Friday, February 23, 2024

सुरक्षा के लिहाज से काफी अच्छे हैं भारत के ये हिल स्टेशन, यहां न चोरी का डर है न ही ठगी का

भारत में हर साल लाखों पर्यटक विभिन्न स्थानों पर जाते हैं। लेकिन, कुछ जगहें ऐसी भी हैं जो सुरक्षा के लिहाज से अच्छी नहीं हैं। इसलिए इन शहरों में पर्यटकों का अनुभव इतना खराब होता है कि वे दूसरी बार यहां आने से हिचकिचाते हैं।

ऐसे कई शहर हैं जहां पर्यटक नए-नए आइडिया से ठगे जाते हैं। यहां चोरी भी आम है। स्थिति यह है कि यहां कोई या नया आदमी रात में या दिन में भी अकेले नहीं चल सकता। अगर आप ट्रैवल लवर हैं तो जाहिर तौर पर आप ऐसी जगह जाना चाहेंगे जहां आप पूरी तरह से सुरक्षित महसूस करें। भारत में पसंद के कुछ हिल स्टेशन भी हैं, जो घूमने के लिए बहुत सुरक्षित हैं। तो आइए जानते हैं भारत के ऐसे खूबसूरत हिल स्टेशनों के बारे में, जहां आप एक पर्यटक के तौर पर खुद को सुरक्षित महसूस कर सकते हैं।

पहलगाम, जम्मू और कश्मीर
श्रीनगर से 95 किमी दूर 7200 फीट की ऊंचाई पर स्थित पहलगाम भारत की सबसे सुरक्षित जगहों में से एक है। इसे चरवाहों की घाटी भी कहा जाता है। यह जम्मू-कश्मीर का मशहूर हिल स्टेशन है, जहां कई फिल्मों की शूटिंग हो चुकी है। देवदार के जंगलों, घास के मैदानों और हिमालय के पहाड़ों से घिरा यह स्थान पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। यह शहर दो दिवसीय स्नो फेस्टिवल भी आयोजित करता है, जिसमें स्कीइंग और स्नो-स्लेजिंग जैसे शीतकालीन खेल शामिल हैं। पर्यटक यहां गोल्फ, ट्रेकिंग और एंगलिंग का भी मजा ले सकते हैं।

मुन्नार, केरल
मुन्नार केरल में पश्चिमी घाट पर स्थित एक हिल स्टेशन है। 6000 फीट की ऊंचाई पर स्थित मुन्नार कभी ब्रिटिश शासकों का ग्रीष्मकालीन रिसॉर्ट हुआ करता था। यह स्थान उतना ही सुरक्षित है जितना कि यह अपने हरे भरे जंगलों और चाय बागानों के लिए जाना जाता है। मुन्नार ने अधिक लोकप्रियता हासिल की है, यहां बहने वाली तीन नदियां मट्टुपेट्टी, पेरियावारु और नल्लाथन्नी हैं। यह स्थान अपनी प्राचीन झीलों, पहाड़ियों और चट्टानी इलाकों के कारण ट्रेकिंग और कैंपिंग के लिए बहुत प्रसिद्ध हो गया है।

माउंट आबू, राजस्थान
माउंट आबू एक सुरक्षित जगह है। यहां पर्यटकों को किसी भी तरह से धोखा या धोखा नहीं दिया जाता है। माउंट आबू माउंट अरावली आबू में स्थित राजस्थान का एकमात्र हिल स्टेशन है। आप यहां नक्की झील में बोटिंग का मजा ले सकते हैं। अरावली पर्वतमाला की सबसे ऊँची चोटी जुपिटर पीक भी माउंट आबू में ही स्थित है। यहां का सबसे महत्वपूर्ण आकर्षण दिलवाड़ा मंदिर है। इस मंदिर की अनूठी स्थापत्य कला को देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि कैसे 1000 साल पहले दो सदियों में इसे बनाया गया था।

उटी, तमिल नाडु
यह किसी भी पर्यटक के लिए सबसे सुरक्षित जगह है। यहां के स्थानीय लोग न तो पर्यटकों को अकेला समझकर उन्हें परेशान करते हैं और न ही उन्हें परेशान करते हैं। यह तमिलनाडु का एक खूबसूरत हिल स्टेशन है। पहाड़ियों और हरियाली से घिरा यह शहर पर्यटकों के लिए स्वर्ग है। सबसे अच्छी बात यह है कि यहां की महिलाएं पूरी तरह से सुरक्षित हैं। अगर कोई महिला यहां अकेले यात्रा करना चाहती है तो उसे बिना किसी डर के इस जगह की यात्रा करनी चाहिए।

वलपराई, तमिल नाडु
वालपराई तमिलनाडु के कोयंबटूर जिले में समुद्र तल से 1500 मीटर की ऊंचाई पर अनामलाई पहाड़ियों में स्थित एक खूबसूरत हिल स्टेशन है। घास के मैदान, स्वच्छ हवा देशी-विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करती है। प्रकृति प्रेमियों और ट्रेकर्स के लिए यह एक बेहतरीन जगह है। सबसे अच्छी बात यह है कि यह जगह बहुत सुरक्षित है। यहां लोग बिना किसी चिंता के नाइटलाइफ़ का आनंद लेते हैं। यहां आने वाले सैलानी न तो ठगी से डरते हैं और न ही ठगी से। सुरक्षा की दृष्टि से यह छोटा सा हिल स्टेशन बहुत अच्छा है।

spot_img

AAJ TAK LIVE

ABP LIVE

ZEE NEWS LIVE

अन्य खबरे
Advertisements
यह भी पढ़े
Live Scores
Rashifal
Panchang