Connect with us

Special News

लोकसभा में कृषि मामलों की स्थायी समिति ने की छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना की सराहना

Published

on

Share This Now :

रायपुर : लोकसभा में कृषि मामलों की स्थायी समिति ने मंगलवार को सदन में प्रस्तुत अपनी रिपोर्ट में छत्तीसगढ़ की गोधन न्याय योजना की सराहना करते हुए केंद्र सरकार को सुझाव दिया है कि किसानों से मवेशियों के गोबर खरीद की ऐसी ही योजना पूरे देश के लिए शुरु की जानी चाहिए। पर्वतागौड़ा चंदनगौड़ा गद्दीगौडर की अध्यक्षता वाली लोकसभा की कृषि मामलों की स्थायी समिति ने केंद्र सरकार को दिए अपने सुझाव में कहा है कि किसानों से उनके मवेशियों का गोबर खरीदने से उनकी आय में बढ़ोतरी होने के साथ-साथ रोजगार के नए अवसर बढ़ेंगे, जैविक खेती को प्रोत्साहन मिलेगा, साथ ही आवारा मवेशियों की समस्या का भी समाधान होगा। लोकसभा में रिपोर्ट प्रस्तुत करने से पूर्व यह समिति केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अधिकारियों को भी ऐसा ही सुझाव दे चुकी है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में 20 जुलाई 2020 से छत्तीसगढ़ में गोबर को गोधन बनाने की दिशा में सुविचारित कदम उठाते हुये गोधन न्याय योजना लागू की गई है, जिसमें पशु पालकों से गोबर क्रय करके गोठानों में वर्मीकंपोस्ट एवं अन्य उत्पादों का निर्माण किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ में गोधन न्याय योजना का संचालन सुराजी गांव योजना के तहत गांव-गांव में निर्मित गौठानों के माध्यम से किया जा है। इन गोठानों में पशुओं के चारे और स्वास्थ्य की देखभाल के साथ-साथ रोजगारोन्मुखी गतिविधियां भी संचालित की जा रही हैं। इन्हीं गोठानों में गोधन न्याय योजना के तहत वर्मी कंपोस्ट टांकों का निर्माण किया गया है, जिनमें स्व सहायता समूहों की महिलाएं जैविक खाद का निर्माण कर रही हैं। गोबर की खरीद गोठान समितियों के माध्यम से 2 रुपए किलो की दर से की जाती है। अब तक गोबर विक्रेता किसानों, पशुपालकों और संग्राहकों को 80 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है।

स्व सहायता समूहों द्वारा अब तक 71 हजार 300 क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट तैयार किया जा चुका है। वर्तमान में 7 हजार 841 स्व-सहायता समूह गोठान की गतिविधि संचालित कर रहे है। इन समूहों के लगभग 60 हजार सदस्यों को वर्मी खाद उत्पादन, सामुदायिक बाड़ी, गोबर दिया निर्माण इत्यादि विभिन्न गतिविधियों से 942 लाख की आय प्राप्त हो रही है। गोठान योजना के लिये वर्ष 2021-22 के बजट में 175 करोड़ का प्रावधान रखा गया है। स्व सहायता समूहों द्वारा निर्मित जैविक खाद के विक्रय के लिए छत्तीसगढ़ में 10 रुपए प्रति किलो की दर तय की गई है।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

राज्य में वन, उद्यानिकी, कृषि समेत सभी शासकीय विभागों द्वारा आवश्यकतानुसार स्व सहायता समूहों से जैविक खाद की खरीद की जाती है, इसके साथ-साथ किसानों द्वारा भी जैविक खाद खरीदा जा रहा है। गोधन न्याय योजना से भूमिहीन कृषि श्रमिकों को भी नियमित आय हो रही है।  छत्तीसगढ़ शासन की गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन से जैविक खेती एवं गौ-पालन को बढ़ावा, पशु पालकों को आर्थिक लाभ तथा रोजगार के नये अवसरों का सृजन हो रहा है। सरकार की इस पहल को भारत सरकार एवं अन्य राज्यों द्वारा भी सराहा जा रहा है।

Share This Now :
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Special News

CG : राजनांदगांव में जन्मा तीन आंखों वाला बछड़ा, ग्रामीणों ने बताया शिव का अवतार ; वेटरनरी डॉक्टर बोले हार्मोनल डिसॉर्डर

Published

on

Share This Now :

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में एक गाय का बछड़ा तीन आंखों की वजह से लोगों के लिए कौतूहल का विषय बना हुआ है। बछड़े को देखने के लिए गांव ही नहीं दूरदराज से भी लोग पहुंच रहे हैं। लोग उसके ऊपर फूल-माला और रुपए चढ़ाकर उसकी पूजा कर रहे हैं। लोग इसे जहां भगवान भोलेनाथ का स्वरूप मान रहे हैं। वहीं पशु चिकित्सकों का कहना है कि यह भ्रूण के सही तरीके से डेवलप न करने से होता है।

राजनांदगांव जिले के गंडई क्षेत्र के ग्राम पंचायत बुन्देली के आश्रित ग्राम लोधी नवागांव निवासी हेमंत चंदेल के यहां दो दिन पहले तीन आंखों वाला बछड़े ने जन्म लिया है। हेमंत खेती के अलावा गोपालन का भी कार्य करते हैं। उनके पास काफी संख्या में अलग-अलग नस्ल की गाय हैं। मकर संक्रांति के दिन शाम 7 बजे उनकी एक जरसी गाय ने एक बछड़ा को जन्म दिया है।

इस बछड़े के दो की जगह तीन आंखें हैं। बछड़े के नाक के ऊपर माथे पर एक आंख नुमा आकृति बनी है, जिसे लोग आंख बता रहे हैं। इतना ही नहीं बछड़े की नाक में चार छिद्र हैं। उसकी पूंछ जटानुमा है। हेमंत चंदेल इसे दैवी आशीर्वाद बता रहे हैं। उनका कहना है कि बछड़े ने भगवान के रूप से प्रेरित होकर जन्म लिया है। वहीं कुछ लोग इसे भगवान शंकर का रूप बता रहे हैं।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

पूजा पाठ कर रहे लोग
यह खबर तेजी से क्षेत्र में फैल गई है। कोई इसे धार्मिक आस्था से जोड़कर देख रहा है तो कोई विज्ञान का चमत्कार बता रहा है। इस तीन आंखों वाले बछड़ा को देखने गांव से ही नहीं बल्कि दूर दराज के क्षेत्रों से भी पहुंच रहे हैं। लोगों का कहना है कि इस की घटना उन्होंने पहली बार देखी और सुनी है। अधिकतर लोग इसे धार्मिक आस्था से जोड़कर बछड़े को फूल फल पैसा अर्पण कर रहे हैं।

चमत्कार नहीं भ्रूण विकसित न होने के चलते हुआ ऐसा
पशु चिकित्सक डॉ. नरेंद्र सिंह ने बताया कि यह कोई दैवी स्वरूप या वरदान नहीं है। ऐसा भ्रूण के सही तरीके से विकसित न होने से होता है। डॉ. सिंह का कहना है कि जब भ्रूण गर्भ में एक निश्चित समय के दौरान सही तरीके से विकसित होता है तो एक स्वस्थ बच्चे का स्वरूप लेता है। जब भ्रूण किसी कमी की वजह से सही तरीके से विकसित नहीं हो पाता है तो वह इस तरह अजीब स्वरूप को ले लेता है। कई बार तो बच्चे के कुछ अंग गायब होते हैं तो कई बार अंग अतिरिक्त रूप से डेवलप हो जाता है। किसान हेमंत चंदेल के यहां जो बछड़ा पैदा हुआ है उसका यह स्वरूप हार्मोनल डिसॉर्डर की वजह से हुआ है।

Share This Now :
Continue Reading

Special News

CG : साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका को दुर्ग की आकर्षी कश्यप ने इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया पराजए

Published

on

Share This Now :

दुर्ग : छत्तीसगढ़ के दुर्ग की बैडमिंटन खिलाड़ी आकर्षी कश्यप ने नई दिल्ली में चल रहे इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में बड़ा उलटफेर किया है। आकर्षी ने क्वार्टर फाइनल में साइना नेहवाल को हराने वाली महाराष्ट्र की मालविका बंसोड़ को मात दी है। इस मैच के बाद उन्होंने दैनिक भास्कर अखबार से बात करते हुए कहा कि उनका लक्ष्य है कि वह पेरिस में होने वाले 2024 ओलंपिक गेम्स में भारत का प्रतिनिधित्व करें और देश के लिए गोल्ड जीतकर लाएं।

शुक्रवार को 20 वर्षीय आकर्षी ने मालविका बंसोड़ को 21-12, 21-15 से हराया । विश्व में 76वें स्थान की रैंकिग के साथ खेलने वाली छत्तीसगढ़ राज्य की इकलौती खिलाड़ी आकर्षी की रैंकिंग इस मैच के बाद सुधरेगी। वो लगातार दो सालों से सीनियर रैंकिंग में इंडिया नंबर-1 बनीं हुई हैं। उसकी यह जीत इसलिए भी महत्वपूर्ण हो गई क्योंकि मालविका ने एक दिन पहले ही ओलंपिक पदक विजेता साइना नेहवाल को इसी टूर्नामेंट में हराया था। इस जीत के साथ आकर्षी इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप के सेमी फाइनल में पहुंच गई हैं।

सफलता का श्रेय माता-पिता का साथ

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical

इस सफलता का श्रेय आकर्षी ने अपने मम्मी पापा को देती हैं। आकर्षी के पापा डाक्टर संजीव कश्यप दुर्ग में ही डर्मेटोलॉजिस्ट हैं। उन्होंने ही आकर्षी को टाइम की वैल्यू बताई। जब से उसने बैडमिंटन खेलना शुरू किया वह रोज उसे सुबह 4 बजे उठाते थे और उसके बाद उसे प्रैक्टिस में लेकर जाते थे। ट्रेनिंग के दौरान भी वह उसके साथ ही रहते थे। बाद में उसकी लगन और प्रतिभा देखकर उसे एडवांस ट्रेनिंग के लिए हैदराबाद भेजा गया।

आकर्षी के साथ हर टूर्नामेंट में उसकी मां जाती हैं। वहां वह उसकी न्यूट्रीशन का पूरा ध्यान रखती हैं। आकर्षी अंडर-15 सिंगल्स में नेशनल चैंपियन, अंडर-17 और 19 सिंगल्स में दो बार नेशनल चैंपियन, खेलो इंडिया में गोल्ड मेडलिस्ट, एशियन गेम्स में गोल्ड मेडलिस्ट, बहरीन इंटरनेशनल चैलेंज में ब्रॉन्ज जीत चुकी हैं। उनके नाम अब तक 50 गोल्ड मेडल, 22 सिल्वर मेडल और 15 ब्रॉन्ज मेडल हैं।

 

हैदराबाद से घर आने पर भी नहीं छोड़ती प्रैक्टिस

आकर्षी ने बताया कि वह अभी हैदराबाद सुचित्रा बैडमिंटन एकेडमी में प्रैक्टिस करती हैं। वहां से जब अपने घर दुर्ग आती हैं तो अपने कॉलेज में प्रैक्टिस करती हैं। कॉलेज में उनके कोच शिवयोगी हैं। रोजाना सुबह 4 बजे उठकर वह ट्रेनिंग करने जाती हैं। 9 से 11 बजे तक जिम और इसके बाद दोपहर 2:30 से 5 बजे तक बैडमिंटन कोर्ट में प्रैक्टिस करती हैं।

8 साल की उम्र में शुरू किया था खेलना

आकर्षी कश्यप ने 8 साल से बैडमिंटन खेलना शुरू किया था। भिलाई इंडोर स्टेडियम में प्रैक्टिस करके अपनी लगन और कड़ी मेहनत की बदौलत उन्होंने स्टेट लेवल और नेशनल लेवल में अच्छा परफॉर्म किया। साल 2014 में वे अंडर-15 नेशनल चैंपियन बनीं। 2 बार अंडर-17 नेशनल चैंपियन रहीं। 2 बार अंडर-19 चैम्पियन रह चुकी हैं। 2018 इंटरनेशनल गेम में इंडिया को रिप्रेजेंट किया।

ओलंपिक में गोल्ड लाना है लक्ष्य

आकर्षी का टारगेट ओलपिंक गेम्स में गोल्ड मेडल लाना है। वह कड़ी मेहनत कर अपनी रैंकिंग को सुधारने में लगी हैं, जिससे वे 2024 में होने वाले पेरिस ओलंपिंक और 2028 ओलंपिक में भाग लेकर भारत का प्रतिनिधित्व कर सकें।

यह भी पढ़ें :

CG : इंडियन ओपन में ओलंपिक मेडलिस्ट साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका, 2016 से रायपुर में कर रहीं ट्रेनिंग

 

Share This Now :
Continue Reading

Special News

CG : कोरोना के साय तले नन्हीं जिंदगी का आगमन ; डॉक्टर्स की टीम ने कोरोना संक्रमित महिला का किया सफलता पूर्वक प्रसव ; दोनों स्वस्थ

Published

on

Share This Now :

राजनांदगांव : सुदूर वनांचल क्षेत्र मानपुर विकासखंड के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मानपुर में डॉक्टरों की टीम ने कोरोना पॉजिटिव महिला का सफलता पूर्वक प्रसव कराया। प्रसव के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ है।

डॉक्टर की पूरी टीम ने अपना फर्ज निभाते हुए कठिन और चुनौतीपूर्वक कार्य को सफलता पूर्वक पूरा किया। कोरोना संक्रमण की इस विषम परिस्थतियों में डॉक्टर की टीम मरीजों की सेवाओं में लगातार लगी हुई है।

कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा के मार्गदर्शन में जिले के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में कोविड-19 संक्रमित मरीजों के लिए स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित की गई है। होम ऑईसोलेशन एवं अस्पताल में संक्रमित मरीजों का उचित उपचार एवं देखभाल किया जा रहा है।

advt_dec21
geeta_medical1
geeta_medical
Share This Now :
Continue Reading
Advertisement

Advertisement



Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

CORONA VIRUS11 hours ago

छत्तीसगढ़ में 3963 नए मरीज़ मिले, 3303 रिकवरी, 7 मौतें ; सर्वाधिक रायपुर से 1215 और दुर्ग से 511 केस मिले

रायपुर : छत्तीसगढ़ मे कोरोना की तीसरी लहर में रोज नए मामलों के बढ़त देखी जा रहीं हैं। ओमिक्रॉन के...

बॉलीवुड तड़का - Entertainment12 hours ago

अजीत जोगी की बायोपिक में बसपन का प्यार वाले सहदेव निभाएंगे छत्तीसगढ़ के पहले CM के बचपन का किरदार

रायपुर : बसपन का प्यार गीत गाकर स्टार बने सहदेव दिरदो को फिल्म में रोल मिला है। मोबाइल स्क्रीन पर...

CORONA VIRUS12 hours ago

छत्तीसगढ़ : 19 कोरोना पॉजिटिव लोगों पर दर्ज होगी FIR, टेस्ट करवाने के बाद गायब हो गए थे सभी

रायपुर : छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। प्रदेश के अलग-अलग जिलों से बड़ी संख्या में...

राज्य एवं शहर13 hours ago

छत्तीसगढ़ : सभी पात्र लोगों को मिलेगा आवास योजना का लाभ – कृषि मंत्री रविंद्र चौबे

मंत्री श्री चौबे द्वारा 192 हितग्राहियों को स्वीकृत आवास का कार्यादेश वितरित रायपुर : कृषि एवं जल संसाधन मंत्री श्री...

Special News20 hours ago

CG : राजनांदगांव में जन्मा तीन आंखों वाला बछड़ा, ग्रामीणों ने बताया शिव का अवतार ; वेटरनरी डॉक्टर बोले हार्मोनल डिसॉर्डर

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में एक गाय का बछड़ा तीन आंखों की वजह से लोगों के लिए कौतूहल...

Advertisement

CONNECT WITH US :

CORONA VIRUS7 days ago

CG : दुर्ग-भिलाई में 24 स्थानों पर आज से कोराेना का बूस्टर डोज, दूसरे खुराक की सर्टिफिकेट के साथ दिखाना होगा आधार कार्ड ; देखिए लिस्ट

Career7 days ago

छत्तीसगढ़ में बंद हो सकते हैं सारे स्कूल और कॉलेज, ऑनलाइन एग्जाम को लेकर भी होगी चर्चा, CM करेंगे उच्च शिक्षा के बजट पर चर्चा

CORONA VIRUS7 days ago

भारत में कोरोना का कहर : एक दिन में 1.79 लाख नए केस, 146 मौत, ओमीक्रोन टैली 4,033 पहुंचा ; रिकवरी लेकर आई राहत

राज्य एवं शहर7 days ago

मौसम विभाग का Alert : छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर, पेंड्रा सहित इन जिलों में बारिश और ओलावृष्टि के आसार

CORONA VIRUS7 days ago

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को हुआ कोरोना, खुद को घर पर किया क्वारंटाइन ; ट्वीट कर दी जानकारी

आस्था5 days ago

CG : ‘रायपुर के तेलीबांधा में जनसहयोग से मौली माता मंदिर का होगा पुनर्निर्माण’, माहपौर एजाज ढेबर से मिले समिति के सदस्य : VIDEO

CORONA VIRUS7 days ago

CG : दुर्ग जिले में कलेक्टर डॉ. एसएन भुरे ने बूस्टर डोज लगवाकर की वैक्सीनेशन अभियान की शुरूआत ; कहा-प्रिकाशन जरूरी : देखिए वीडियो

राजनीति1 week ago

CG : भिलाई नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर नीरज ने कहा, CM के भरोसे पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करूंगा : देखिए वीडियो

Career1 week ago

CG : परीक्षा ऑनलाइन लेने सहित इन 3 मांगों को लेकर, NSUI ने आकाश कनोजिया के नेतृत्व में HYV दुर्ग में सौंपा ज्ञापन

राज्य एवं शहर3 weeks ago

छत्तीसगढ़ : बेमेतरा के नए एसपी धर्मेंद्र सिंह ने कड़कती ठंड में जरूरतमंद गरीबों को कंबल का वितरण करवाया

Top 10 News

Must Read

Special News2 days ago

CG : साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका को दुर्ग की आकर्षी कश्यप ने इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया पराजए

दुर्ग : छत्तीसगढ़ के दुर्ग की बैडमिंटन खिलाड़ी आकर्षी कश्यप ने नई दिल्ली में चल रहे इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप...

Special News2 days ago

CG : कोरोना के साय तले नन्हीं जिंदगी का आगमन ; डॉक्टर्स की टीम ने कोरोना संक्रमित महिला का किया सफलता पूर्वक प्रसव ; दोनों स्वस्थ

राजनांदगांव : सुदूर वनांचल क्षेत्र मानपुर विकासखंड के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मानपुर में डॉक्टरों की टीम ने कोरोना पॉजिटिव महिला...

Special News2 days ago

CG : दुर्ग की निवेदिता शर्मा का भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर पद पर हुआ चयन ; कर्नल से मिलकर एयरफोर्स में जाने का बनाया था मन

दुर्ग : दुर्ग जिले की 21 वर्षीय बेटी निवेदिता शर्मा का बचपन से एक ही सपना था कि वह आसमान...

Special News2 days ago

74वां सेना दिवस : PM-राष्ट्रपति ने शुभकामनाएं दीं, आर्मी चीफ नरवणे बोले- 300-400 आतंकी घुसपैठ की ताक में

National Desk : आज 74वां भारतीय थल सेना दिवस है। इस अवसर पर दिल्ली के करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड...

Special News3 days ago

CG : इंडियन ओपन में ओलंपिक मेडलिस्ट साइना नेहवाल को हराने वाली मालविका, 2016 से रायपुर में कर रहीं ट्रेनिंग

रायपुर : भारतीय बैडमिंटन की सबसे बड़ी खिलाड़ी और ओलंपिक मेडलिस्ट साइना नेहवाल गुरुवार को इंडियन ओपन के एक मैच...

Advertisement

Trending