Connect with us

आस्था

Navratri 8th Day Maa Mahagauri :मां महागौरी ने भगवान शिव को कठोर तप से किया था प्रसन्न, पढ़ें जन्म से जुड़ी ये रोचक पौराणिक कथा ; नवरात्रि के आठवें दिन होती है मां महागौरी की पूजा, जानें पूजा विधि, महत्व, भोग, आरती और शुभ मुहूर्त

Published

on

Share This Now :

आस्था डेस्क : आज यानी 20 अप्रैल दिन मंगलवार को नवरात्रि की अष्टमी तिथि है। नवरात्रि की अष्टमी तिथि को मां महागौरी की विधि-विधान से पूजा की जाती है। इस दिन मां गौरी को हलवे का भोग लगाया जाता है। कहते हैं कि मां महागौरी की विधि-विधान से पूजा करने से सभी बिगड़े काम बन जाते हैं। अष्टमी तिथि को कन्या पूजन का भी विशेष महत्व होता है। आज नवरात्रि का आठवें दिन हम आपको बता रहे हैं मां महागौरी के जन्म से जुड़ी पौराणिक कथा-

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

एक पौराणिक कथा के अनुसार, पर्वत राज हिमालय के घर माता पार्वती का जन्म हुआ था। माता पार्वती को महज 8 वर्ष की अवस्था में ही अपने पूर्वजन्म की घटनाओं का आभाष हो गया था। तभी से उन्होंने भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए तप करना शुरू कर दिया था। तपस्या के दौरान माता केवल कंदमूल फल और पत्तों का सेवन करती थीं। बाद में माता ने वायु पीकर तपस्या करना शुरू कर दिया। तप से देवी पार्वती को महान गौरव प्राप्त हुआ था, यही कारण है कि इनका नाम महागौरी पड़ा।

माता की तपस्या ने प्रसन्न होकर भगवान शिव ने उन्हें गंगा स्नान करने के लिए कहा। जिस समय मां पार्वती गंगा स्नान करने गईं तब देवी का एक स्वरूप श्याम वर्ण के साथ प्रकट हुईं, जो कौशिकी कहलाईं। साथ ही एक स्वरूप उज्जवल चंद्र के समान प्रकट हुईं, महागौरी कहलाईं। मान्यता है कि मां अपने हर भक्त का कल्याण करने के साथ मन की सभी मुरादें पूरी करती हैं।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

आज 20 अप्रैल दिन मंगलवार को चैत्र नवरात्रि का आठवां दिन है। चैत्र नवरात्रि के आठवें दिन मां के आठवें स्वरूप मां महागौरी की पूजा- अर्चना की जाती है। नवरात्रि के दौरान मां के नौ रूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रि के आठवें दिन का महत्व बहुत अधिक होता है। इस दिन कन्या पूजन भी किया जाता है। मां महागौरी का रंग अंत्यत गोरा है। इनकी चार भुजाएं हैं और मां बैल की सवारी करती हैं। मां का स्वभाव शांत है। आइए जानते हैं मां महागौरी की पूजा विधि, महत्व, भोग, आरती और शुभ मुहूर्त…

मां महागौरी पूजा विधि…

  • सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत्त होने के बाद साफ- स्वच्छ वस्त्र धारण करें।
  • मां की प्रतिमा को गंगाजल या शुद्ध जल से स्नान कराएं।
  • मां को सफेद रंग के वस्त्र अर्पित करें। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मां को सफेद रंग पसंद है।
  • मां को स्नान कराने के बाद सफेद पुष्प अर्पित करें।
  • मां को रोली कुमकुम लगाएं।
  • मां को मिष्ठान, पंच मेवा, फल अर्पित करें।
  • मां महागौरी को काले चने का भोग अवश्य लगाएं।
  • मां महागौरी का अधिक से अधिक ध्यान करें।
  • मां की आरती भी करें।
  • अष्टमी के दिन कन्या पूजन का भी विशेष महत्व होता है। इस दिन कन्या पूजन भी करें।

मां महागौरी मंत्र
मंत्र: या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥

ध्यान मंत्र

वन्दे वांछित कामार्थेचन्द्रार्घकृतशेखराम्।

सिंहारूढाचतुर्भुजामहागौरीयशस्वीनीम्॥

पुणेन्दुनिभांगौरी सोमवक्रस्थितांअष्टम दुर्गा त्रिनेत्रम।

वराभीतिकरांत्रिशूल ढमरूधरांमहागौरींभजेम्॥

पटाम्बरपरिधानामृदुहास्यानानालंकारभूषिताम्।

मंजीर, कार, केयूर, किंकिणिरत्न कुण्डल मण्डिताम्॥

प्रफुल्ल वदनांपल्लवाधरांकांत कपोलांचैवोक्यमोहनीम्।

कमनीयांलावण्यांमृणालांचंदन गन्ध लिप्ताम्॥

स्तोत्र मंत्र

सर्वसंकट हंत्रीत्वंहिधन ऐश्वर्य प्रदायनीम्।

ज्ञानदाचतुर्वेदमयी,महागौरीप्रणमाम्यहम्॥

सुख शांति दात्री, धन धान्य प्रदायनीम्।

डमरूवाघप्रिया अघा महागौरीप्रणमाम्यहम्॥

त्रैलोक्यमंगलात्वंहितापत्रयप्रणमाम्यहम्।

वरदाचैतन्यमयीमहागौरीप्रणमाम्यहम्॥

कवच मंत्र

ओंकार: पातुशीर्षोमां, हीं बीजंमां हृदयो।

क्लींबीजंसदापातुनभोगृहोचपादयो॥

ललाट कर्णो,हूं, बीजंपात महागौरीमां नेत्र घ्राणों।

कपोल चिबुकोफट् पातुस्वाहा मां सर्ववदनो॥

मां महागौरी की आरती

महागौरी की आरती

जय महागौरी जगत की माया ।

जय उमा भवानी जय महामाया ॥

हरिद्वार कनखल के पासा ।

महागौरी तेरा वहा निवास ॥

चंदेर्काली और ममता अम्बे

जय शक्ति जय जय मां जगदम्बे ॥

भीमा देवी विमला माता

कोशकी देवी जग विखियाता ॥

हिमाचल के घर गोरी रूप तेरा

महाकाली दुर्गा है स्वरूप तेरा ॥

सती ‘सत’ हवं कुंड मै था जलाया

उसी धुएं ने रूप काली बनाया ॥

बना धर्म सिंह जो सवारी मै आया

तो शंकर ने त्रिशूल अपना दिखाया ॥

तभी मां ने महागौरी नाम पाया

शरण आने वाले का संकट मिटाया ॥

शनिवार को तेरी पूजा जो करता

माँ बिगड़ा हुआ काम उसका सुधरता ॥

‘चमन’ बोलो तो सोच तुम क्या रहे हो

महागौरी माँ तेरी हरदम ही जय हो ॥

मां महागौरी पूजा महत्व

  • मां महागौरी की पूजा- अर्चना करने से विवाह में आ रही समस्याएं दूर हो जाती हैं।
  • मां की कृपा से मनपंसद जीवनसाथी मिलता है।
  • मां महागौरी की अराधना करने से संकट दूर होते हैं पापों से मुक्ति मिलती है।
  • व्यक्ति को सुख-समृद्धि के साथ सौभाग्य की प्राप्ति भी होती है।

मां महागौरी पूजा शुभ मुहूर्त

 

  • अष्टमी- 20 अप्रैल, 2021, मंगलवार

अष्टमी तिथि प्रारंभ- 20 अप्रैल 2021 को मध्य रात्रि 12 बजकर 01 मिनट से
अष्टमी तिथि समाप्त- 21 अप्रैल 2021 को मध्यरात्रि 12 बजकर 43 मिनट तक

अष्टमी तिथि शुभ मुहूर्त-

  •  ब्रह्म मुहूर्त- 20 अप्रैल सुबह 04 बजकर 11 मिनट से सुबह 04 बजकर 55 मिनट तक
  • अभिजित मुहूर्त- 20 अप्रैल 2021 सुबह 11 बजकर 42 मिनट से दोपहर 12 बजकर 33 मिनट तक
  • गोधूलि मुहूर्त- 20 अप्रैल 2021 शाम 06 बजकर 22 मिनट से शाम बजकर 06 बजकर 46 मिनट तक
  • विजय मुहूर्त- 20 अप्रैल 2021 दोपहर 02 बजकर 17 मिनट से शाम 03 बजकर 08 मिनट तक
  • अमृत काल- 21 अप्रैल मध्यरात्रि 01 बजकर 17 मिनट से 21 अप्रैल 2021 सुबह 02 बजकर 58 मिनट तक
Share This Now :

आस्था

CG : रायपुर में गणेश विसर्जन के लिए रास्ता तय, लाखेनगर से एक तरफ़ा होगा रास्ता ; खारुन नदी में नहीं होगा विसर्जन, कुंड में व्यवस्था

Published

on

PC : Internet (File)
Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में गणेश पर्व में इस बार भव्य झांकियां शहर में देखने को मिल सकती हैं। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा रास्ता तय कर दिया गया है। समितियों के साथ इसे लेकर जल्द ही एक बैठक कर प्रशासन सुरक्षा व्यवस्था के बंदोबस्त भी तय करेगा। तय रूट के अनुसार झांकियां शारदा चौक की तरफ से निकलेंगी, वहीं लाखेनगर से महादेव घाट रिंग रोड तक एक तरफा यानी वन वे ट्रैफिक रहेगा।

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

रायपुर निगम कमिश्नर मयंक चतुर्वेदी ने निगम के तीनों अपर आयुक्तों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। इस समिति में अधीक्षण अभियंता बीआर अग्रवाल, नगर निवेश सहायक अभियंता निशीकांत वर्मा, जोन 8 कमिश्नर अरुण ध्रुव, जोन 6 कमिश्नर नेतराम चंद्राकर, उपायुक्त स्वास्थ्य एके हालदार एवं कार्यपालन अभियंता जल बीएल चंद्राकर शामिल हैं। ये अफसर विसर्जन की व्यवस्था संभालेंगे।

जिला प्रशासन ने ये साफ कर दिया है की खारुन नदी में किसी भी हालत में मूर्तियों का विसर्जन नही होगा। नदी के किनारे निर्मित विसर्जन कुंड में नगर निगम गणेश विसर्जन का बंदोबस्त कर रहा है। प्रतिमाओं के विसर्जन की प्रशासनिक व्यवस्था के लिए 9 सितम्बर से 12 सितम्बर तक प्रशासनिक अमला मौजूद रहेगा। जोनवार प्रशासनिक व्यवस्था के लिए सभी जोन कमिश्नरों, जोन कार्यपालन अभियंताओं, सहायक अभियंताओं, उप अभियंताओं, समयपालों, श्रमिकों की ड्यूटी लगाई है। महादेव घाट पर पुलिस और निगम के अफसरों के लिए पंडाल, लाइट, माइक, इमरजेंसी के लिए गोताखोर और मेडिकल टीम का बंदोबस्त किया जा रहा है।

यहां से गुजरेगी विसर्जन झांकी

10 या 11 सितंबर को शहर में झांकी निकाली जा सकती है। इनमें शहर की बड़ी गणेश प्रतिमाएं होंगी। राजनांदगांव और दुर्ग से भी झांकियां शामिल होंगी। झांकियां शारदा चौक से शुरू होंगी। शारदा चौक से जयस्तंभ, कोतवाली, सदर बाजार, सत्ती बाजार, कंकाली तालाब, पुरानी बस्ती थाना चौक, लिलि चौक, लाखेनगर, सुंदर नगर, महादेव घाट रिंग रोड होते हुए रायपुरा महादेव घाट के पास निर्मित विसर्जन कुंड स्थल में जाकर विसर्जित की जाएंगी। लाखेनगर चौक से महादेव घाट रिंग रोड तक वन वे ट्रैफिक रहेगा।

Share This Now :
Continue Reading

आस्था

गणेश चतुर्थी के अवसर मुख्यमंत्री निवास में विराजे गणपति बप्पा :  CM बघेल ने पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना की

Published

on

By

Share This Now :

रायपुर : मुख्यमंत्री निवास में भगवान गणेश विराजे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गणेश चतुर्थी के अवसर पर भगवान गणेश जी के पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना की।

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

 

Share This Now :
Continue Reading

Festival & Fastings

तिजहारिन माता-बहनों का मायका बना सीएम हाउस, पारंपरिक छत्तीसगढ़िया अंदाज में मना रहे उत्सव ; बड़ी संख्या में महिला पत्रकार भी हुईं शामिल

Published

on

Share This Now :

रायपुर : छत्तीसगढ़ के पारंपरिक तीजा पोरा त्यौहार की शुरुआत हो चुकी है। यह त्योहार लगातार तीन दिनों तक चलेगा। बहन-बेटियां तीजा का त्यौहार मनाने के लिए अपने मायके का रुख कर रही हैं। माता, बहनों-बेटियों के स्वागत के लिए आज मुख्यमंत्री निवास में भी आकर्षक साज-सज्जा की गई है। पूरे प्रदेश से माताएं बहनें तीजा का उत्सव मनाने के लिए मुख्यमंत्री निवास में एकत्र हो रही हैं। आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का घर तिजहारिनों का मायका बन गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तीज त्यौहार छत्तीसगढ़ की पहचान है। हम मिलजुलकर मनाते हैं, मुख्यमंत्री निवास में हर वर्ष आयोजन करते है। हमने हरेली, तीजा त्यौहार में शासकीय अवकाश दिया है। आज भगवान शिव नदिया बैला की पूजा की ओर अच्छे फसल की कामना की।

3- 13 sep 2022
4 - 13 sep 2022
1 -13 sep 22
2 - 13 sep 22

तीज त्योहार के मौके पर मायके आने वाली बहन-बेटियों के चेहरे पर खुशी और संतोष की जो मुस्कान नजर आती है, वही मुस्कान यहां हर महिला के चेहरे पर नजर आ रही है।

साज-सज्जा में छत्तीसगढ़ी संस्कृति की झलक

तीजा-पोरा तिहार के लिए पूरे मुख्यमंत्री निवास की पारम्परिक रूप में भव्य सजावट की गई है। मुख्य मंडप में प्रवेश के तीन द्वार बनाए गए हैं। मुख्य द्वार को पोरा पर्व के प्रतीक पारंपरिक नांदिया बैला से सजाया गया है। मुख्य द्वार के सामने पारम्परिक झूले-रईचुली, बैलगाड़ी, बस्तर जनजातीय आर्ट और छत्तीसगढ़ी जन-जीवन से जुड़े चित्रों का प्रदर्शन किया गया है। मध्य द्वार को पोरा पर्व से जुड़े पारम्परिक बर्तनों से बनाया गया है। मध्य और तीसरे द्वार के बीच की गैलरी को रंग-बिरंगे मटकों और रंगीन टोकनी के द्वारा आकर्षक कलेवर दिया गया है। तीसरे द्वार की सजावट पर सरगुजा अंचल की संस्कृति की छाप है।

ग्रामीण परिवेश की झलक और खूबसूरत सेल्फी जोन

मुख्य मंडल के पूर्वी हिस्से में छत्तीसगढ़ी ग्रामीण परिवेश को दर्शाते एक मिट्टी का घर बना है। इसकी साज-सज्जा में पोरा से जुड़े विभिन्न प्रतीकों का इस्तेमाल किया गया है। घर के द्वार पर तुलसी चौरा और नन्दी बनाए गए हैं। यहां ग्रामीण जीवन मे उपयोग में आने वाले बर्तन व अन्य वस्तुओं जैसे पोरा, कढ़ाही, सुराही, बेलन-चौकी, ढकना, बाल्टी, चूल्हा आदि के मिट्टी के छोटे प्रतीकों सहित लकड़ी के नागर, बैलगाड़ी का चक्का और झाड़ू रखे हैं। इस घर की खिड़की में भी सेल्फी ज़ोन बनाया गया है। घर के बगल में मंदिर बना है जहां रखे शिवलिंग की मुख्यमंत्री सहित वहां मौजूद महिलाओं ने पूजा-अर्चना की।

हाथों में मेहंदी, पैर में माहुर और चेहरे पर मुस्कान

मुख्यमंत्री निवास में माताओं बहनों ने यहां हाथों में मेहंदी सजाई और पैर में माहूर लगाया। यह माना जाता है जब बेटी अपने मायके आती है तो वह कुछ इसी तरह साज श्रृंगार कर तीजा के त्यौहार में शामिल होती है। इस दौरान उनके चेहरे पर एक अलग ही मुस्कान खिली नजर आ रही थी जो इस पूरे माहौल को और भी खूबसूरत बना रही थी।

भगवान शिव और नंदी बैल की पूजा

त्यौहार के लिए मुख्यमंत्री निवास को तिजहारिन महिलाओं का मायका बना दिया गया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनकी पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल ने महिला सांसदों-विधायकों और पूरे प्रदेश से आई माताओं बहनों के साथ भगवान शिव, नंदी बैल और चुकिया-पोरा की पूजा की और प्रदेश की खुशहाली के लिए कामना की।

फुगड़ी-कबड्डी और जलेबी दौड़ का उत्साह

तीजा-पोरा तिहार के मंडप में महिलाओं के बीच फुगड़ी जैसी प्रतियोगिताएं भी हुईं। इसमें महिलाओं के कई समूहों ने हिस्सा लिया। चम्मच दौड़, जलेबी दौड़, बोरा दौड़ की प्रतियोगिताओं ने प्रतिभागियों के साथ दर्शकों को भी खूब हंसाया।

बड़ी संख्या में महिला पत्रकार भी हुईं शामिल

मुख्यमंत्री निवास में आज आयोजित तीजा- पोरा उत्सव में बड़ी संख्या में प्रदेश की महिला पत्रकार भी शामिल हुईं। महिला पत्रकारों ने इस मौके पर उत्सव का आनंद लिया और कार्यक्रम की सराहना की।

महिला पत्रकारों ने कहा कि वास्तव में मुख्यमंत्री निवास का माहौल आज ऐसा प्रतीत हो रहा है, जैसे राज्य भर की बहुत सारी बहन- बेटियां अपने मायके में पधारी हों। उत्सव के दौरान महिलाओं के लिए दी गई व्यवस्थाओं की महिला पत्रकारों में सराहना की। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ी संस्कृति और रीति रिवाज के अनुरूप यहां सारी तैयारियां की गई हैं। तीजा उपवास के पहले दिन खाया जाने वाला कड़ू भात की भी व्यवस्था आयोजन के दौरान की गई थी।

रचना नितेश, अंकिता शर्मा, मोनिका दुबे, दामिनी बंजारे, खुशबू ठाकरे, निधि ठाकुर, निधि प्रसाद, रजनी ठाकुर, आकांशा तिवारी, आकांक्षा दुबे, अम्बिका मिश्र, तज़ीन नाज़, निशा द्विवेदी, रचना नितेश, अमृता शर्मा, रजनी पांडे, मोनिका, नेहा श्रीवास्तव, नेहा केसरवानी, शिवानी बर्मन कोमल धनेसर, दामिनी बंजारे, खुशबू ठाकरे सहित निधि सहित अन्य महिला पत्रकारों ने इस कार्यक्रम में शामिल होकर उत्सव की शोभा बढ़ाई।

Share This Now :
Continue Reading

RO-NO-12141/77

RO-NO-12111/80





RO-NO-12078/75

Advertisement

Advertisement

Advertisement Sahni Amritsari Kulche

Chhattisgarh Trending News

क्राइम1 hour ago

10 लाख 65 हजार की ठगी, डीडी नगर थाने में शातिर के खिलाफ हुई FIR

रायपुर। राजधानी में फिर एक आनलाइन धोखाधड़ी हो गई। क्रेडिट कार्ड बंद होने का झांसा देकर 24 घंटे में 10...

राजनीति1 hour ago

खनिज न्यास मद के राज्य स्तरीय निगरानी समिति की हुई बैठक

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में उनके निवास कार्यालय में खनिज न्यास मद के राज्य स्तरीय निगरानी समिति की...

राज्य एवं शहर1 hour ago

पुलिस की “कांबिंग गस्त”: 68 संदिग्धों पर हुई कार्रवाई, 45 वाहन चालकों का कटा चालान

रायगढ। एसपी अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन पर शहर के थाना, चौकी के अलावा नजदीकी थानों से करीब 200 जवान...

क्राइम1 hour ago

30 वारंटी के साथ 7 चोर गिरफ्तार, देर रात पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई

रायगढ़। 30 वारंटी के साथ 7 चोरों को गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के मुताबिक चक्रधरनगर पुलिस द्वारा जमुना इन...

Special News1 hour ago

5 दिन में मिले डायरिया के 200 मरीज, 75% हुए स्वस्थ

धमतरी। कुरूद ब्लॉक के मड़ेली में धीरे-धीरे हालात सुधर रहे हैं। शनिवार को उल्टी-दस्त के 11 मरीज मिले। जिनमें से...

Advertisement

CONNECT WITH US :

Country News Today Exclusive3 weeks ago

MLNC Enactus के प्रोजेक्ट ‘स्नेह’ द्वारा रियूजेबल कपड़े के डायपर उत्पादन से पर्यावरण बचाव के साथ-साथ मिला रहा रोजगार ; जानिए क्या है खासियत?

क्राइम1 month ago

शर्मनाक : रायपुर में नाबालिग ने की अमानवीयता की सारे हदें पार, 5 कुत्तों के ऊपर फेंका एसिड, 2 की मौत, वीडियो आया सामने

क्राइम1 month ago

CG BREAKING : रायपुर के तेलीबांधा तालाब में कूदकर आत्महत्या करने वाले युवक की लाश बरामद ; देखिए वीडियो

बॉलीवुड तड़का - Entertainment1 month ago

MMS Scandal : एमएमएस लीक कांड पर कच्चा बादाम फेम अंजली अरोरा की तीखी प्रतिक्रिया, अभद्र भाषा इस्तेमाल करते हुए कह डाली ये बात : देखिए वीडियो

राज्य एवं शहर1 month ago

CG : दुर्ग में शिवनाथ नदी खतरे के निशान से 15 फीट ऊपर, कई गांव डूबे, शहर में भी घुसा पानी, SDRF ने किया रेस्क्यू ; 4 साल पहले बना पुल धंसा : देखिए वीडियो

Top 10 News

Must Read

Special News1 hour ago

नवरात्रि पर भक्तों के लिए तैयार हुआ वैष्णो देवी का दरबार, तीन लाख से ज्यादा श्रद्वालुओं की पहुंचने की उम्मीद

 जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले की त्रिकूटा पहाड़ियों पर स्थित वैष्णो देवी का भवन सोमवार से शुरू हो रही नवरात्रि पर...

Special News1 hour ago

अब इंस्टाग्राम पर कोई भी नहीं देख पाएगा आपकी प्राइवेट फोटोज, आया एक और नया फीचर

लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम (Instagram) एक नए फीचर पर काम कर रहा है। इस फीचर की सहायता से आपके...

Career1 day ago

Horoscope Today 24 September: मिथुन, सिंह, मीन राशि वालों को हो सकती है हानि, सभी राशियों का जानें आज का राशिफल

Horoscope Today 24 September 2022, Daily Horoscope, Aaj Ka Rashifal: आज का राशिफल सभी राशियों के लिए विशेष है. शनिवार का...

Special News2 days ago

कार्तिक आर्यन रात में कर रहे ‘सत्य प्रेम की कथा’ की शूटिंग, शेयर किया खास पोस्ट

Kartik Aaryan Shooting Satya Prem Ki Katha: कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) का नाम हर तरफ छाया हुआ है। कार्तिक आर्यन सिनेमा...

Special News2 days ago

घुटने का दर्द होगा गायब, डाइट में शामिल करें ये एंटी-इंफ्लेमेटरी फूड

Anti-Inflammatory Foods For Knee Pain – घुटने का दर्द अब एक आम समस्‍या बन चुकी है. ज्‍वाइंट्स पेन का मुख्‍य कारण...

Advertisement
Advertisement

Trending