Wednesday, February 8, 2023

स्मृति ईरानी का कैटवॉक भी अब ‘भगवा’ विवाद में

रायपुर 21 दिसंबर 2022: पठान फिल्म के एक गीत में पहने गए “भगवा रंग’ की “बिकिनी’ का विवाद अब भाजपा सांसदों के कपड़ों तक पहुंच गया है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने सांसद मनोज तिवारी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किया है। इसमें मनोज तिवारी को केसरिया रंग की धोती और अंगवस्त्र में नाचते दिखाया है। वहीं स्मृति ईरानी को केसरिया रंग के टॉप में कैटवॉक करते हुए देखा जा सकता है।

कांग्रेस नेता ने इन वीडियो के साथ लिखा है, भाजपा के नेता मनोज तिवारी का यह गाना भगवा का कितना सम्मान बढ़ा रहा है, संघी बताएं। दूसरे वीडियो में शुक्ला ने लिखा है, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की यह पोशाक भी तो भगवा का अपमान है। कांग्रेस ने सवाल उठाया है कि एक फिल्म के दृश्य में पहने गए कपड़े के रंग से भाजपा और संघ के जिन लोगों की भावना आहत हो रही है, उनको अपने नेताओं के प्रदर्शन वाले इन दृश्यों में भगवा रंग का अपमान नहीं दिखता।

कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा, भाजपा भगवा के नाम पर दंगा फैलाती है। भाजपा भगवा के नाम पर आतंक फैलाती है। जबकि भगवा साम्प्रदायिक सद्भावना, परस्पर प्रेम और शांति के प्रतीक हिंदू धर्म का महान ध्वज माना जाता है।

अब भाजपा के सांसद, भाजपा के बड़े नेता जिस प्रकार अभद्रता पूर्वक भगवा पहनकर-केवल गमछा ओढ़े होते तो भी अलग विषय था, ऊपर से नीचे तक भगवा पहनकर “बेबी बीयर पीके नाचे..’ जैसा गाना गा रहे हैं। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व को इसमें सफाई देना चाहिए और देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भगवा वस्त्र पहनकर जिस प्रकार से कैटवॉक कर रही हैं, उसके बारे में भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व को जवाब देना चाहिए। जो बजरंगी, संघ और भाजपा के लोग इसमें दंगा फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, उनको अपने इन दोनों नेताओं के भगवा के दुरुपयोग के बारे में स्पष्ट रूप से अपना पक्ष रखना चाहिए।

भगवा विवाद में राक्षस तक कहा जा चुका

करीब चार दिन पहले भगवा विवाद को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सवाल हुआ। उन्होंने कहा, “भगवा रंग जो है वह यज्ञ की अग्नि की ज्वाला का रंग है। वह पवित्र है। वह त्याग और बलिदान का रंग है। विश्व हिंदू परिषद-विहिप और बजरंग दल वाले जो भगवा पहनकर घूम रहे हैं उन्होंने कौन सा त्याग किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा, रंग किसी का होता है क्या। ये लोग केवल इसके नाम पर समाज में वैमनस्य फैला रहे हैं।’ भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह इस बयान को बजरंग बली का अपमान बताने लगे। वहीं हरियाणा के भाजपा के एक दिग्गज और प्रदेश के मंत्री अनिल विज ने यहां तक कह दिया कि भूपेश बघेल राक्षस प्रवृत्ति के महानुभाव हैं।

फिल्म का एक गाना आया और भावना आहत हो गई

शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण अभिनित पठान 25 जनवरी को रिलीज होनी है। निर्माताओं ने 12 दिसम्बर को उसका एक गाना रिलीज किया। इसके बोल हैं- हमें तो लूट लिया मिलके इश्क वालों ने, बहुत ही तंग किया अब तक इन खयालों ने..। करीब साढे तीन मिनट का यह गाना शाहरुख खान और दीपिका पर फिल्माया गया है। बीच के पास फिल्माए इस गीत में दीपिका ने कम से कम 10 रंग के कपड़े पहने हैं। इसमें एक रंग केसरिया भी है।

“भगवा’ रंग की बिकिनी पहने दीपिका और साथ में “शाहरुख’ को देखकर संघ और अनुसांगिक संगठनों से जुड़े लोगों की भावना आहत है। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने निर्माताओं को चेतावनी दी है। बिहार में इसको बैन करने की मांग उठ रही है। छत्तीसगढ़ में भी शिवसेना ने सिनेमा संचालकों को धमकी दी है।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang