Saturday, February 4, 2023

स्काई वॉक पर CM के रडार में मूणत

रायपुर 27 दिसंबर 2022: छत्तीसगढ़ की राजनीति एक बार फिर स्काई वॉक पर हाई है। स्काई वॉक निर्माण में गड़बड़ी के मद्देनजर ACB और EOW को जांच की जिम्मेदारी सौंपने का निर्णय लिया गया है। इसी कड़ी में सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग इधर-उधर की बात कर रहे हैं। सवाल यह है कि स्पष्ट जवाब दें, जैसे ही केस रजिस्टर हुआ, यह फड़फड़ाने लगे।

28 करोड़ बढ़ी परियोजना की लागत- CM बघेव

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि इस तथ्य के बारे में बताना चाहूंगा, चुनाव 20 नवंबर 2018 को हुआ ऐसी क्या आपात स्थिति आई थी कि 5 दिसंबर 2018 को परियोजना की लागत 28 करोड़ बढ़ाने का प्रस्ताव दे दी जाती है। 11 दिसंबर को काउंटिंग हुई। बीजेपी बुरी तरह से हार गई। उस दिन रमन सिंह भी इस्तीफा दे दिए थे, लेकिन मूणत कार्य करते रहे।

‘शासकीय धन का दुरुपयोग’

भूपेश बघेल ने कहा कि 13 दिसंबर को फिर से प्रशासनिक स्वीकृति जारी कर दी गई। किसको लाभ दिलाने के लिए किया गया ? शासकीय धन का दुरुपयोग हो रहा है। सवाल तो यह है, जब आप सत्ता में थे, जनादेश आपके खिलाफ चला गया। उसके बाद भी आप की फाइल चलती रही, जवाब उनका देना चाहिए, जो नहीं दे रहे हैं।

‘बीजेपी के नेता घूम-घूमकर कर जिमी कांदा खा रहे’

बघेल ने कहा कि बीजेपी के नेता घूम रहे हैं जिमी कांदा खा रहे हैं। 15 वर्षों तक छत्तीसगढ़ की जनता को लूटते रहे। कभी खदान कभी नान, धान में। हमारी सरकार को बने 4 साल हुए हैं। डेढ़ लाख करोड़ रूपये आम जनता के खाते में गया है, कहीं इधर-उधर नहीं गया।

4 साल में हमने आम जनता के जेब में पैसे डाले हैं- CM भूपेश बघेल

बघेल ने कहा कि सरकार बटन दबा दी है। सीधे खाते में पहुंच रहा है। मजदूर, किसान सहायता समूह सब के खाते में गया। इसमें क्या भ्रष्टाचार हो सकता है ? मैं यह पूछता हूं कि 4 साल में हमने आम जनता के जेब में पैसे डाले हैं। वह पैसा तो रहा होगा। यह पैसा उनको मिल सकता था, क्यों नहीं मिला और नहीं मिला इसका मतलब सब भ्रष्टाचार में गया।

अन्नदाता, गोपालक, मजदूर और आदिवासी हमसे प्रसन्न- CM बघेल

मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे स्काईवॉक, एक्सप्रेस वे, हाईवे बहुत सारी चीजें हैं। एक ही पुल को तोड़कर तीन बार बना रहे हैं। सड़क बार-बार उखाड़ रहे हैं। यह सब पैसा ऐसे ही भ्रष्टाचार में गया है। अन्नदाता हमारे प्रसन्न हैं। गोपालक हमसे प्रसन्न हैं। मजदूर आदिवासी हमसे प्रसन्न हैं। लघु संग्रहक प्रसन्न हैं। इनकी पेट में तकलीफ हो रही है, तो भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं।

‘खुद कुछ नहीं नहीं कर पा रहे, तो ईडी को ले आए’

सीएम ने कहा कि खुद कुछ नहीं नहीं कर पा रहे हैं तो ईडी को ले आए। ईडी कार्रवाई कर रही है। मारपीट क्यों कर रहे हैं। कार्रवाई करें, मार मार के बोल रहे हैं। हां बोलवा रहे हैं। दस्तखत करो, प्रताड़ित कर रहे हैं। उद्योगपति अभी भी हॉस्पिटल में हैं। कितने लोग हैं, जिनके हाथ पैरों में चोट आई है। थर्ड डिग्री टॉर्चर कर रहे हैं। जबरदस्ती सिद्ध करना चाहते हैं। भ्रष्टाचार जो गलत है। उन पर कार्रवाई करो। किसी को टारगेट करके फंसाने, मारपीट करके दहशत में लाना उचित नहीं।

‘बदनाम करने का षड्यंत्र चल रहा’

बघेल ने कहा कि इसका सीधा मतलब ये है कि भारतीय जनता पार्टी लड़ाई नहीं लड़ पा रही है। इसलिए बदनाम कर रही है, जो दोवेस के सिद्धांत हैं, एक झूठ को 100 बार बोलो तो सच लगने लगता है। यही सिद्धान्त को मानने वाले लोग हैं। भ्रष्टाचार के आकलन में खुद डूबे हुए हैं और दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। बदनाम करने का षड्यंत्र चल रहा है। छत्तीसगढ़ की जनता देख रही है। इनके झांसे में नहीं आने वाली है।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang