साज-सज्जा की गई है। पूरे प्रदेश से माताएं बहनें तीजा का उत्सव मनाने के लिए मुख्यमंत्री निवास में एकत्र हो रही हैं। आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का घर तिजहारिनों का मायका बन गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तीज त्यौहार छत्तीसगढ़ की पहचान है। हम मिलजुलकर मनाते हैं, मुख्यमंत्री निवास में हर वर्ष आयोजन करते है। हमने हरेली, तीजा त्यौहार में शासकीय अवकाश दिया है। आज भगवान शिव नदिया बैला की पूजा की ओर अच्छे फसल की कामना की।

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

तीज त्योहार के मौके पर मायके आने वाली बहन-बेटियों के चेहरे पर खुशी और संतोष की जो मुस्कान नजर आती है, वही मुस्कान यहां हर महिला के चेहरे पर नजर आ रही है।

साज-सज्जा में छत्तीसगढ़ी संस्कृति की झलक

तीजा-पोरा तिहार के लिए पूरे मुख्यमंत्री निवास की पारम्परिक रूप में भव्य सजावट की गई है। मुख्य मंडप में प्रवेश के तीन द्वार बनाए गए हैं। मुख्य द्वार को पोरा पर्व के प्रतीक पारंपरिक नांदिया बैला से सजाया गया है। मुख्य द्वार के सामने पारम्परिक झूले-रईचुली, बैलगाड़ी, बस्तर जनजातीय आर्ट और छत्तीसगढ़ी जन-जीवन से जुड़े चित्रों का प्रदर्शन किया गया है। मध्य द्वार को पोरा पर्व से जुड़े पारम्परिक बर्तनों से बनाया गया है। मध्य और तीसरे द्वार के बीच की गैलरी को रंग-बिरंगे मटकों और रंगीन टोकनी के द्वारा आकर्षक कलेवर दिया गया है। तीसरे द्वार की सजावट पर सरगुजा अंचल की संस्कृति की छाप है।

ग्रामीण परिवेश की झलक और खूबसूरत सेल्फी जोन

मुख्य मंडल के पूर्वी हिस्से में छत्तीसगढ़ी ग्रामीण परिवेश को दर्शाते एक मिट्टी का घर बना है। इसकी साज-सज्जा में पोरा से जुड़े विभिन्न प्रतीकों का इस्तेमाल किया गया है। घर के द्वार पर तुलसी चौरा और नन्दी बनाए गए हैं। यहां ग्रामीण जीवन मे उपयोग में आने वाले बर्तन व अन्य वस्तुओं जैसे पोरा, कढ़ाही, सुराही, बेलन-चौकी, ढकना, बाल्टी, चूल्हा आदि के मिट्टी के छोटे प्रतीकों सहित लकड़ी के नागर, बैलगाड़ी का चक्का और झाड़ू रखे हैं। इस घर की खिड़की में भी सेल्फी ज़ोन बनाया गया है। घर के बगल में मंदिर बना है जहां रखे शिवलिंग की मुख्यमंत्री सहित वहां मौजूद महिलाओं ने पूजा-अर्चना की।

हाथों में मेहंदी, पैर में माहुर और चेहरे पर मुस्कान

मुख्यमंत्री निवास में माताओं बहनों ने यहां हाथों में मेहंदी सजाई और पैर में माहूर लगाया। यह माना जाता है जब बेटी अपने मायके आती है तो वह कुछ इसी तरह साज श्रृंगार कर तीजा के त्यौहार में शामिल होती है। इस दौरान उनके चेहरे पर एक अलग ही मुस्कान खिली नजर आ रही थी जो इस पूरे माहौल को और भी खूबसूरत बना रही थी।

भगवान शिव और नंदी बैल की पूजा

त्यौहार के लिए मुख्यमंत्री निवास को तिजहारिन महिलाओं का मायका बना दिया गया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनकी पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल ने महिला सांसदों-विधायकों और पूरे प्रदेश से आई माताओं बहनों के साथ भगवान शिव, नंदी बैल और चुकिया-पोरा की पूजा की और प्रदेश की खुशहाली के लिए कामना की।

फुगड़ी-कबड्डी और जलेबी दौड़ का उत्साह

तीजा-पोरा तिहार के मंडप में महिलाओं के बीच फुगड़ी जैसी प्रतियोगिताएं भी हुईं। इसमें महिलाओं के कई समूहों ने हिस्सा लिया। चम्मच दौड़, जलेबी दौड़, बोरा दौड़ की प्रतियोगिताओं ने प्रतिभागियों के साथ दर्शकों को भी खूब हंसाया।

बड़ी संख्या में महिला पत्रकार भी हुईं शामिल

मुख्यमंत्री निवास में आज आयोजित तीजा- पोरा उत्सव में बड़ी संख्या में प्रदेश की महिला पत्रकार भी शामिल हुईं। महिला पत्रकारों ने इस मौके पर उत्सव का आनंद लिया और कार्यक्रम की सराहना की।

महिला पत्रकारों ने कहा कि वास्तव में मुख्यमंत्री निवास का माहौल आज ऐसा प्रतीत हो रहा है, जैसे राज्य भर की बहुत सारी बहन- बेटियां अपने मायके में पधारी हों। उत्सव के दौरान महिलाओं के लिए दी गई व्यवस्थाओं की महिला पत्रकारों में सराहना की। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ी संस्कृति और रीति रिवाज के अनुरूप यहां सारी तैयारियां की गई हैं। तीजा उपवास के पहले दिन खाया जाने वाला कड़ू भात की भी व्यवस्था आयोजन के दौरान की गई थी।

रचना नितेश, अंकिता शर्मा, मोनिका दुबे, दामिनी बंजारे, खुशबू ठाकरे, निधि ठाकुर, निधि प्रसाद, रजनी ठाकुर, आकांशा तिवारी, आकांक्षा दुबे, अम्बिका मिश्र, तज़ीन नाज़, निशा द्विवेदी, रचना नितेश, अमृता शर्मा, रजनी पांडे, मोनिका, नेहा श्रीवास्तव, नेहा केसरवानी, शिवानी बर्मन कोमल धनेसर, दामिनी बंजारे, खुशबू ठाकरे सहित निधि सहित अन्य महिला पत्रकारों ने इस कार्यक्रम में शामिल होकर उत्सव की शोभा बढ़ाई।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

तीज-पोला त्यौहार : महिलाओं के स्वागत के लिए तैयार है सीएम हाउस ; CM की पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल बना रहीं पकवान ; गृहमंत्री अमित शाह को आमंत्रण

Published

on

Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ में तीज, त्यौहारों की एक समृद्ध परम्परा है। राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति के सरंक्षण और संर्वधन के लिए प्रदेश में हरेली, तीजा, माता कर्मा जयंती, छठ पूजा और विश्व आदिवासी दिवस के दिन न केवल सार्वजनिक अवकाश की शुरूआत की है, बल्कि इन लोक पर्वों के महत्व से आने वाली पीढ़ी को जोड़ने के लिए इन्हें जन सहभागिता से पूरे उत्साह के साथ मनाया जा रहा है। स्थानीय त्यौहारों को जन सहभागिता के जोड़कर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ की संस्कृति का संवर्धन एवं संरक्षण करने का प्रयास किया जा रहा है।

cnt_05nov22
3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ के पारम्परिक त्यौहार पोला एवं तीज को व्यापक स्तर पर मनाने के लिए मुख्यमंत्री निवास में तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। हरेली पर्व की तरह ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के रायपुर स्थित निवास पर इन दोनों पारम्परिक त्यौहारों को व्यापक स्तर पर मनाया जाएगा।

प्रदेश में इन त्योहारों में किसान अपने बैलों की पूजा करते हैं। महिलाएं तीजा का उपवास करती हैं एवं मायके जाती हैं। छत्तीसगढ़ के इन सबसे मशहूर त्योहारों में पारंपरिक पकवानों बनाए जाते है।

इसी कड़ी में रायपुर के मुख्यमंत्री निवास में भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल प्रदेश में सबसे अधिक पसंद किए जाने वाला व्यंजन खुरमी बना रही है। इसे शक्कर पारे के तौर पर भी देशभर में जाना जाता है। मैदे से तैयार होने वाले कुरकुरे स्नैक्स फ्लेवर हल्के मीठे होते हैं। खुद मुख्यमंत्री ने पत्नी की किचन में काम करते हुए तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की हैं।

हर साल श्रीमती जी को लगन से पकवान अपने हाथों से बनाते देखा : सीएम बघेल 

मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा – तीजा-पोला की तैयारी। श्रीमती जी ने ठेठरी, खुरमी और चूरमा जैसे पारंपरिक पकवान तैयार कर दिए हैं। शादी के बाद से ही मैंने उन्हें हर तीज त्योहार पर इतनी ही लगन से पकवान अपने हाथों से बनाते देखा है।

गृहमंत्री अमित शाह को तीज-पोला त्यौहार के लिए सीएम बघेल ने किया आमंत्रित

गृहमंत्री अमित शाह को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीज-पोला त्यौहार के उपलक्ष्य में छत्तीसगढ़ की समृद्ध लोक संस्कृति का अनुभव करने के लिए मुख्यमंत्री निवास में आमंत्रित किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा – कल केंद्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी रायपुर में NIA कार्यालय का उद्घाटन करने आ रहे हैं। कल ही छत्तीसगढ़ में हम सब तीज-पोला का त्यौहार मनाने जा रहे हैं। मैंने श्री अमित शाह जी को छत्तीसगढ़ की समृद्ध लोक संस्कृति का अनुभव करने के लिए मुख्यमंत्री निवास में आमंत्रित किया है।

 

मुख्यमंत्री निवास में विशेष तैयारियां

पोला व तीज पर्व के लिए मुख्यमंत्री निवास में विशेष तैयारियां की गई हैं और तीज मना रही माताओं एवं बहनों की स्वागत के लिए ये पूरी तरह से तैयार है। मुख्यमंत्री निवास में छत्तीसगढ़ की परम्परा और रीति रिवाज के अनुसार साज सज्जा की गई है। मुख्यमंत्री निवास में पहले  पोला पर्व का आयोजन होगा।

इस मौके पर नंदी बैल की पूजा की जाएगी, इसी के साथ ही यहां पर तीजा महोत्सव का भी आयोजन किया जाएगा। तीजा महोत्सव के लिए प्रदेश के विभिन्न स्थानों से तीजहारिन माताओं एवं बहनों को मुख्यमंत्री निवास के लिए आमंत्रित किया गया है। इस अवसर पर बहनों द्वारा करूभात खाने की रस्म पूरी की जाएगी और छत्तीसगढ़ के पारम्परिक खेलों का आयोजन किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ का पोरा तिहार मूल रूप से खेती किसानी से जुड़ा पर्व है। खेती किसानी में बैल और गौवंशी पशुओं के महत्व को देखते हुए इस दिन उनके प्रति आभार प्रकट करने की परंपरा है। छत्तीसगढ़ के गांवों में इस पर्व में बैलों को विशेष रूप से सजाया जाता है। उनकी पूजा की जाती है। इस मौके पर घरों में बच्चे मिट्टी से बने नंदी बैल और बर्तनों के खिलौनों से खेलते हैं। घरों में ठेठरी, खुरमी, गुड़चीला, गुलगुला, भजिया जैसे पकवान तैयार किए जाते हैं और उत्सव मनाया जाता है। इस पर्व के अवसर पर बैलों की दौड़ भी आयोजित की जाती है।

छत्तीसगढ़ में तीजा (हरतालिका तीज) की विशिष्ट परम्परा है, तीजहारिन महिलाएं तीजा मनाने ससुराल से मायके आती हैं। तीजा मनाने के लिए बेटियों को पिता या भाई ससुराल से लिवाकर लाते है। छत्तीसगढ़ में तीजा पर्व की इतना अधिक महत्व है कि बुजुर्ग महिलाएं भी इस खास मौके पर मायके आने के लिए उत्सुक रहती हैं। महिलाएं पति की दीर्घायु के लिए तीजा पर्व के एक दिन पहले करू भात ग्रहण कर निर्जला व्रत रखती हैं। तीजा के दिन बालू से शिव लिंग बनाया जाता है, फूलों का फुलेरा बनाकर साज-सज्जा की जाती है और महिलाएं भजन-कीर्तन कर पूरी रात जागकर शिव-पार्वती की पूजा-अर्चना करती हैं।

advt_02 - Copy
advt_04 - Copy
advt_01 - Copy
advt_03 - Copy
advt_02 - Copy advt_04 - Copy advt_01 - Copy advt_03 - Copy

Share This Now :
Continue Reading

Something New!!!!

RO-NO-12200/24

RO-NO-12200/24

RO-NO-12172/78

RO-NO-12141/77

RO-NO-12111/80





RO-NO-12078/75

Advertisement

Chhattisgarh Trending News

राज्य एवं शहर3 hours ago

ब्रेकिंग : 13 वी विश्व बॉडीबिल्डिंग चैंपियनशिप का आयोजन 6 से 12 दिसंबर तक थाईलैंड के फुकेट् मे…. 150 सदस्यी भारतीय दल में छत्तीसगढ़ से अंतरराष्ट्रीय निर्णायक महेंद्र कुमार व राजशेखर राव है शामिल…. 4 दिसंबर को दुर्ग से रवाना होंगे राव, महेंद्र कुमार..

स्पोर्ट्स ब्रेकिंग : 13 वी विश्व बॉडीबिल्डिंग चैंपियनशिप का आयोजन 6 से 12 दिसंबर तक थाईलैंड के फुकेट् मे…. 150...

राजनीति20 hours ago

भानुप्रतापपुर उपचुनाव : प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस-भाजपा ने झोंकी ताकत, CM बघेल ने कहा…

भानुप्रतापपुर/कांकेर. भानुप्रतापपुर विधानसभा में प्रचार के अंतिम दिन आज भाजपा-कांग्रेस दोनों दलों ने पूरी ताकत झोंकी। कोरर में मुख्यमंत्री भूपेश...

राज्य एवं शहर20 hours ago

CG पुलिस ट्रांसफर: 12 निरीक्षक और उप निरीक्षकों का हुआ ट्रांसफर, देखिए लिस्ट

बिलासपुर 3 दिसम्बर 2022: पुलिस विभाग ने जिले के 12 निरीक्षक और उप निरीक्षकों का तबादला किया है। इस संबंध...

राज्य एवं शहर20 hours ago

CG के धान खरीदी केंद्र में अवैध वसूली, रजिस्टर में धान का आवक एंट्री करने किसानों से उगाही

लोरमी 3 दिसम्बर 2022: मुंगेली जिले के लोरमी तहसील के धान खरीदी केंद्रों में लापरवाही थमने का नाम नहीं ले...

राज्य एवं शहर20 hours ago

आरक्षण संसोधन विधेयक पर सोमवार को हस्ताक्षर करेंगी राज्यपाल

रायपुर 3 दिसम्बर 2022: छत्तीसगढ़ विधानसभा में आरक्षण विधेयक सर्व सम्मति से पारित हो गया है। अब आरक्षण संसोधन विधेयक...

Advertisement

CONNECT WITH US :

राज्य एवं शहर3 hours ago

ब्रेकिंग : 13 वी विश्व बॉडीबिल्डिंग चैंपियनशिप का आयोजन 6 से 12 दिसंबर तक थाईलैंड के फुकेट् मे…. 150 सदस्यी भारतीय दल में छत्तीसगढ़ से अंतरराष्ट्रीय निर्णायक महेंद्र कुमार व राजशेखर राव है शामिल…. 4 दिसंबर को दुर्ग से रवाना होंगे राव, महेंद्र कुमार..

ज्योतिष4 hours ago

Horoscope Today 4 December 2022: मिथुन, कन्या, तुला, कुंभ राशि वाले न करें ये काम, 12 राशियों का जानें आज का राशिफल

Special News20 hours ago

पुष्पा 2 में होगी सज्जाद डेलाफ्रूज की एंट्री, अल्लू और सज्जाद शेयर करेंगे स्क्रीन

राजनीति20 hours ago

भानुप्रतापपुर उपचुनाव : प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस-भाजपा ने झोंकी ताकत, CM बघेल ने कहा…

राज्य एवं शहर20 hours ago

CG पुलिस ट्रांसफर: 12 निरीक्षक और उप निरीक्षकों का हुआ ट्रांसफर, देखिए लिस्ट

Country News Today Exclusive3 months ago

MLNC Enactus के प्रोजेक्ट ‘स्नेह’ द्वारा रियूजेबल कपड़े के डायपर उत्पादन से पर्यावरण बचाव के साथ-साथ मिला रहा रोजगार ; जानिए क्या है खासियत?

क्राइम3 months ago

शर्मनाक : रायपुर में नाबालिग ने की अमानवीयता की सारे हदें पार, 5 कुत्तों के ऊपर फेंका एसिड, 2 की मौत, वीडियो आया सामने

क्राइम3 months ago

CG BREAKING : रायपुर के तेलीबांधा तालाब में कूदकर आत्महत्या करने वाले युवक की लाश बरामद ; देखिए वीडियो

बॉलीवुड तड़का - Entertainment4 months ago

MMS Scandal : एमएमएस लीक कांड पर कच्चा बादाम फेम अंजली अरोरा की तीखी प्रतिक्रिया, अभद्र भाषा इस्तेमाल करते हुए कह डाली ये बात : देखिए वीडियो

राज्य एवं शहर4 months ago

CG : दुर्ग में शिवनाथ नदी खतरे के निशान से 15 फीट ऊपर, कई गांव डूबे, शहर में भी घुसा पानी, SDRF ने किया रेस्क्यू ; 4 साल पहले बना पुल धंसा : देखिए वीडियो

Top 10 News

Must Read

Special News20 hours ago

पुष्पा 2 में होगी सज्जाद डेलाफ्रूज की एंट्री, अल्लू और सज्जाद शेयर करेंगे स्क्रीन

मुंबई 3 दिसम्बर 2022: अल्लू अर्जुन (Allu Arjun) की पुष्पा के बाद अब इसके Pushpa 2 का फैंस को बेसब्री...

Special News2 weeks ago

CG में बॉलीवुड फिल्म और वेब सीरीज की शूटिंग,खैरागढ़ विश्वविद्यालय बना 1947 के जमाने का महल

रायपुर 21 नवम्बर 2022: छत्तीसगढ़ के शहरों में लाइट कैमरा और एक्शन वाला माहौल देखा जा रहा है। एक बॉलीवुड...

Special News2 weeks ago

फिल्म An Action Hero में जबरदस्त आइटम नंबर करते दिखीं नोरा फ़तेहि

मुंबई 18 नवम्बर 2022: एक्टर आयुष्मान खुराना (Ayushman Khurana) की अपकमिंग थ्रिलर फिल्म ‘एन एक्शन हीरो’ (An Action Hero) के...

Special News2 weeks ago

काफी समय से सुनने में हो रही थी दिक्कत, शख्स ने चेक कराया तो पता चला की 5 साल से फंसा है Earbuds

इंग्लैंड 17 नवम्बर 2022: आज से इस हाईटेक जमाने में हमें कई तरह के सुविधा मिलने लगा है। हेडफोन और...

Special News2 weeks ago

फ्लिपकार्ट ने शुरू की ओपन बॉक्स डिलीवरी, अब नहीं होगी गलत सामान की डिलीवरी

दिल्ली 17 नवम्बर 2022: ऑनलाइन शॉपिंग के बढ़ते क्रेज के बीच कस्टमर्स को डैमेज्ड और गलत प्रोडक्ट्स की डिलिवरी के...

Advertisement

Trending